Homeटेक्नोलॉजीस्ट्राइकर ने नए एडवान्स्ड ग्लोबल टेक्नोलॉजी सेन्टर के जरिये अपनी आरएंडडी क्षमताओं...

स्ट्राइकर ने नए एडवान्स्ड ग्लोबल टेक्नोलॉजी सेन्टर के जरिये अपनी आरएंडडी क्षमताओं को मजबूती प्रदान की

विश्व स्तर पर इनोवेशन में तेजी लाने में मदद करेगा नया सेन्टर

- Advertisement -

नई दिल्ली/गुरुग्राम: 7 जून 2022: दुनिया की अग्रणी मेडिकल टेक्नोलॉजी कंपनियों में से एक, स्ट्राइकर ने आज इंटरनेशनल टेक पार्क, गुड़गांव में अपनी नई रिसर्च एवं डेवलपमेंट फैसिलिटी, स्ट्राइकर्स ग्लोबल टेक्नोलॉजी सेन्टर (एसजीटीसी) के उद्घाटन की घोषणा की। 150,000 वर्ग फुट में फैली यह फैसिलिटी भारत और विश्व स्तर पर इनोवेशन में तेजी लाने में मदद करेगी और स्वास्थ्य सेवाको बेहतर बनाने के कंपनी के मिशन मेंसहयोग करेगी।

एंडी पियर्स, ग्रुप प्रेसिडेंट, मेडसर्ग एवं न्यूरोटेक्नोलॉजी, स्ट्राइकर ने बताया कि “स्ट्राइकर के मूल सोच इनोवेशन आध्धरित है। एसजीटीसी नए प्रोडक्ट्स और सॉल्यूशंस को विकसित करने की हमारी क्षमता को मजबूती प्रदान करता है जो पूरे विश्व में जीवन को बेहतर बनाने और बचाने में मदद करते हैं। हमें गर्व है कि स्ट्राइकर हर साल 100 मिलियन से अधिक रोगियों की जिन्दगी में सकारात्मक प्रभाव लाता है और हमारे ऑफर्स की मांग बढ़ रही है।”

- Advertisement -

ग्राहकों पर गंभीरता से ध्यान देते हुए, सेन्टर को ऐसे डिजाइन किया गया है कि उनसे हेल्थ प्रोफेशनल्स जुड़ाव महसूस कर सकें और अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए नई तकनीकें विकसित कर सकें। ग्राहक स्ट्राइकर के प्रोडक्ट्स की पूरी रेंज देख सकते हैं और कंपनी में उपलब्ध जीवन को बदलने वाली टेक्नोलॉजी और इनोवेशन की इंजीनियरिंग के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

राम रंगराजन, वाइस प्रेसिडेंट, आर एंड डी, एसजीटीसी, स्ट्राइकर ने कहा कि “अपने ग्राहकों के साथ मिलकर, हम स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाते हैं। हम ऐसे प्रोडक्ट्स और सॉल्यूशंस को विकसित करने के लिए काम करते हैं जो पूरी दुनिया के बाजार और हमारे ग्राहकों की खास जरूरतों को पूरा कर सकें।

- Advertisement -

हम अपनी वर्तमान टीम की ताकत और हमारे नए सेन्टर में आने वाले विविध प्रतिभाओं को लेकर उत्साहित हैं, जिनसे न केवल इस क्षेत्र में, बल्कि दुनिया भर में हमारे ग्राहकों और रोगियों को लाभ पहुंचाने वाले इनोवेशन को प्रोत्साहन मिलेगा। नया सेन्टर हमें विकास करने और अधिक से अधिक लोगों को प्रभावित करने का अवसर प्रदान करता है।”

स्ट्राइकर ने 15वर्ष से अधिक समय पहले भारत में अपना पहला आरएंडडी सेन्टर स्थापित की थी,ताकि घरेलू और अन्य उभरते बाजारों में अनुसंधान एवं विकास (आरएंडडी) कार्यों को इंजीनियरिंग से जुड़ी सहायता प्रदान की जा सके।

- Advertisement -

आज सेन्टर में 1,000 से अधिक कर्मचारी काम करते हैं और यह सेन्टर कंपनी का एक प्रमुख रणनीतिक इनोवेशन सेन्टर है। नई एसजीटीसी फैसिलिटी भारत के प्रति स्ट्राइकर की प्रतिबद्धता को बढ़ावा देती है और इसके विश्व स्तरीय अनुसंधान, मेडिकल टेक्नोलॉजी, इनोवेशन और प्रतिभा विशेषज्ञता के मजबूत इकोसिस्टम को मान्यता प्रदान करती है।

स्ट्राइकर के बारे में
स्ट्राइकर दुनिया की अग्रणी मेडिकल टेक्नोलॉजी में से एक है और अपने ग्राहकों के साथ मिलकर, स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने का भरपूर प्रयास करती है।

कंपनी मेडिकल एवं सर्जिकल, न्यूरोटेक्नोलॉजी, ऑर्थोपेडिक्स और स्पाइन के क्षेत्र में नए-नए प्रोडक्ट्स और सेवाएं प्रस्तुत करती है जो रोगी और बेहतर स्वास्थ्य देखभाल संबंधी नतीजो को बेहतर बनाने में मदद करती हैं। पूरे विश्व में अपने ग्राहकों के साथ-साथ, स्ट्राइकर सालाना 100 मिलियन से अधिक रोगियों को प्रभावित करता है। इस संबंध में अधिक जानकारी www.stryker.com पर उपलब्ध है।

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments