khabar-satta-app
Home सिवनी CM शिवराज सिंह चौहान छुप- छुपकर नॉनवेज खाते हैं ?

CM शिवराज सिंह चौहान छुप- छुपकर नॉनवेज खाते हैं ?

CM शिवराज सिंह चौहान छुप- छुपकर नॉनवेज खाते हैं ?

सोशल मीडिया पर ये तस्वीर काफी वायरल हो रही है. इसमें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की थाली में मुर्गे की टांग रखी हुई दिख रही है. इस फोटो के आधार पर लोग शिवराज की आलोचना कर रहे हैं.

क्या मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मांस खाते हैं? सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक तस्वीर के साथ ये दावा किया जा रहा है कि शिवराज चुपके-चुपके मजे से मुर्गे का लुत्फ लेते हैं. हम आपको इसकी हकीकत बता रहे हैं.

क्या है इस वायरल पोस्ट में?

- Advertisement -

किसी विमान के अंदर की तस्वीर लगती है. शिवराज सिंह चौहान सीट पर बैठे हैं. सामने खाने से भरी थाली रखी है. वो जो अलग-अलग पार्टिशन वाली थाली होती है, वही वाली. शिवराज रोटी तोड़ रहे हैं. थाली के एक खाने में कोई हरे रंग की सब्जी रखी है. उसके बगल में एक और सब्जी है. देखने से लगता है आलू या पनीर है. खूब प्याज-टमाटर डालकर तैयार किया गया है. इसके बगल में एक और चीज है. खाने वाले पहचान लेंगे कि ये मुर्गे की टांग है. माने लेग पीस. इस तस्वीर के साथ एक मेसेज भी है. इसमें शिवराज सिंह चौहान को शर्म करने की सलाह दी गई है. लिखा है कि वो खुद मीट-मुर्गा खाते हैं और जनता के सामने कट्टर हिंदू होने का दिखावा करते हैं. मेसेज के आखिर में लिखा है-

शिवराज की फोटो लीक.

shivraj_Singh
ये है वो वायरल फोटो. पिछले दो-तीन दिन से सोशल मीडिया पर शेयर हो रही है. इस वाली पोस्ट को देखिए. ये खबर लिखे जाने तक 4,600 से ज्यादा लोग इसे शेयर कर चुके हैं.

असलियत क्या है?

फोटो एडिटिंग सॉफ्टवेयर वैसे बड़े काम की चीज है. मगर करना चाहें, तो इस सॉफ्टवेयर का खूब बेजा इस्तेमाल किया जा सकता है. ऐसे ही काबिलों ने शिवराज की एक फोटो पाई. उसमें बाकी सब ज्यों का त्यों रहने दिया. बस एक चीज बदल दी. थाली के तीसरे खाने में रखी एक सब्जी की जगह मुर्गे की दो टंगड़ी रख दी. और फिर ये तस्वीर कर दी सर्कुलेट. असली तस्वीर देखिए, हमने नीचे लगाई है-

कब की और कहां की फोटो है ये?

- Advertisement -

लोगों ने एडिटेड तस्वीर को देखा और शिवराज को लानत देने लगे. लिखने लगे कि वो हिंदू होकर भी मांस-मुर्गा खाते हैं. कुछ और मिथबस्टर वेबसाइट्स, जैसे- ऑल्ट न्यूज (जिग्नेश पटेल की रिपोर्ट) और सोशल मीडिया होक्स स्लेयर ने भी इस तस्वीर पर स्टोरीज़ की हैं. ये तस्वीर न्यूज एजेंसी पीटीआई की है. ये तस्वीर अभी नवंबर में ही आई थी. 17 तारीख के आस-पास. कई वेबसाइट्स ने इसे लगाया. ये तस्वीर असल में उस खबर का हिस्सा थी, जिसमें बताया गया था कि चुनाव प्रचार के दौरान शिवराज सिंह चौहान क्या खाते-पीते हैं. मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. उसके पहले का प्रचार चल रहा है. चुनाव के समय नेता बहुत बिजी रहते हैं. ऐसे में अक्सर इस तरह की खबरें आती हैं कि फलां नेता ये खाते हैं, वो खाते हैं और उनकी फिटनस का राज़ इसी में छुपा है. ये भी उसी तरह की खबर थी. लिखा था कि शिवराज घर का बना खाना खाते हैं और एक रैली से दूसरी रैली में जाते हुए विमान के अंदर ही झपकियां ले लेते हैं.


