सिवनी की मॉडल रोड नए साल में दूधिया रोशनी से जगमगाने लगेगी

0
524
  • सिवनी में व्यापारियों से जरूरतें पूछेगा प्रशासन –
  • सिवनी में सरकारी जमीनों का होगा चिन्हांकन –
  • सिवनी जनपद कॉम्पलेक्स के रुके प्रोजेक्ट पर लिया जाएगा संज्ञान –
  • सिवनी नपा कॉम्प्लेक्स की होगी जांच –
  • सिवनी में इंजीनियर नपा में कराएं रजिस्ट्रेशन, मिलेगा व्यवसाय –
  • सिवनी भैरोगंज 50 लाख से बनेगी सोमवारी सड़क –

सिवनी न्यूज़ , खबर सत्ता : ज्यारत से नागपुर रोड जोड़ा पुल तक बनी शहर की मॉडल सड़क में एक जनवरी 2020 तक सभी स्ट्रीट लाइट रोशनी से जगमगाने लगेंगी। कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बिजली कंपनी को मॉडल रोड में रुका पोल शिफ्टिंग व स्ट्रीट लाइट का काम पूरा करने के निर्देश दे दिए हैं। बिजली कंपनी के अधिकारियों ने एक जनवरी 20 तक रोड के सभी स्ट्रीट लाइट चालू करने की बात कही है। इसके लिए एमपीईबी ने काम शुरू कर दिया है।

गुरुवार दोपहर कलेक्टर चेंबर में कलेक्टर प्रवीण सिंह ने मीडिया प्रतिनिधियों से शहर की अतिक्रमण मुक्त सड़कों को व्यवस्थित और आमजनों के लिए उपयोगी बनाने के सुझाव लिए। कलेक्टर प्रवीण सिंह ने मॉडल रोड सहित अन्य सड़कों के चौड़ीकरण और अतिक्रमण मुक्त स्थानों के सौंदर्यीकरण पर विस्तार से चर्चा की। पार्किंग स्थल, शौचालय, यात्री प्रतिक्षालय सहित आमजनों की अन्य जरूरतों को समझने की कोशिश चर्चा में की गई।

प्रस्तावित कार्ययोजना पर जानकारी देते हुए कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बताया कि मॉडल रोड में लगे पेवर ब्लॉक को उखाड़ दिया गया है। यह सड़क 16 मीटर चौड़ी थी जिसे 23 से 30 मीटर तक चौड़ा किया जाएगा। प्रतिष्ठानों के सामने दोपहिया वाहनों को खड़ा करने का स्पेस उपलब्ध कराया जाएगा ताकि सड़क में वाहनों को आवागमन के लिए पर्याप्त जगह मिल सके। कलेक्टर प्रवीण सिंह ने नईदुनिया को बताया कि सभी सुझावों पर प्रशासन पूरी गंभीरता से विचार कर रहा है ताकि विकास की उपयोगी कार्ययोजना आमजनों के लिए बनाई जा सके।

यह भी पढ़े :  सिवनी : ग्राम पंचायत खैरापलारी को मिली कचरा गाड़ी की सौगात

व्यापारियों से जरूरतें पूछेगा प्रशासन –

कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बताया कि शुक्रवार से एसडीएम जेपी सैयाम व नपा सीएमओ मनोज श्रीवास्तव बुधवारी बाजार के व्यापारियों के साथ बैठक कर उनकी जरूरतों को समझने की कोशिश करेंगे। साथ ही बाजार को आम लोगों के लिए उपयोगी कैसा बनाया जाए इस पर भी चर्चा की जाएगी ताकि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले उपभोक्ताओं को बाजार में सुविधाएं मिल सकें। शहर में नालियों को व्यवस्थित करने और सीवर लाइन बनाने का काम भी किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि अमृत योजना के तहत नगर में सीवर लाइन का जाल बिछाया जाएगा।

