khabar-satta-app
Home देश Mitron की होगी प्ले स्टोर पर वापसी, ‘Remove China Apps’ पर सस्‍पेंस कायम

Mitron की होगी प्ले स्टोर पर वापसी, ‘Remove China Apps’ पर सस्‍पेंस कायम

China App के बहिष्कार के आंदोलन के चलते थोड़े ही समय में ज़बरदस्त लोकप्रियता हासिल करने वाले Mitron App की Google Play Store पर वापसी हो सकती है. हाल ही में गूगल ने नीतियों के उल्लंघन का हवाला देते हुए अचानक इस ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया था.

नई दिल्ली: चीनी ऐप के बहिष्कार के आंदोलन के चलते थोड़े ही समय में ज़बरदस्त लोकप्रियता हासिल करने वाले Mitron ऐप की गूगल प्ले स्टोर पर वापसी हो सकती है. हाल ही में गूगल ने नीतियों के उल्लंघन का हवाला देते हुए अचानक इस ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया था. Android और Google Play के उपाध्यक्ष समीर समत ने अपने ब्लॉग पोस्ट में Mitron ऐप का नाम लिए बिना कहा है कि गूगल में डेवलपर्स के साथ काम करने की प्रक्रिया है, ताकि तकनीकी मुद्दों को हल करके ऐप को रीसबमिट कराया जा सके.   

- Advertisement -

Mitron को TikTok के भारतीय विकल्प के रूप में देखा जा रहा था. जिसकी वजह से गूगल प्ले स्टोर पर एक महीने से भी कम समय में इसके 5 मिलियन से अधिक डाउनलोड हो गए थे. दरअसल, चीनी ऐप के बहिष्कार को लेकर छेड़े गए अभियान के बीच Mitron को भारतीय ऐप समझा जाने लगा था, इसलिए लोग इसे धड़धड़ा डाउनलोड कर रहे थे, लेकिन बाद में पता चला कि यह एक पाकिस्तानी ऐप का रीब्रांडेड वर्जन है

समीर समत ने अपने ब्लॉग में Mitron की वापसी का संकेत देते हुए कहा है कि ‘हमने डेवलपर को कुछ सुधार करने को कहा है, जैसे ही वो इस पर अमल कर देता है, ऐप प्ले स्टोर पर वापस आ सकता है’.

- Advertisement -

‘Mitron’ की तरह ही गूगल ने ‘Remove China Apps’ को भी प्ले स्टोर से हटाया था, जो चीनी ऐप्स को डिलीट करने में मदद करता है. इस ऐप की वापसी फिलहाल संभव नहीं है. अपने ब्लॉग में समीर ने स्पष्ट किया है कि ऐसे ऐप को प्ले स्टोर पर जगह नहीं दी जा सकती जो दूसरे ऐप को टारगेट करता है

उन्होंने लिखा है, ‘हमने हाल ही में नीतियों के उल्लंघन को लेकर कई ऐप्स हटाये हैं. हम ऐसे ऐप को अनुमति नहीं देते जो उपयोगकर्ताओं को थर्ड पार्टी ऐप को हटाने या अक्षम करने या डिवाइस सेटिंग या फीचर्स को संशोधित करने के लिए प्रोत्साहित करता है जब तक कि यह एक सत्यापन योग्य सुरक्षा सेवा का हिस्सा नहीं है’. उन्होंने आगे लिखा है, ‘जब कोई ऐप किसी दूसरे को टारगेट करता है तो वह कम्युनिटी और ग्राहकों के खिलाफ होता है और ऐसे ऐप को हम प्ले स्टोर पर रहने की अनुमति नहीं दे सकते. हमने पहले भी लगातार कई देशों में अन्य ऐप्स के खिलाफ इस नीति को लागू किया है’.  

- Advertisement -

गूगल ने ‘Remove China Apps’ को भ्रामक व्यवहार नियम के उल्लंघन के चलते गूगल प्ले स्टोर से हटाया था. यह ऐप बेहद लोकप्रिय बन गया था, महज 2 हफ़्तों में ही इसके 5 मिलियन से ज्यादा डाउनलोड हो गए थे

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
790FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कह दी बड़ी बात, चुनाव हार जाना मंजूर है लेकिन गलत आश्वासन नहीं देंगे

वैशाली। बिहार विधानसभा चुनाव- 2020 में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा खूब पसीना बहा रहे हैं। चुनाव प्रचार...

इंग्लैंड में लॉकडाउन, बोरिस जॉनसन कर रहे नए नियमों पर विचार

लंदन। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर वैज्ञानिकों द्वारा दी गई चेतावनी को गंभीरता से लेते हुए  इंग्लैंड में अगले सप्ताह से लॉकडाउन लागू...

Sonu Sood से यूजर ने कहा- मुझे मालद्वीप जाना है… तो एक्टर ने दिया ये सॉलिड जवाब!

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद इन दिनों अपनी फिल्मों से ज्यादा अपने सामाजिक कार्यों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। एक्टर ने कोरोना...

Bigg Boss 14: नेपोटिज़्म को लेकर राहुल वैद्य पर भड़के सलमान खान, जानें- क्या कहा?

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस के बाद से सोशल मीडिया से लेकर फिल्मी गलियारों तक नेपोटिज़्म पर नई बहस ने...

Share Market Tips: जब खरीदना चाहिए तब शेयरों को बेच देते हैं आम निवेशक, जानिए क्या है सही रणनीति

नई दिल्ली। वैश्विक लॉकडाउन्स और यूएस चुनावों के चलते तेज गिरावट से पहले बाजार ने फिर से 11,900 के स्तर को छुआ। लेकिन हमारे विचार...