Monday, March 8, 2021

मध्यप्रदेश के तीन जिलों के कुक्कुट फार्म सहित 32 जिलों के नमूनों में बर्ड फ्लू की पुष्टि

Must read

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता
- Advertisement -

भोपाल: मध्यप्रदेश के तीन जिलों के कुक्कुट फार्म के पक्षियों सहित 32 जिलों में कौओं एवं जंगली पक्षियों के नमूनों में मंगलवार तक बर्ड फ्लू का संक्रमण पाया गया है। प्रदेश में 26 दिसंबर से अब तक करीब 3,890 कौओं एवं जंगली पक्षियों की मौत हुई है।

मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग की विज्ञप्ति के अनुसार प्रदेश के पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने बर्ड फ्लू से अप्रभावित जिलों को सावधानी और सतर्कता बढ़ाने के निर्देश दिये हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘प्रदेश में कौओं की मृत्यु से आरंभ हुआ बर्ड फ्लू राज्य के तीन जिलों के कुक्कुट फार्म सहित 32 जिलों में पहुँच चुका है।’’
पटेल ने बताया कि झाबुआ, हरदा और मंदसौर में कुक्कुट फार्म में वायरस मिलने से मुर्गे-मुर्गियों को मार कर दफनाने की और भारत शासन द्वारा जारी परामर्श के अनुसार कार्रवाई की गई है।

उन्होंने कहा कि इन तीन जिलों के अलावा 29 अन्य जिलों – इंदौर, आगर मालवा, नीमच, देवास, उज्जैन, खण्डवा, खरगोन, गुना, शिवपुरी, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, दतिया, अशोकनगर, बड़वानी, भोपाल, होशंगाबाद, बुरहानपुर, छिन्दवाड़ा, डिण्डोरी, मण्डला, सागर, धार, सतना, पन्ना, बालाघाट, श्योपुर, छतरपुर और रायसेन में कौओं एवं जंगली पक्षियों में बर्ड फ्लू पाया गया है।

पटेल ने अप्रभावित जिलों के कुक्कुट फार्म व्यवसाइयों से अपील की है कि वे पूर्ण सतर्कता बरतें। पक्षियों अथवा मुर्गियों में अप्राकृतिक मृत्यु की सूचना मिलते ही तत्काल अपने जिले के नियंत्रण-कक्ष को सूचित करें।

उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को ‘एवियन इन्फ्लूएंजा’ के बचाव और रोकथाम नियंत्रण का भरपूर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश देते हुए कहा कि जलाशयों एवं अभयारण्यों पर भी निगरानी रखें। आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिये आवश्यक पीपीई किट्स, उपकरण, दवाइयों का स्टॉक आदि तैयारियाँ चाक-चौबंद रखें।

पटेल ने बताया कि प्रदेश में अब तक 3,890 कौओं और जंगली पक्षियों की मृत्यु की सूचना प्राप्त हो चुकी है। विभिन्न जिलों से 453 नमूने राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग अनुसंधान प्रयोगशाला, भोपाल को जाँच के लिये भेजे जा चुके हैं।

यह भी पढ़े :  Nandkumar Chouhan : BJP सांसद नंदकुमार सिंह का निधन, कई दिनों से चल रहे थे बीमार
- Advertisement -
- Advertisement -

More articles

Latest article

यह भी पढ़े :  राष्ट्रपति ने जताई जनजातीय समाज के विकास की चिंता, कहा- मदद ना कर सका तो पद पर रहने का कोई औचित्य नहीं