अवैध हथियार बेचते SEONI का युवक छिंदवाडा में धराया! CHHINDWARA NEWS

0
713
15 हजार में कट्टा, 30 में बेच रहे थे पिस्टल | Chhindwara News | प्रतीकात्मक फोटो

15 हजार में कट्टा, 30 में बेच रहे थे पिस्टल

छिंदवाड़ा । छिंदवाड़ा (Chhindwara) में अवैध हथियारों के कारोबार पर पुलिस की वक्र दृष्टि पड़ गयी है। छिंदवाड़ा पुलिस (Chhindwara police) ने गत दिवस अवैध रूप से अस्त्र शस्त्र बेचने वालों को धर दबोचा है। इसमें सिवनी के हड्डी गोदाम निवासी एक युवक को भी पकड़ा गया है। माना जा रहा है कि इनसे पूछताछ में सिवनी में भी अवैध हथियारों के बेचे जाने का खुलासा हो सकता है।

पुलिस अधीक्षक मनोज राय के द्वारा पत्रकार वार्ता में पुलिस के द्वारा 22 शस्त्रों की बरामदगी की जानकारी दी गयी। इनमें 14 पिस्टल, आधा दर्जन कट्टे और 02 रिवॉल्वर शामिल हैं। इसके साथ ही लगभग 160 जिंदा कारतूस भी पुलिस ने बरामद किये हैं।अवैध हथियारों के सामने आने के बाद एसपी ने सीएसपी अशोक तिवारी व कोतवाली टीआई विनोद सिंह कुशवाह को जाँच के आदेश दिये।

सीएसपी, कोतवाली टीआई व कुण्डीपुरा टीआई राजेश सिहं चौहान के नेत्तृत्व में पुलिस दल ने जाँच आरंभ की तो पता चला की चांदामेटा निवासी इमरान आलम (38) उर्फ चैन पिता इकबाल आलम अवैध हथियारों के कारोबार में लिप्त है।

पुलिस ने इस आरोपी को हिरासत मंे लेकर पूछताछ की और इसके घर की तालाशी ली तो आरोपी के घर से हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है। आरोपी से पूछताछ में अन्य चार लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर उनके पास से भी पिस्टल व कट्टे बरामद किये हैं। पाँचों आरोपियों के खिलाफ धारा 25, ए आयुध अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

यह भी पढ़े :  विद्यालय का संचालन संतोषजनक नहीं पाये जाने पर प्राचार्य को दिया गया नोटिस

बुरहानपुर, खरगौन और यूपी से हथियारों की तस्करी : जिले में हथियारों की खेप बुरहानपुर, खरगौन और उत्तर प्रदेश से हो रही थी। आरोपी इमराम आलम उत्तर प्रदेश के मैनपुरी और एमपी के खरगौन व बुरहानपुर से हथियार खरीदकर छिंदवाड़ा जिले सहित सिवनी और आसपास के जिलों में सप्लाई कर रहा था। अन्य आरोपी इमरान से हथियार खरीदते थे।

हथियार बनाने और सुधारने का काम भी :
पकड़े गये इमरान के घर से पुलिस को पिस्टल बनाने और उन्हें सुधारने की सामग्री भी मिली है। उसके घर से 08 पिस्टल, 02 रिवॉल्वर, 04 कट्टे 12 बोर, 66 पिस्टल के कारतूस, और 12 बोर के 40 कारतूस बरामद हुए हैं। अन्य पिस्टल व कारतूस दूसरे आरोपियों के पास मिले हैं।

दो कारतूस फ्री, 100 रुपये एक कारतूस की कीमत :
हथियारों के सौदागर बाहर से हथियार लाकर उन्हें जिले में या अन्य जिलों में 15 हजार से 30 हजार तक में बेचते थे। 12 बोर कट्टे की कीमत 12 हजार से 18 हजार तक थी और पिस्टल 30 तक में बेची जा रही थी। हथियार के साथ 02 कारतूस फ्री दिये जाते थे। अलग से कारतूस लेने पर एक कारतूस की कीमत 100 रुपये थी।

ये आरोपी हुए गिरफ्तार :
पुलिस ने इमरान के साथ धरम सिंह उर्फ राज (34) पिता सहस राम मालवी निवासी पलटवाड़ा चौरई, शेख मुश्ताक (54) पिता नूर मोहम्मद निवासी हड्डी गोदाम सिवनी, अम्बिका दुबे (22) पिता त्रिलोक नाथ दुबे निवासी लाल बाग छिंदवाड़ा और जुबैर उर्फ बादशाह (28) पिता सफी कुरैशी निवासी भैय्याजी की दरगाह के सामने छिंदवाड़ा को गिरफ्तार किया है। आरोपियों को पुलिस ने पूछताछ के लिये रिमाण्ड पर ले लिया है।

यह भी पढ़े :  सिवनी नेताजी स्कूल बनेगा अंतर्राष्ट्रीय स्तर का ,अत्याधुनिक सुविधाओं से होगा लैस

हथियार कौन-कौन बेच रहा है यह पता लगाया है, साथ ही जिले में हथियार के खरीददार कौन हैं, इस बारे में भी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है.
मनोज राय, पुलिस अधीक्षक, छिंदवाड़ा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.