Home देश पूर्व राष्ट्रपति प्रणब को फेफड़ों में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक की स्थिति में - सेना अस्पताल

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब को फेफड़ों में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक की स्थिति में – सेना अस्पताल

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की तबीयत और बिगड़ गई है. वह दिल्ली स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती हैं.

नई दिल्ली: देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की तबीयत और बिगड़ गई है. वह दिल्ली स्थित सेना के अस्पताल में भर्ती हैं. अस्पताल की ओर से बताया गया है कि फेफड़ों में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक की स्थिति पैदा हो गई है. प्रणब मुखर्जी की इस महीने ब्रेन सर्जरी हुई थी, जिसके बाद से वह कोमा में हैं.

सेना के अस्पताल की ओर से आज जारी किए गए बयान में बताया गया है कि बीते दिन से पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा रही है. फेफड़ों में इंफेक्शन की वजह से सेप्टिक शॉक में हैं. डॉक्टरों की एक स्पेशल टीम उनके इलाज में जुटी है. वह अभी भी कोमा में हैं और उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है.

- Advertisement -

बता दें कि बीते दिनों पूर्व राष्ट्रपति की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में भर्ती के दौरान की गई जांच में उनके कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने की भी पुष्टि हुई थी. बाद में उनके फेफड़े में संक्रमण हो गया. अस्पताल की ओर से बताया गया था कि उनके गुर्दे भी ठीक से काम नहीं कर रहे हैं. गौरतलब है कि प्रणब मुखर्जी साल 2012 से 2017 तक देश के 13वें राष्ट्रपति रहे थे.

यह भी पढ़े :  Night Curfew In Ahmedabad : अहमदाबाद में शुक्रवार से नाईट कर्फ्यू , गुजरात में COVID-19 के बढ़ रहे है मामले
- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,268FansLike
7,044FollowersFollow
784FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

हैदराबाद नगर निगम के चुनाव में चर्चा का विषय बना यह मंदिर, जानें क्या है वजह?

हैदराबादः शहर में ऐतिहासिक चारमीनार के पास स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर एक दिसंबर को होने वाले ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी)...
यह भी पढ़े :  गिरने की तैयारी में उद्धव सरकार ?: केंद्रीय मंत्री रावसाहब दानवे बोले, अगले दो-तीन महीने में महाराष्ट्र में फिर बनेगी BJP की सरकार

चीन के साथ तनाव के बीच भारत को मिला श्रीलंका और मालदीव का साथ

भारत, श्रीलंका और मालदीव के शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों ने सहयोग को और मजबूत बनाने तथा आम हितों के लिए शांति का माहौल सुनिश्चित करने...

किसानों के समर्थन में अन्ना हजारे, बोले- अन्नदाता की बात सुने सरकार…वो पाकिस्तानी नहीं

 केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के समर्थन में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे आगे आए हैं। अन्ना हजारे...

जेसी बैंक चुनाव: रिकाउंटिंग में भी मजदूर संघ का कब्जा, वाजिद खान और नीलम, कौन बने डायरेक्टर?

रतलाम: जेसी बैंक चुनाव में शनिवार को री-काउंटिंग के बाद वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ के दोनों प्रत्याशियों ने जीत हासिल की है। री-काउंटिंग के...

CA फाइनल ईयर की छात्रा का पेपर अच्छा नहीं हुआ तो लगाया फंदा, सुसाइड नोट में मांगी पेरेंट्स से माफी

इंदौर: इंदौर के थाना अन्नपूर्णा में एक सीए फाइनल ईयर की छात्रा ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है...
x