सिवनी TI द्वारा मारपीट कर झूठा प्रकरण बनाया गया : पीड़ित

0
613

रात में पकड़े गये युवकों ने लगाये झूठा प्रकरण बनाने के आरोप

सिवनी । (अभिषेक बघेल ) बीति रात कोतवाली पुलिस के द्वारा कथित रूप से नशे की हालत में पकड़े गये दो युवाओं के द्वारा नगर कोतवाल और कोतवाली पुलिस पर मारपीट कर झूठा प्रकरण बनाये जाने के आरोप लगाये गये हैं।

शांतानु उर्फ मोनू गुरूंग (22) पिता राम कुमार गुरूंग निवासी बारापत्थर के द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार 03 और 04 जुलाई की दरमियानी रात वे अपने मित्र शशांक तिवारी के साथ उसके पिता के सिर पर चोट लग जाने के कारण देखने गये थे। शशांक के पिता का उपचार कराया जाकर उन्हें घर भेज दिया गया था।

विज्ञप्ति के अनुसार इसके बाद वे रात बारह से 01 बजे के बीच शशांक के पिता की दवाई लेने बस स्टैण्ड गये हुए थे। इसी दौरान पुलिस के द्वारा उन्हें पकड़कर थाने ले जाया गया। उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके द्वारा दवाई लेने के उद्देश्य से बस स्टैण्ड जाया गया था, पर उनकी एक बात नहीं सुनी गयी।

विज्ञप्ति के अनुसार इसके बाद उन्हें जबरन जिला चिकित्सालय ले जाया गया जहाँ उन्हें बाहर ही रखकर कुछ कागज़ तैयार करवाये गये और इसके बाद उन दोनों को थाने ले जाया गया। इसके बाद थाने में उनके साथ लाठियों और लात घूसों से उनकी पिटाई की गयी।

यह भी पढ़े :  CORONAVIRUS के संक्रमण से बचाव हेतु मानस भवन सिवनी में लगाया गया शिविर

विज्ञप्ति के अनुसार सुबह थाने में उनकी बुलट के साथ उनकी फोटो खिंचवाईं गयी और उसके बाद उनके खिलाफ धारा 151 का झूठा प्रकरण बनाकर तहसीलदार के समक्ष पेश किया गया, जहाँ मुचलके पर उन्हें छोड़ा गया है। उन्होंने कोतवाली पुलिस पर पैसा माँगने के आरोप भी लगाये हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.