सैकड़ों बरस पहले से हिंदुस्तान के लोग मांस खाते आ रहे हैं

अव्वल तो ये तस्वीर फर्जीवाड़ा थी. झूठी थी. दूसरी और सबसे जरूरी बात कि शिवराज मांस खा ही लें तो इसमें शर्मिंदा होने की बात क्या है? इसलिए कि वो हिंदू हैं? मानो हिंदू मांस खाते ही न हों. भारत के सारे लोग शाकाहारी कभी नहीं थे. मुसलमानों के भारत में आने से बहुत-बहुत पहले से भारत के लोग मांस खाते आए हैं. बल्कि जब इस्लाम दुनिया में आया भी नहीं था, उसके भी सैकड़ों साल पहले से हिंदुस्तान में मांस बनाया और खाया जाता है. वेदों में पशुबलि का जिक्र है. बताया गया है कि अलग-अलग देवताओं को अलग-अलग जानवरों की बलि भाती है. ग्रंथों में कई जगहों पर हमें मांस खाए जाने का जिक्र मिलता है. और तो और, ब्राह्मणों की भी कई शाखाएं मांसहारी हैं. शाक्त ब्राह्मणों को देखिए. ये बात बस खयाली है कि फलां जाति या धर्म के लोग फलां चीज नहीं खाते.

…तो इस कहानी से हम क्या सीखते हैं?

- Advertisement -

1998 में एक फिल्म आई थी- हेलो ब्रदर. यूं तो ये एक बर्बाद सी फिल्म थी. फिर भी गीतकार फैज अनवर का शुक्रिया. फिल्म में उन्होंने एक गाना लिखा. वो आज की ये पड़ताल लिखते वक्त बड़ी जोर से मेरे दिमाग में आ रहा है. गाने की लाइन्स यूं हैं-

चांदी की डाल पर सोने का मोर… सोने का मोर
ताक-झांक ताक करे नीचे का चोर.

शिवराज की ये फोटोशॉप्ड तस्वीर वायरल होने के पीछे राजनीति तो है ही. साथ में ये ताक-झांक वाली बात भी है. दूसरों की थाली में झांकना, पड़ोसी की रसोई में कनखियों से तलाशी लेना, उसने क्या पहना, क्या ओढ़ा ये ताड़ना, इस किस्म का टुच्चापन हमारे यहां खूब होता है. और फिर एक दिन ऐसी ही हरकतों से किसी अखलाक की मॉब लिंचिंग कर दी जाती है. इसीलिए सलाह है. ऐसी बातों में बस अपना तय कीजिए. अपनी नैतिकता तय कीजिए. दूसरा क्या खा रहा है, इसपर क्यों सिर खपाना?


- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

Leave a Reply

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
790FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

सिवनी कोरोना वायरस: जब NGO एवं NCC, NSS के छात्र-छात्राओं का सिवनी कलेक्टर ने किया…

सिवनी : रोकोटोको अभियान के माध्यम से आमजनों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी...

सिवनी कोरोना न्यूज़ : 06 नए व्यक्तियों में कोरोना वायरस की पुष्टि, अब 67 एक्टिव केस

सिवनी : सिवनी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ के.सी. मेशराम द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया की विगत देर रात प्राप्त...

सिवनी: प्रदेश की जनता भोली है मगर मूर्ख नही- दीपक नगपुरे

सिवनी । चुनाव में पक्ष-विपक्ष और कटाक्ष तो होते है,मगर किसी दलित महिला के साथ इस तरह की अशोभनीय टिप्पणी करना एक...

आज शाम 6 बजे देश को संबोधित करेंगे PM मोदी, बोले- आप सब जरूर जुड़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 6 बजे देश को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी ने ट्वीट कर खुद इसकी जानकारी दी। पीएम मोदी ने ट्वीट...

उत्तर प्रदेश को मिलेंगे आज दो बड़े तोहफे, लखनऊ में कैंसर संस्थान तथा दो नये फ्लाईओवर तैयार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश को मंगलवार को दो बड़ी सौगात मिलेगा। लखनऊ के चक गंजरिया में कैंसर संस्थान के साथ ही लखनऊ में दो बड़े...