Home » देश » कनाडा के इतिहास में सबसे बड़ी चोरी में शामिल भारतीय मूल का आरोपी सरेंडर करने की तैयारी कर रहा है

कनाडा के इतिहास में सबसे बड़ी चोरी में शामिल भारतीय मूल का आरोपी सरेंडर करने की तैयारी कर रहा है

By SHUBHAM SHARMA

Published on:

Follow Us
Gold Canada India News
कनाडा के इतिहास में सबसे बड़ी चोरी में शामिल भारतीय मूल का आरोपी सरेंडर करने की तैयारी कर रहा है

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

कनाडा के इतिहास में सबसे बड़ी चोरी के मामले में भारतीय मूल के आरोपी सिमरन प्रीत पनेसर ने कनाडाई ब्रॉडकास्टिंग कॉर्प (CBC) को बताया कि वे खुद को अधिकारियों के हवाले करने की योजना बना रहे हैं। एयर कनाडा के पूर्व प्रबंधक पनेसर ने शुक्रवार को खुलासा किया कि वह न्याय प्रणाली पर पूरा भरोसा रखते हैं और उम्मीद करते हैं कि जांच पूरी होने के बाद वे किसी गलत काम में शामिल नहीं पाए जाएंगे। पनेसर के वकील ग्रेग लाफोंटेन ने बताया कि फिलहाल वे देश से बाहर हैं, लेकिन जल्द ही कनाडा लौटकर सरेंडर करेंगे।

चोरी का विवरण और पुलिस की कार्यवाही

यह चोरी 17 अप्रैल 2024 को हुई थी, जब चोरों ने 6,600 शुद्ध गोल्ड बार्स और 25 लाख कनाडाई डॉलर से भरे 400 किलो के कंटेनर को स्टोरेज फैसिलिटी से चुरा लिया था। यह कंटेनर स्विट्जरलैंड के ज्यूरिख एयरपोर्ट से टोरंटो एयरपोर्ट लाया गया था और कड़ी सुरक्षा के बीच कार्गो से उतारकर रखा गया था। अगले दिन पुलिस को पता चला कि सोना और कैश गायब हैं।

कनाडा पुलिस ने इस मामले में अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया है और तीन अन्य की तलाश जारी है। आरोपियों में एयर कनाडा के दो कर्मचारी भी शामिल हैं, जिन पर स्विट्जरलैंड से आने वाले 6,600 सोने की छड़ें (करीब 400 किलो) चुराने का आरोप है। पुलिस का कहना है कि चोरों ने एयरवे बिल में भी जालसाजी की थी, जिससे उन्हें यह चोरी करने में मदद मिली।

आरोपी सिमरन प्रीत पनेसर का बयान

सिमरन प्रीत पनेसर ने CBC को बताया कि वह इस मामले में खुद को निर्दोष मानते हैं और उन्हें न्याय प्रणाली पर पूरा भरोसा है। उनके वकील ग्रेग लाफोंटेन ने कहा कि पनेसर फिलहाल देश से बाहर हैं, लेकिन वे जल्द ही कनाडा लौटकर सरेंडर करेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि पनेसर को उम्मीद है कि जांच पूरी होने के बाद वह किसी गलत काम में शामिल नहीं पाए जाएंगे।

पुलिस की जांच और अन्य गिरफ्तारियां

पुलिस ने अब तक छह लोगों को गिरफ्तार किया है और तीन अन्य की तलाश जारी है। गिरफ्तार किए गए लोगों में एयर कनाडा के दो कर्मचारी भी शामिल हैं। पुलिस का कहना है कि उन्होंने चोरी की इस घटना के लिए एयरवे बिल में जालसाजी की थी, जिससे उन्हें यह चोरी करने में मदद मिली। पुलिस ने यह भी बताया कि वे इस मामले में अन्य संदिग्धों की तलाश में जुटी हुई है और जल्द ही और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

सोने की चोरी का व्यापक असर

इस चोरी ने न केवल कनाडा में बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी सुर्खियाँ बटोरी हैं। इस घटना ने एयरलाइन और एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्थाओं पर गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। एयर कनाडा और अन्य संबंधित संस्थाओं ने इस घटना के बाद अपनी सुरक्षा प्रक्रियाओं की समीक्षा शुरू कर दी है। सुरक्षा विशेषज्ञों का मानना है कि इस प्रकार की घटनाओं से बचने के लिए और भी कठोर सुरक्षा उपाय अपनाने की आवश्यकता है।

कनाडा के न्याय प्रणाली में विश्वास

सिमरन प्रीत पनेसर के वकील ग्रेग लाफोंटेन ने यह स्पष्ट किया है कि पनेसर न्याय प्रणाली पर पूरा भरोसा रखते हैं और उन्हें उम्मीद है कि जांच पूरी होने के बाद सच्चाई सामने आएगी। वकील का कहना है कि पनेसर जल्द ही कनाडा लौटकर अधिकारियों के सामने सरेंडर करेंगे और न्यायिक प्रक्रिया का सामना करेंगे।

आने वाले कदम और कानूनी प्रक्रियाएँ

पनेसर के सरेंडर करने के बाद, उनकी गिरफ्तारी और उनसे पूछताछ की जाएगी। पुलिस और न्यायिक अधिकारियों द्वारा इस मामले की गहन जांच की जाएगी ताकि चोरी की पूरी योजना और इसमें शामिल सभी लोगों का पता लगाया जा सके। कानूनी प्रक्रियाओं के तहत, पनेसर और अन्य आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा और उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी।

SHUBHAM SHARMA

Khabar Satta:- Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Leave a Comment

HOME

WhatsApp

Google News

Shorts

Facebook