Sunday, December 4, 2022
Homeस्वास्थ्यबदलते मौसम में बरतें सावधानी और रहें सेहतमंद

बदलते मौसम में बरतें सावधानी और रहें सेहतमंद

- Advertisement -

डेस्क।बारिश और धूप दोनों की अभी लुका-छिपी जारी है। पल-पल बदलते मौसम से बीमार होने की आशंका और भी बढ़ जाती है।

बारिश के मौसम में मलेरिया, टाइफाइड, डेंगू, पीलिया, आंखों से संबंधित परेशानी, त्वचा रोग बहुताय से होते हैं। कई बार इस मौसम में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का खतरा और वर्षाजनित बीमारियां इन दोनों से बचने के लिए हमें खासी सावधानियां रखना होगी।

- Advertisement -

इस मौसम में स्वस्थ रहने के लिए खानपान का ध्यान रखना तो आवश्यक है ही साथ ही कुछ सावधानियां बरतकर भी स्वस्थ रहा जा सकता है।

1)बाहर के भोजन-पानी और भीड़ से बचें

- Advertisement -

2)इस मौसम में मलेरिया, टाइफाइड, डेंगू, पीलिया, अांखों से संबंधित परेशानी, त्वचा रोग बहुताय से होते हैं इसलिए सावधानी बरतें।

3)भीड़ में जाने से बचें।

- Advertisement -


4)बारिश के पानी और कीचड़ से बचें।यदि बारिश में भीग भी जाएं तो घर आकर साबुन से नहा लें।

5)बाहर का भोजन नहीं करें और साफ पानी पिएं।

6)घर के आसपास पानी जमा नहीं होने दें क्योंकि ठहरे पानी में मच्छर आदि पनपते हैं।

7(किसी भी संक्रमण या शारीरिक समस्या को हल्के में न लेते हुए तुरंत डाक्टरी सलाह लें।


8)तले पदार्थ सीमित मात्रा में खाएं

9)फल, सब्जी, प्रोटीन, पानी पर्याप्त मात्रा में लें।

10)पेट के विकार ज्यादा होते हैं इसलिए घर से बाहर के कच्चे पदार्थ न खाएं।

11)तले पदार्थ का ज्यादा सेवन किया जाता है इसलिए उसकी मात्रा सीमित रखें।

12)यदि एक समय गरिष्ठ भोजन किया तो दूसरी तरफ हल्का भोजन लें।

13)अंकुरित अनाज स्टीम करके खाएं। यदि स्टीम नहीं करना तो गर्म पानी में डाल लें।

14)पत्तेदार सब्जी आदि लेते हैं तो अतिरिक्त सफाई करें।

15)घर के बाहर यदि खाना खा रहे हैं तो पत्तेदार सब्जी, फूल गोभी आदि न खाएं।


16)दिन में एक बार काढ़ा जरूर पिएं

17)ठंडे पदार्थों से बचें और गर्म पानी, गर्म भोजन लें।बासी भोजन नहीं करें।

18)पानी को उबालकर ठंडा करने के बाद ही उपयोग में लाएं।

19)सीतोपलादी चूर्ण शहद के साथ, पिपली चूर्ण गुनगुने पानी से, वासा (अडूसा) की पत्ती काढ़ा, तुलसी पत्र स्वरस, हल्दी दूध या गुनगुने पानी से लें।

20)योगाभ्यास सुबह जरूर करें।

21)वर्षा ऋतु में जठराग्नी मंद होने से भोजन पाचन में समस्या आती है इसलिए सुपाच्चय भोजन करें।

22)काढ़े का सेवन दिन में एक बार जरूर करें।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments