Home देश 300 से कम कर्मचारियों वाली कंपनी के लिए छंटनी करना हुआ आसान, बिल पेश

300 से कम कर्मचारियों वाली कंपनी के लिए छंटनी करना हुआ आसान, बिल पेश

तीन सौ से कम कर्मचारियों वाली कंपनियों के लिए भर्ती और छंटनी की प्रक्रिया आसान होने वाली है। शनिवार को श्रम मंत्रालय की ओर से लोकसभा में पेश तीन श्रम विधेयकों में से एक में इस संबंध में प्रावधान किया है। श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने विपक्ष के भारी विरोध के बीच इंडस्ट्रियल रिलेशन कोड बिल 2020, कोड ऑन सोशल सिक्योरिटी, 2020 और ऑक्यूपेशनल सेफ्टी, हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशंस कोड, 2020 को लोकसभा में पेश किया।

लोकसभा में पेश इंडस्ट्रियल रिलेशन कोड, 2020 में प्रावधान किया गया है कि 300 से कम कर्मचारियों वाली कंपनियों को भर्ती या छंटनी के लिए सरकार से पूर्व अनुमति नहीं लेनी होगी। मौजूदा कानून में 100 से कम कर्मचारियों वाली कंपनियों को ही ऐसा करने की अनुमति है।

- Advertisement -

इस साल की शुरुआत में संसदीय समिति ने 300 से कम स्टाफ वाली कंपनियों को सरकार की अनुमति के बिना कर्मचारियों की संख्या में कटौती करने या कंपनी बंद करने का अधिकार देने की बात कही थी। कमेटी का कहना था कि राजस्थान में पहले ही इस तरह का प्रावधान है। इससे वहां रोजगार बढ़ा और छंटनी के मामले कम हुए।

आसान किए श्रम कानून:

- Advertisement -

लोकसभा में चर्चा के दौरान श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि 29 से ज्यादा श्रम कानूनों को सरकार ने चार कोड में समेट दिया है। इनमें कोड ऑन वेजेस बिल, 2019 को पिछले साल संसद ने पारित कर दिया था। तीन कोड को अब लोकसभा में पेश किया गया है। गंगवार ने कहा कि इन विधेयकों को लेकर संबंधित पक्षों से व्यापक विचार-विमर्श हुआ है।

यह भी पढ़े :  नगरोटा साजिश के पीछे था पाक का हाथ! आतंकियों के पास से मिले डिवाइस ने खोले कई राज

कर्मचारियों के अधिकारों का होगा हनन: कांग्रेस

- Advertisement -

कांग्रेस एवं अन्य विपक्षी दलों ने इन तीनों विधेयकों का विरोध किया। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि तीनों विधेयक इनके पुराने प्रारूप से पूरी तरह अलग हैं और इन्हें वापस लिया जाना चाहिए। इन्हें पेश करने से पहले व्यापक विचार विमर्श होना चाहिए। इन कानूनों से कर्मचारियों के अधिकारों का हनन होगा। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि इंडस्ट्रियल रिलेशन कोड से कर्मचारियों के अधिकार कम होंगे। इसमें केंद्र एवं राज्यों की सरकारों को भर्ती-छंटनी की सीमा बढ़ाने का अधिकार भी दिया गया है।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,273FansLike
7,044FollowersFollow
779FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

इस कॉमेडी फिल्म की शूटिंग के दौरान हो गया था श्रीदेवी के पिता का निधन, तब ऐसे संभाली थी शूटिंग

दवंगत निर्देशक यश चोपड़ा की बेहतरीन फिल्मों में ‘लम्हे’ को शुमार किया जाता है। यह आम प्रेम कहानी से...
यह भी पढ़े :  जम्मू-कश्मीरः डीडीसी चुनाव के दूसरे चरण में हुआ 48 फीसदी से अधिक मतदान

केएल राहुल ने विराट, बाबर व फिंच के रिकॉर्ड की बराबरी की, ओपनिंग पोजीशन पर आते ही किया धमाल

नई दिल्ली। केएल राहुल ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में निराश किया, लेकिन टी20 सीरीज के पहले ही मैच में कैनबरा में जैसे...

मैच के दिन कोरोना पॉजिटिव हुआ साउथ अफ्रीका का खिलाड़ी, टॉस से पहले इंग्लैंड ने स्थगित किया मैच

नई दिल्ली। इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच खेला जाने वाला पहला वनडे मुकाबला स्थगित करने का फैसला लिया गया है। शुक्रवार को तीन मैचों...

जस्टिन ट्रूडो से भारत नाराज, किसान आंदोलन पर टिप्पणी करने को लेकर उच्‍चायुक्‍त को भेजा समन

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो  को किसान आंदोलन पर टिप्पणी करना भारी पड़ गया। भारत ने ट्रूडो और अन्य नेताओं की टिप्पणी को लेकर...

कुलभूषण जाधव मामले में नई चाल चल रहा पाकिस्तान, MEA ने लगाई फटकार

भारत ने कुलभूषण जाधव मामले को, सजा काटने के बावजूद जेल में बंद एक अन्य भारतीय के मामले से जोड़ने का प्रयास करने को...
x