Thursday, December 8, 2022
Homeसंपादकीयसैनिटाइजर लगाकर दिया,मोमबत्ती ना जलाये,लग सकती है आग!

सैनिटाइजर लगाकर दिया,मोमबत्ती ना जलाये,लग सकती है आग!

कोरोना वायरस के खतरे की वजह से बहुत से लोग हैंड सैनिटाइजर का इस्‍तेमाल कर रहे हैं। अधिकतर हैंड सैनिटाइजर में कम से कम 60 फीसदी अल्‍कोहल होता है। ऐसे में इसके इस्‍तेमाल में सावधानी बहुत जरूरी है।

- Advertisement -

Dr. Srishti Sahu, Physiotherapist | कोरोना वायरस के खौफ के चलते हैंड सैनिटाइजर के इस्‍तेमाल में भारी इजाफा हुआ है। लोग बिना उससे जुड़ी सावधानियों को समझे धड़ल्‍ले से सैनिटाइजर यूज कर रहे हैं। आइए जानते हैं कि क्‍यों हैंड सैनिटाइजर का इस्‍तेमाल सावधानी से करना जरूरी है।

सैनिटाइजर से खतरा कैसे?
चूंकि हैंड सैनिटाइजर्स में कम से कम 60 पर्सेंट अल्‍कोहल होता है, ऐसे में वे बेहद ज्‍वलनशील होते हैं यानी उनमें बड़ी तेजी से आग लगती है। डॉक्‍टर्स सलाह देते हैं कि सैनिटाइजर्स को ऐसी जगह के पास इस्‍तेमाल ना करें जहां आग लगने की संभावना हो जैसे- रसोई गैस, लाइटर, माचिस आदि। सैनिटाइजर्स को पर्याप्‍त मात्रा में इस्‍तेमाल करें और फिर उसे सूख जाने दें।

- Advertisement -

PM MODI की अपील पर दिये मोमबत्ती जरूर जलाये पर उससे पहले सैनिटाइजर का उपयोग ना करें
बता दें कि पीएम मोदी ने लोगों से अपील की,’ इस रविवार 5 अप्रैल को सबको मिलकर, कोरोना के संकट के अंधकार को चुनौती देनी है, उसे प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है. इस 5 अप्रैल को हमें, 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है. घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं. और उस समय यदि घर की सभी लाइटें बंद करेंगे, चारों तरफ जब हर व्यक्ति एक-एक दीया जलाएगा, तब प्रकाश की उस महाशक्ति का ऐहसास होगा, जिसमें एक ही मकसद से हम सब लड़ रहे हैं, ये उजागर होगा.” इसीलिए दिए और मोमबत्ती जलाने से पहले सैनिटाइजर की जगह साबुन का इस्तमाल करें.

कैसे इस्‍तेमाल करें सैनिटाइजर?
अगर आपके हाथ गंदे हों तो सैनिटाइजर ना इस्‍तेमाल करें। पहले साबुन और पानी से हाथ धो लें। हैंड सैनिटाइजर में मौजूद अल्‍कोहल तभी काम करता है जब आपके हाथ सूखे हों। ऐसे में आप सैनिटाइजर की दो-तीन बूंद लें और उसे अपने हाथों पर रगड़ें। उंगलियों के बीच में सफाई करें और हथेलियों के पीछे भी लगाएं। सूखने से पहले सैनिटाजर को ना पोछें, ना ही धोएं।

- Advertisement -

सैनिटाइजर से बेहतर है साबुन
सैनिटाइजर का इस्तेमाल वहीं करें जहां साबुन और पानी न हो। घर पर रहने के दौरान चार से पांच बार साबुन से 20 सेकंड तक हाथ धोना चाहिए। घर से बाहर निकलने पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च बताती है कि सैनिटाइजर कोरोना वायरस से लड़ने में साबुन जितना कारगर नहीं है। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए वही सैनिटाइजर असरदार होगा जिसमें अल्कोहल की मात्रा अधिक होगी। घरों में इस्तेमाल होने वाला साबुन सैनिटाइजर के मुकाबले ज्यादा असरदार है।

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharmahttps://shubham.khabarsatta.com
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments