सिवनी: शादी के 4 महीना में नवविवाहिता नहीं चाह रही थी संतान, झोलाछाप डॉक्टर की दवा से बिगड़ी हालत; अस्पताल में भर्ती

Seoni: In 4 months of marriage, the newlyweds were not wanting children, the condition worsened due to the medicine of the quacks; admitted to hospital

Must read

Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
- Advertisement -

सिवनी। गांव के झोलाछाप डॉक्टरों के चुंगल में फंस कर मरीज का उपचार होना तो दूर बल्कि गलत उपचार से मरीजों की जान पर बन जाना अब आम बात हो गई है। सिवनी जिले के अनेक गांव में झोलाछाप मनमाने तरीके से मरीज का उपचार कर अपनी संपत्ति बनाने में जुटे हैं।

वहीं इस मामले में सीएमएचओ को शिकायत करने के बाद भी गांव-गांव फैले झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्यवाही नहीं हो रही है। विकासखंड बरघाट के गांव केसली में 23 वर्षीय विवाहिता का विवाह पिछले 4 माह पहले हुआ था वही वर्तमान में नवविवाहिता को जब यह एहसास हुआ कि उसे 3 माह का समय बढ़ गया है।

- Advertisement -

जल्दी संतान की अनिच्छा के चलते नवविवाहिता बरघाट के गांव गोंडेगांव पहुंची। जहां गोंडेगांव के झोलाछाप डॉक्टर ने उक्त महिला को ऐसी दवा दी कि उसे ब्लडिंग शुरू हो गई।

सोमवार को नवविवाहिता की जब तबीयत ज्यादा बिगड़ने लगी तो परिजन आनन-फानन में उसे उपचार कराने के लिए बरघाट स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार कर जिला चिकित्सालय सिवनी रेफर कर दिया।

- Advertisement -

इस मामले में बरघाट थाना प्रभारी प्रसन्न शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि बरघाट के गांव मोहगांव निवासी वंदना का विवाह 4 महीना पहले गांव केसली निवासी शिवकुमार इनवाती से हुआ। वही वंदना को 3 माह का समय पीरियड बढ़ने पर वह संतान होने की अनिच्छा के चलते गोंडेगांव स्थित एक कथित झोलाछाप डॉक्टर भोयर के पास पहुंची।

जहां उक्त डॉक्टर ने इलाज के दौरान जो दवाई दी उसे से उसके सेवन के बाद नवविवाहिता की ब्लडिंग शुरू हो गई जो रुकने का नाम नहीं ले रही थी।

- Advertisement -

वंदना की तबीयत खराब देख परिजन परेशान हुए और उपचार के लिए सोमवार को बरघाट अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उपचार के बाद सोमवार को दोपहर जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। जिला चिकित्सालय के प्रसूति वार्ड में महिला को भर्ती किया गया है जहां उसका उपचार जारी है।

वहीं इस मामले में बरघाट थाना प्रभारी शर्मा ने बताया कि नव विवाहिता द्वारा दिए गए बयान से कथित झोलाछाप डॉक्टर भोयर के उपचार की बात सामने आ रही है सभी मामले में पूछताछ कर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

वहीं इस मामले में नवविवाहिता वंदना की मां गीता उईके ने बताया कि बरघाट अस्पताल में इलाज कराने ले गए थे जहां उपचार हुआ, वही डॉक्टरों द्वारा जिला अस्पताल रेफर कर दिए जाने से सोमवार की शाम को जिला अस्पताल उपचार कराने लेकर वंदना को यहां लेकर आए हैं।

- Advertisement -

Latest article