Home सिवनी सिवनी : 15 अप्रैल से होगा गेंहू उपार्जन, पर किसानो को इन बातो का रखना होगा ध्यान

सिवनी : 15 अप्रैल से होगा गेंहू उपार्जन, पर किसानो को इन बातो का रखना होगा ध्यान

किसानों से एसएमएस प्राप्ति उपरांत ही उपार्जन केंद्र पहुँचने की अपील

सिवनी (Seoni News) : रबी विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन कार्य 15 अप्रैल से 30 मई 20 तक किया जाना है। जिले में लगभग 61 हजार किसानों द्वारा गेहूं उपार्जन हेतु पंजीयन कराया गया है। जिले में 98 उपार्जन केन्द्र स्थापित किए गए है.

जिले में गेहूं उपार्जन की सम्पूर्ण तैयारी पूर्ण कर ली गयी है तथा सभी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व),उपायुक्त सहकारिता, जिला विपणनअधिकारी, जिला प्रबंधक म.प्र. स्टेट सिविल सप्लाईज कार्पोरेशन, खरीदी प्रभारियों के साथ ही उपार्जन केन्द्र के नोडल अधिकारियों कोपृथक-पृथक दायित्व सौंपे गये है। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते उपार्जन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की गाइडलाईन के पालन कराए जाने हेतु संबंधितों को निर्देशित किया गया है। लाक डाउन होने की स्थिति में उपार्जन कार्य में संलग्न अधिकारियों/कर्मचारियों को संबंधित अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) द्वारा पास जारी किए जावेंगे।

- Advertisement -

किसानों को सूचित किया जाता है कि उपार्जन केन्द्रों पर केवल एसएमएस प्राप्त किसानों से ही उपज की तौल की जाएगी, प्रत्येक उपार्जन केन्द्र पर प्रारंभ में 06 किसानों को एसएमएस प्रतिदिन प्रेषित किए जावेंगे, जिसमें प्रथम पाली (प्रातः 10.00 से 01.30) में 03 किसानों एवं द्वितीय पाली (अपरान्ह 02.00 से 05.30) में 03 किसानों से उपार्जन किया जावेगा। किसानों को एसएमएस एनआईसी भोपाल स्तर से किए जावेंगे। किसानों को उपज विक्रय का एसएमएस उनके मोबाईल पर भेजा जाएगा तथा उपार्जन प्रभारी द्वारा इन किसानों की सूची पटवारी/सचिव ग्राम पंचायत/रोजगार सहायक को भी उपलब्ध कराई जाएगी।

किसानों से अनुरोध है कि एसएमएस प्राप्त होने के उपरांत ही अपनी उपज विक्रय हेतु उपार्जन केन्द्र पर लाए तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन करते हुए मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करें । उपार्जन केन्द्रों पर सेनेटाइजर अथवा साबुन की व्यवस्था की गई है। किन्हीं कारण यदि कोई किसान निर्धारित तिथि को उपार्जन केन्द्र पर नहीं पहुंच पाते है, तो उन्हें शीघ्र ही पुनः अवसर दिया जाएगा। अतः उपार्जन केन्द्रों पर अनावश्यक भीड़ न लगाए। प्रत्येक उपार्जन केन्द्र पर नोडल अधिकारी की नियुक्ति भी की गई है। कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु उपार्जन केन्द्रों पर उपस्थित समस्त कर्मचारियो, हम्माल, तुलावटी तथा किसानों को मास्क लगाए तथा सोशल डिस्टेंसिग का पालन करें।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

Leave a Reply

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
794FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

संकल्प पत्र पर बोली कांग्रेस- सिंधिया को कांग्रेस का दुल्हा बताने वाली BJP खुद बाराती भी नहीं बना रही है

भोपाल: विधानसभा उपचुनाव के लिए बीजेपी ने चुनावी रणनीति के तहत 28 अक्टूबर को एक साथ पूरे 28 विधानसभा...

दिग्विजय का सिंधिया से सवाल- राज्यसभा सांसद तो कांग्रेस भी बनाती थी फिर दुश्मन के सामने क्यों झुके

अशोकनगर: विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह दो दिवसीय दौरे पर अशोकनगर के मुंगावली पहुंचे। वहां नुक्कड़ सभा में सीएम शिवराज सिंह चौहान...

निकिता हत्याकांड पर फूटा कंगना का गुस्सा, कहा- इस्लाम स्वीकार नहीं किया तो लड़की को उतार दिया मौत के

हरियाणा के फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ शहर में कॉलेज से पेपर देकर बाहर निकली एक छात्रा निकिता तोमर(21) की मुस्लिम समुदाय के एक युवक...

स्वास्थ्य मंत्रालय बोला-भारत प्रति 10 लाख की आबादी पर सबसे कम केस वाले देशों में शामिल

भारत प्रति दस लाख की आबादी पर कोरोना वायरस संक्रमण और इससे होने वाली मौतों के सबसे कम मामलों वाले देशों की सूची में...

लद्दाख को चीन के भूभाग के तौर पर दिखाना : ट्विटर का जवाब पर्याप्त नहीं : मीनाक्षी लेखी

नयी दिल्ली: लद्दाख को चीन के भूभाग के तौर पर दिखाने के संबंध में संसदीय समिति के सामने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर का स्पष्टीकरण पर्याप्त नहीं...
x