Home मध्य प्रदेश मध्य प्रदेश के मंडला जिले में मिले करोड़ साल पुराने विशालकाय डायनासोर के अंडे ,फुटबाल समझकर खेल रहे थे...

मध्य प्रदेश के मंडला जिले में मिले करोड़ साल पुराने विशालकाय डायनासोर के अंडे ,फुटबाल समझकर खेल रहे थे बच्चे

मंडला: मंडला जिले के मोहनटोला इलाके में विशालकाय अंडे मिले हैं. लोगों का दावा है ये डायनासोर के अंडे हैं और सदियो पुराने हैं. जिले के एक अध्यापक प्रशांत श्रीवास्तव के अनुसार सागर के केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पीके कठल ने कुछ जीवाश्म पर शोध भी किया, जिसमें मंडला में डायनासोर के 7 अंडों (Dinosaurs Egg) मिलने का दावा किया गया है. ये जीवाश्म करीब 6.5 करोड़ साल पुराने बताए जा रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि ये एक नई प्रजाति के हैं जो कि अब एक अंतरराष्ट्रीय शोध का केंद्र है. प्रशांत कहते है कि प्रोफेसर कठल का कहना है कि देखरेख ना होने के चलते ये कीमती धरोहर नष्ट होने की कगार पर हैं, लेकिन इस शोध के बाद जिला कलेक्टर ने जीवाश्मों को सहजने की बात कही है.

जानकारी के मुताबिक मंडला जिले के मोहनटोला इलाके में डायनासोर के 7 अंडें का जीवाश्म मिलने का दावा किया जा रहा है. इनका वजन 2 किलो 600 ग्राम बताया गया है. ये अंडे फुटबॉल जैसे गोले हैं. डॉ. हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय सागर के व्यवहारिक भूविज्ञान विभाग के जीवाश्म विज्ञानी प्रो.पीके कठल ने अपनी रिसर्च रिपोर्ट के आधार पर यह पुष्टि की है कि यह जिवाश्म डायनासोर के अंडे हैं. दरअसल, मंडला जिले के महाराजपुर इलाके में रहने वाले प्रोफेसर प्रशांत श्रीवास्तव सुबह-सुबह घूम रहे थे. इसी दौरान कुछ बच्चे इन ‘अंडों’ को फूटबॉल समझकर उनके साथ खेल रहे थे. तभी प्रशांत की नजर इस पर पड़ी. इसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी उन्होंने तुरंत पुरातत्व विभाग को दी.

यह भी पढ़े :  इंदौर में लगातार बढ़ रहा कोरोना ग्राफ, 492 नए मरीजों के साथ आकंड़ा बढ़कर हुआ 37 हजार 315

हरबीवोरस प्रजाति के हैं अंडे

- Advertisement -

इन अंडों के अध्ययन के लिए सागर से प्रोफेसर प्रदीप कठल को बुलाया गया. प्रोफेसर कठल 30 अक्टूबर को मंडला आए. फिर उन्होंने जीवाश्म को स्केन इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप से अध्ययन किया जिससे पता चला है कि ये जीवाश्म अपर क्रिटेशियस काल के डायनासोर के हैं. ये शाकाहारी थे और दूर से अंडे देने के लिए नर्मदा घाटी आते थे. प्रोफेसर कठल ने बताया कि अंडों की परिधि 40 सेमी है, जबकि वजन 2.6 किलो है. इनकी लंबी गर्दन और छोटे-सिर वाले वृहदाकार (15 मीटर तक लंबाई वाले) डायनासोर तृणभक्षी (हरबीवोरस) थे.

यह भी पढ़े :  MPBSE : MP BOARD "Ruk Jana Nahi" की 10वीं, 12वीं परीक्षाएं 14 दिसंबर से

इनका जीवन-काल जुरासिक (21.5 करोड वर्ष) से शुरू होकर क्रिटेशियस (6.5 करोड़ वर्ष) था..यह अंडे डायनासोर की किसी नई प्रजाति के लग रहे हैं. यह अभी तक मिले डायनासोर के जीवाश्म से सबसे अलग जिवाश्म है और इनसे नई प्रजाति के होने की संभावना हो सकती है. उन्होंने बताया कि आगे की रिसर्च में और भी कई तथ्य सामने आ सकते हैं. कलेक्टर हर्षिका सिंह का कहना है कि जीवाश्म को सहेजने का काम किया जाएगा. 

रिपोर्ट के बाद तय करेंगे अंडों का क्या करना है?

- Advertisement -

मंडला कलेक्टर कर्षिका सिंह का कहना है कि हाल ही मिले डायनासोर के अंडे का जीवाश्म में या नहीं यह वैज्ञानिक रिपोर्ट आने के बाद तय होगा, लेकिन कलेक्टर का कहना है कि जिले में पहले भी डायनासोर के हड्डियों के अवशेष के फासिल्स मिले हैं जो संग्रहालय में रखे गए हैं.

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,261FansLike
7,044FollowersFollow
787FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

नरोत्तम बोले- लव जिहाद कानून पर अपनी स्थिति स्पष्ट करे कांग्रेस, किसान आंदोलन पर भी साधा निशाना

भोपाल: मध्य प्रदेश के राजनीति में अहम भूमिका निभाने वाले गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का...
यह भी पढ़े :  MPBSE : MP BOARD "Ruk Jana Nahi" की 10वीं, 12वीं परीक्षाएं 14 दिसंबर से

नेता प्रतिपक्ष को लेकर कमलनाथ वर्सेस दिग्विजय ! खुलकर सामने आई तकरार…पूरा विश्लेषण

भोपाल: प्रदेश की सियासत बहुत कुछ या यूं कहें, कि सबकुछ गंवाने के बाद भी कांग्रेस अपनी गलतियों से कोई सीख नहीं ले रही...

लालू यादव की जमानत पर सुनवाई टली, कस्टडी को सत्यापित करने के लिए मांगा समय

रांची। लालू प्रसाद यादव की जमानत पर आज हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। इस दौरान लालू के अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने सीबीआइ के जवाब...

अर्नब को अंतरिम बेल देने के कारणों को SC ने किया स्पष्ट, कहा- पुलिस FIR में लगाए गए आरोप नहीं हुए साबित

नई दिल्ली। टेलीविजन पत्रकार अर्नब गोस्वामी को आत्महत्या के लिए उकसावे के वर्ष 2018 के एक मामले में अग्रिम जमानत देने के करीब 15 दिनों...

MP Lockdown : मध्यप्रदेश में नहीं लगेगा लॉकडाउन

भोपाल , मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आर्थिक गतिविधियों को सुचारू रखने के लिए प्रदेश में अब लॉकडाउन नहीं लगाया...
x