Place Your Ad Here

Vastu Tips: सावन में करें ये काम, घर में आएगी खुशहाली

By Ranjana Pandey

Published on:

Follow Us

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

डेस्क।हिंदू धर्म में सावन के महीने का बहुत महत्व है. ये पावन महीना भगवान शिव को समर्पित है. भगवान शिव को पाने का एकमात्र तरीका भक्ति है. इसलिए कहा जाता है कि सावन के महीने में पूरी श्रद्धा के साथ भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति की हर मनोकामना पूरी होती है.

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, श्रावण मास में किए गए कुछ विशेष कार्य करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है. इस बार सावन का महीना अपने साथ कई शुभ संयोग लेकर आया है. ऐसे में वास्तु के अनुसार, अगर कुछ कार्य कर लिए जाएं तो इससे सेहत ही नहीं आर्थिक स्थिति में भी सुधार आ सकता है. माना जाता है कि वास्तु में व्यक्ति की हर मुश्किल का हल छिपा हुआ है. ऐसे में खराब वास्तु, वास्तु दोष का कारण बन सकता है. इससे व्यक्ति के जीवन में कई तरह की समस्याएं आ सकती हैं. तो आइए जानते हैं सावन के पावन महीने में कौन से ऐसे कार्य करने चाहिए जिससे आपकी सेहत ही नहीं बल्कि आर्थिक स्थिति भी सुधर जाएगी।


सावन का महीना भगवान शिव का प्रिय महीना है. वास्तु के अनुसार, सावन के महीने में रूद्राक्ष धारण करने से मानसिक तनाव दूर होता है. ऐसा करने से ह्रदय से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं. रूद्राक्ष धारण करने से जीवन में नकारात्मकता दूर होती है और सकारात्मकता का संचार होता है. वास्तु के अनुसार, पंचमुखी रूद्राक्ष धारण करने से स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है.

वास्तु के अनुसार, सावन के महीने में आर्टिफिशियल वाटर फाउंटेन लगवा सकते हैं. इसके अलावा, घर की पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा में जल का स्रोत लगवा सकते हैं. ऐसा करने से घर की सभी नकारात्मकता ऊर्जा दूर होगी. इससे घर-परिवार में सुख-शांति और सौभाग्य में वृद्धि होगी.


घर में तुलसी का पौधा लगना शुभ माना जाता है. वास्तु के अनुसार, सावन के महीने में घर की उत्तर दिशा में तुलसी का पौधा लगाना शुभ माना जाता है. ऐसा करने से घर-परिवार में खुशहाली बनी रहती है और आर्थिक स्थिति में भी सुधार आता है. माना जाता है कि कुंवारी कन्याएं अगर सावन में तुलसी का पौधा लगाएं तो उनके विवाह के योग जल्दी बनते हैं.

सावन के महीने में पति-पत्नी एक साथ भगवान शिव की पूजा-अर्जना कर पंचामृत से अभिषेक करें. ऐसा करने से दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी. इसी के साथ वैवाहिक जीवन में आ रही परेशानियां भी समाप्त होंगी.

सावन के महीने में वास्तु के अनुसार, घर की पूर्व दिशा में भगवान शिव के अर्द्धनारीश्वर स्वरूप की प्रतिमा स्थापित करना शुभ माना जाता है. ऐसा करने से वैवाहिक जीवन में प्रेम बढ़ता है. माना जाता है कि ऐसा करने से भगवान शिव और मां पार्वती की कृपा से निसंतान लोगों को संतान की प्राप्ति हो सकती है.

सावन के महीने में एक लोटे में जल लें. इसमें थोड़े काले तिल डालकर प्रतिदिन शिवलिंग का अभिषेक करें. माना जाता है कि ऐसा करने से सेहत अच्छी रहती है और शारीरिक कष्ट समाप्त होते हैं.


धतूरा भगवान शिव को अर्पित किया जाता है. वास्तु के अनुसार, सावन में धतूरे का पौधा लगाने से शत्रु परास्त होते हैं. ऐसा करने से शरीर स्वस्थ रहता है और जीवन में खुशहाली आती है.

वास्तु के अनुसार, सावन के सोमवार को शिवलिंग पर अनार के रस से अभिषेक करें. ऐसा करने से आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और धन संबंधी समस्याएं दूर होंगी.

वास्तु के अनुसार, सावन के किसी भी एक सोमवार को शिवलिंग पर सरसों के तेल का रुद्राभिषेक करें. ऐसा करने से घर-परिवार में खुशहाली आती है और सेहत भी अच्छी बनी रहती है.

Place Your Ad Here

Leave a Comment