Prashant Bhushan: सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में प्रशांत भूषण दोषी करार

Prashant Bhushan: सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में प्रशांत भूषण दोषी करार

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के कामकाज पर अक्सर तीखी टिप्पणियां करने वाले वकील प्रशांत भूषण को कोर्ट ने अवमानना का दोषी करार दिया है. कोर्ट ने अपने फैसले में प्रशांत भूषण को कोर्ट की अवमानना का दोषी बताया है और कहा है कि इस मामले में सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को होगी.

- Advertisement -

बता दें कि वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने देश के सर्वोच्च न्यायलय और मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबड़े के खिलाफ ट्वीट किया था, जिस पर स्वत: संज्ञान लेकर कोर्ट ने ये कार्यवाही की है. इस मामले पर आज तीन जजों की बेंच ने ये फैसला सुनाया है.

27 जून को प्रशांत भूषण ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ और दूसरा ट्वीट मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबड़े के खिलाफ किया था. 22 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट की ओर से प्रशांत भूषण को नोटिस जारी किया गया था.

- Advertisement -

प्रशांत भूषण को 2 ट्वीट के लिए भेजा गया था नोटिस 

प्रशांत भूषण को 2 ट्वीट के लिए नोटिस भेजा गया था. एक ट्वीट में उन्होंने पिछले 4 चीफ जस्टिस पर लोकतंत्र को तबाह करने में भूमिका निभाने का आरोप लगाया था. दूसरे ट्वीट में उन्होंने बाइक पर बैठे मौजूदा चीफ जस्टिस की तस्वीर पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. सुप्रीम कोर्ट ने मामले में ट्विटर को भी पक्षकार बनाते हुए जवाब दाखिल करने को कहा था.

- Advertisement -

28 जून को चीफ जस्टिस एस ए बोबड़े की एक तस्वीर सामने आई थी. इसमें वो महंगी बाइक पर बैठे नज़र आ रहे थे. बताया जाता है कि मोटर बाइक के बेहद शौकीन जस्टिस बोबड़े अपने गृह नगर नागपुर में एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान, वहां खड़ी एक महंगी बाइक पर बहुत थोड़े समय के लिए बैठे थे. रिटायरमेंट के बाद अच्छी बाइक खरीदने की उनकी इच्छा की जानकारी मिलने पर एक स्थानीय डीलर ने उन्हें दिखाने के लिए ये बाइक भेजी थी. इस तस्वीर पर प्रशांत भूषण ने टिप्पणी की थी कि CJI ने सुप्रीम कोर्ट को आम लोगों के लिए बंद कर दिया है और खुद बीजेपी नेता की 50 लाख रुपये की बाइक चला रहे हैं.

यह भी पढ़े :  PM मोदी ने बिहार को दी बड़ी सौगात, बोले- अब एक क्लिक में दुनिया समझेंगे ग्रामीण
यह भी पढ़े :  Punjab: डेराबस्सी में दुकान की छत गिरी, 4 की मौत

वकील माहेक माहेश्वरी ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी याचिका 

मध्य प्रदेश के गुना के रहने वाले एक वकील माहेक माहेश्वरी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर इस ट्वीट की जानकारी दी थी. उन्होंने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के बंद होने का दावा झूठा है. चीफ जस्टिस पर किसी पार्टी के नेता से बाइक लेने का आरोप भी गलत है. प्रशांत भूषण ने जानबूझकर तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया और लोगों की नज़र में न्यायपालिका की छवि खराब करने की कोशिश की. इसके लिए उन्हें कोर्ट की अवमानना का दंड मिलना चाहिए.

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

10,785FansLike
7,044FollowersFollow
566FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

Sanik School Rewa: मध्यप्रदेश में 10वीं पास के लिए भर्तियां, Notification यहाँ पढ़े

Sanik School Rewa: मध्यप्रदेश में 10वीं पास के लिए भर्तियां, Notification इस पोस्ट के अंत में दी...
यह भी पढ़े :  Gold Price Today: सोने की वायदा कीमतों में गिरावट, चांदी भी टूटी, जानिए भाव

MP PEB : Jail Prahari Exam Date 2020 में बदलाव, New EXAM DATE यहाँ CHECK करें

MP PEB UPDATES: PEB के द्वारा जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा (MP Jail Prahari) की परीक्षा तिथि (Exam Date) में बदलाव किया गया...

सिवनी कोरोना न्यूज़: सिवनी जिले में मिले 39 नए कोरोना पाॅजीटिव मरीज

सिवनी : सिवनी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ के.सी. मेशराम द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि 39 नए कोरोना पॉजिटिव...

सौर संयंत्र की स्थापना करने के इच्छुक कृषकों से ऑनलाईन सहमति आमंत्रित

सिवनी : जिला अक्षय ऊर्जा अधिकारी द्वारा जानकारी दी गई कि कृषकों के आर्थिक विकास के लिए प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं...

NEET 2020 Answer Key: आंसर की ntaneet.nic.in पर जारी

NTA NEET 2020 Answer Key: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने आज 26 सितंबर को NEET 2020 एग्‍जाम की आंसर की जारी कर...
x