सरकारी जमीनों का होगा चिन्हांकन –

मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान नजूल की कई सरकारी जमीनों को चिन्हित किया गया। गांधी भवन के पास खतरनाक मोड़ को सुरक्षित करने के साथ ही दल सागर के सामने वेयर हाउस के पास खंडहर हालत में खड़े खादी ग्राम उद्योग की जगह का इस्तेमाल मॉल या अन्य किसी बाजार को विकसित किए जाने पर भी चर्चा हुई। बस स्टैंड सोहाने पेट्रोल पंप व दलसागर घाट के बीच बड़े नाले के अतिक्रमण को हटाकर इस जमीन व सामने स्थित खादी ग्रामोद्योग कॉम्पलेक्स का भी बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है। शराब दुकान के सामने बनी गुमठियों और गंदगी से बजबजा रहे पेशाबघर को हटाया जाएगा। दलसागर के चारों किनारे सुरक्षित व व्यवस्थित होंगे।

जनपद कॉम्पलेक्स के रुके प्रोजेक्ट पर लिया जाएगा संज्ञान –

शहर में बैनगंगा शॉपिंग कॉम्प्लेक्स नहीं बनने से दुकानों की कमी पर कलेक्टर का ध्यान आकर्षित कराया गया। इसमें जनपद कॉम्पलेक्स के सालों से रुके प्रोजेक्ट को ध्यान में लाया गया। जिस पर कलेक्टर ने जनपद सीईओ को प्रोजेक्ट से जुड़ी फाइलों सहित तलब किया है। कलेक्टर ने बताया कि प्रोजेक्ट को समझने के बाद इसकी बाधाओं को दूर किया जाएगा ताकि शहरवासियों को रोजगार के अवसर मिल सकें।

यह भी पढ़े :  सिवनी : नेताजी सुभाष चंद्र बोस शा. कन्या महाविद्यालय में स्वास्थ्य समस्याएं एवं निदान विषय पर कार्यशाला संपन्न

नपा कॉम्प्लेक्स की होगी जांच –

नगर पालिका द्वारा शहर में बनाए गए शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में अनेक दुकानें निलामी कार्रवाई पूरी किए बगैर कब्जाधारियों द्वारा संचालित किए जाने का मामला कलेक्टर के संज्ञान में आया है। कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बताया कि इस मामले में सीएमओ को कॉम्प्लेक्स में आवंटित दुकानों और अवैध कब्जाधारियों को चिन्हित कर दुकानें खाली करने का नोटिस देने के निर्देश दिए गए हैं। अवैध कब्जाधारियों से दुकानें खाली कराकर नीलाम की जाएंगी ताकि नपा के राजस्व को बढ़ाया जा सके।

इंजीनियर नपा में कराएं रजिस्ट्रेशन, मिलेगा व्यवसाय –

मकान निर्माण संबंधी अनुमति की प्रक्रिया ऑनलाइन होने के कारण शहरवासियों को इसका लाभ सीमित तौर पर मिल रहा है। प्रशासन के संज्ञान में यह बात भी आई है कि नपा से मात्र दो इंजीनियर पंजीकृत हैं जो मकान निर्माण संबंधी अनुमति के लिए नक्शे व अन्य दस्तावेज ऑनलाइन करने के लिए अधिकृत है। कलेक्टर प्रवीण सिंह ने बेरोजगार सिविल इंजीनियरों से आग्रह किया है कि वे नगर पालिका में इंजीनियर पंजीयन कराकर इस व्यवसाय को अपना सकते हैं। इससे भवन निर्माण की अनुमति लेने के लिए इच्छुक लोगों को इंजीनियरों की मोनोपल्ली से निजात मिलेगी।

50 लाख से बनेगी सोमवारी सड़क –

सोमवारी चौक से पीजी कॉलेज के आगे पीएमजीएसवाय की सीमा तक सड़क को चौड़ा करने पीडब्ल्यूडी और नगर पालिका साथ मिलकर काम करेंगे। 50 लाख रुपए खर्च कर सड़क को चौड़ा किया जाएगा। दलसागर तालाब के पिछले हिस्से के मोटर मैकेनिकों को खैरीटेक के नजदीक ट्रांसपोर्ट नगर में जगह दी जाएगी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.