Wednesday, March 3, 2021

चीन में राष्‍ट्रपति ट्रंप की उड़ी खिल्‍ली, हांगकांग के बयान पर अमेरिका को दिखाया आईना

Must read

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता
- Advertisement -

बीजिंग। चीन की सरकारी मीडिया ने अमेरिका में सत्‍ता हस्‍तांतरण को लेकर हुए हुए हिंसक प्रदर्शन पर राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को आड़े हाथ लिया है। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने चीनी लोगों के सोशल मीडया पोस्‍ट्स का हवाला देते हुए लिखा है कि अमेरिका में जो कुछ हो रहा वह उसके गंदे कर्मों का फल है। सोशल मीडया पोस्‍ट्स में लिखा गया है कि अमेरिका में लोकतंत्र का बुलबुला फूट गया। अमेरिका में राजनीतिक हिंसा के बहाने ग्‍लोबल टाइम्‍स में अमेरिकी लोकतंत्र का भी मजाक उड़ाया गया है। ग्‍लोबल टाइम्‍स ने सोशल मीडिया यूजर्स के पोस्‍ट को शेयर करते हुए कहा व्‍यंग्‍य किया है कि जब हांगकांग में विरोध प्रदर्शन हुए थे तो अमेरिका ने प्रदर्शनकारियों के साहस की प्रशंसा की थी। दरअसल, चीनी अखबार की यह खबर राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के शासनकाल में चीन और अमेरिका के तनाव भरे रिश्‍तों की एक झलक दिखाती है।

अखबार के संपादक हू शीजिन ने लिखा है कि अमेरिका में लोकतंत्र का गुब्बारा फटने को है। उन्‍होंने आगे कहा कि अमेरिका की राजनीतिक व्यवस्था के पतन की शुरुआत है। अमेरिकी व्यवस्था में गिरावट शुरू हो गई है। अमेरिका की व्‍यवस्‍था कैंसर जैसी बीमारी की शिकार हो गई है। जैसा कैपिटल हिल में हुआ, वैसा ही हांगकांग में 2019 में हुआ था। तब अमेरिका समेत अंतरराष्ट्रीय बिरादरी और मीडिया ने उपद्रवियों का समर्थन करते हुए चीन सरकार को निशाने पर लिया था। चीनी नागरिकों की भांति सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी कैपिटल हिल की घटना के लिए प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

- Advertisement -

कैपिटल हिल पर हमले की प्रतिक्रिया में चीन के विदेश विभाग की प्रवक्ता हुआ चुनिइंग ने कहा, हमने अमेरिका में हुई घटना को देखा है। उम्मीद है कि जल्द ही वहां पर हालात सामान्य हो जाएंगे। चीनी लोगों और ऑनलाइन मीडिया की प्रतिक्रिया के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में प्रवक्ता ने कहा, ज्यादातर चीनी नागरिक आश्चर्यचकित हैं कि एक सी घटनाओं पर अमेरिकी नेता और मीडिया किस तरह से अलग राय जाहिर करते हैं।

यह भी पढ़े :  PM मोदी ने श्रीलंका की संसद को किया था संबोधित, इमरान इस सम्‍मान से वंचित, खटक रही पाकिस्‍तान को ये बात
- Advertisement -
- Advertisement -

More articles

Latest article

यह भी पढ़े :  ब्राजील में बिगड़े हालात, कुछ शहरों में नाइट कर्फ्यू, न्यूजीलैंड में बढ़ाया गया अलर्ट लेवल, ऑकलैंड में लॉकडाउन