Sunday, January 29, 2023
HomeविदेशCovid 19: …तो मरेंगे 21 लाख लोग, रिपोर्ट से चौंकाने वाली जानकारी...

Covid 19: …तो मरेंगे 21 लाख लोग, रिपोर्ट से चौंकाने वाली जानकारी जबकि चीन में कोरोना जोर पकड़ रहा है

Covid 19: … then 21 lakh people will die, shocking information from the report while Corona is gaining momentum in China

- Advertisement -

चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप के संकेत मिल रहे हैं और यह पूरी दुनिया में चिंता का कारण बन रहा है। अनाधिकारिक तौर पर कहा जा रहा है कि चीन में कोरोना मरीजों की संख्या में भारी इजाफा हुआ है. 

इस बीच कम टीकाकरण और प्रतिरोधक क्षमता की कमी की पृष्ठभूमि में अगर चीन द्वारा अपनाई गई ‘जीरो कोविड’ नीति में ढील दी जाती है तो 10 से 20 लाख लोगों की जान जोखिम में पड़ सकती है। रिपोर्ट लंदन स्थित वैश्विक स्वास्थ्य सेवा कंपनी एयरफिनिटी द्वारा जारी की गई थी।

- Advertisement -

“चीन में लोगों की प्रतिरोधक क्षमता बहुत कम है। वहां के नागरिकों को स्थानीय रूप से निर्मित सिनोवैक और सिनोफार्म टीके दिए गए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है, “ये टीके संक्रमण और मृत्यु को रोकने में उतने प्रभावी नहीं हैं।”

रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि चीन की शून्य-कोविड नीति का अर्थ है कि इसकी आबादी ने पिछले संक्रमणों से कोई प्राकृतिक प्रतिरक्षा विकसित नहीं की है।

- Advertisement -

“अगर फरवरी में हॉन्ग कॉन्ग में आई कोरोना जैसी लहर चीन में आती है, तो स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा जाएगी और देश भर में 16 से 27 करोड़ मामले हो सकते हैं। इसके परिणामस्वरूप 13 से 21 लाख लोगों की मौत हो सकती है।’

एयरफिनिटी के डॉ लुईस ब्लेयर ने कहा है कि “चीन को शून्य कोविड नीति को समाप्त करने से पहले टीकाकरण में तेजी लाने और प्रतिरक्षा का निर्माण करने की आवश्यकता है। वरिष्ठ नागरिकों की संख्या को देखते हुए इसकी अधिक आवश्यकता है। साथ ही भविष्य में कोरोना संकट का सामना करने के लिए नागरिकों में हाईब्रिड इम्युनिटी पैदा की जाए।

- Advertisement -

चीन में स्वास्थ्य प्रशासन ने सोमवार को जानकारी दी है कि बीजिंग के दो नागरिकों की कोरोना वायरस से मौत हो गई है. चीन में 4 दिसंबर के बाद से कोरोना वायरस से किसी की मौत नहीं हुई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, इन मौतों के साथ, पिछले तीन वर्षों में चीन में कोविड-19 के कारण होने वाली मौतों की कुल संख्या बढ़कर 5,237 हो गई है। चीन में अब तक कुल 380 हजार 453 कोरोना मरीज सामने आ चुके हैं।

नए साल में भीड़ की चिंता, अपर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाएं

चंद्र नव वर्ष की शुरुआत को चिह्नित करने के लिए जनवरी में चीन जाने वाले यात्रियों की संख्या में वृद्धि होगी। इस दौरान प्रवासी श्रमिक अपने गृहनगर लौटेंगे। इस दौरान भीड़ में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा रहता है। साथ ही छोटे शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं पर भी दबाव रहेगा। इन सुविधाओं की कमी से प्रशासन चिंतित है। शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में अस्पतालों की संख्या में वृद्धि हुई है। लेकिन चिकित्साकर्मियों की संख्या पर्याप्त नहीं है। सभी स्वास्थ्य कर्मियों को सेवा में शामिल होने का आदेश दिया गया है। केवल बीमार कर्मचारियों को छूट दी गई है। स्वास्थ्य प्रणाली पर दबाव कम करने के लिए नागरिकों से आग्रह किया जा रहा है कि जब तक वे गंभीर रूप से बीमार न हों, अस्पताल न जाएं।

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharmahttps://shubham.khabarsatta.com
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments