बैन हुए 3 फल और सब्जियां, भारत पर ‘खतरा’ | निपाह वायरस

- Advertisement -

केरल में निपाह वायरस का खौफ थमने का नाम नहीं ले रहा. हर दिन कोई नई जानकारी सामने आ रही है. एक तरफ जहां अब तक इस वायरस से 14 मौत हो चुकी हैं.

नई दिल्ली: केरल में एक तरफ निपाह वायरस का खतरा टलने का नाम नहीं ले रहा. वहीं, भारत के लिए भी यह सबसे बड़ा खतरा बनता जा रहा है. निपाह वायरस से जहां अब तक 14 मौत हो चुकी हैं. वहीं, केरल से फलों और सब्जियों को भी बैन कर दिया गया है. निपाह वायरस के चलते ही इन फलों को बैन किया गया है. इससे भारत के एक्सपोर्ट पर सबसे बड़ा खतरा मंडरा रहा है. WHO का दावा है कि यह वायरस चमगादड़ की लार, यूरीन और मलमूत्र से फैलता है. खासकर उन फलों के जरिए जो चमगादड़ अक्सर पेड़ पर चखते हैं. विशेष रूप से यह ग्रेटर इंडियन फ्रूट बैट हैं, जो दक्षिण एशिया में प्रचुर मात्रा में हैं, जिसमें निपाह वायरस होता है. चेतावनी जारी होने के बाद दूसरे देश भी निपाह वायरस को लेकर अलर्ट हो गए हैं.

किन फलों को किया गया बैन
केरल के स्थानीय अखबारों के मुताबिक, निपाह वायरस के खतरे को देखते हुए यूनाइटेड अरब एमिरेट्स (यूएई) और बेहरीन ने केरल से एक्सपोर्ट होने वाले फलों और सब्जियों को बैन कर दिया है. दोनों देशों ने केंद्र सरकार को इस बाबत सूचना दी है. निपाह वायरस का खतरा बताते हुए जिन फलों को बैन किया गया उनमें केला, आम, अंगूर हैं. इसके अलावा खजूर के एक्सपोर्ट पर भी रोक है. इसके अलावा सब्जियां भी बैन की गई हैं. निपाह वायरस की वजह से एक्सपोर्ट पर होने वाले नुकसान पर वाणिज्य मंत्रालय नजर रख रहा है. वाणिज्य मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, अगर हालात नहीं सुधरते तो एजेंसियों को इससे निपटने के लिए कहना होगा.

Nipah Virus: इसकी चपेट में आए तो नहीं हो पाएगा इलाज, जानें बचाव के उपाय

किन फलों को किया गया बैन
केरल के स्थानीय अखबारों के मुताबिक, निपाह वायरस के खतरे को देखते हुए यूनाइटेड अरब एमिरेट्स (यूएई) और बेहरीन ने केरल से एक्सपोर्ट होने वाले फलों और सब्जियों को बैन कर दिया है. दोनों देशों ने केंद्र सरकार को इस बाबत सूचना दी है. निपाह वायरस का खतरा बताते हुए जिन फलों को बैन किया गया उनमें केला, आम, अंगूर हैं. इसके अलावा खजूर के एक्सपोर्ट पर भी रोक है. इसके अलावा सब्जियां भी बैन की गई हैं. निपाह वायरस की वजह से एक्सपोर्ट पर होने वाले नुकसान पर वाणिज्य मंत्रालय नजर रख रहा है. वाणिज्य मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, अगर हालात नहीं सुधरते तो एजेंसियों को इससे निपटने के लिए कहना होगा.

कितना होता है फलों का एक्सपोर्ट
एग्रीकल्चर और प्रोसेस्ड फूड प्रोडक्ट एक्सपोर्ट डेवलपमेंट अथॉरिटी (APEDA) के मुताबिक, पिछले साल भारत से कुल 4448.08 करोड़ के फल एक्सपोर्ट किए गए थे. इसमें ज्यादातर आम, अंगूर, केला और अनार शामिल हैं. भारत सबसे बड़ा केले का उत्पादक देश है, यहां 26.04% केला पैदा होता है. वहीं, 44.51% पपीता और 40.75% आम पैदा होता है. कॉर्मस मिनिस्ट्री रीता तेवतिया के मुताबिक, पिछले साल भारत से आम का एक्सपोर्ट 52761 टन पहुंच था.

यह भी पढ़े :  SEONI CORONA NEWS : सिवनी जिले में 3 नए कोरोना पॉजिटिव , सिवनी कलेक्टर ने की पुष्टि, कुल संख्या पहुची 14
- Advertisement -

कहां होता है सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट
APEDA के मुताबिक, भारत से जिन देश में सबसे ज्यादा फल और सब्जियां एक्सपोर्ट होती हैं उनमें UAE, बांग्लादेश, मलेशिया, नीदरलैंड, श्रीलंका, नेपाल, UK, सऊदी अरब, पाकिस्तान और कतर हैं.

यह भी पढ़े :  सिवनी भाजपा ग्रामीण मण्डल ने पूर्व मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया

तीसरी बार भारत आया निपाह
केरल में निपाह वायरस के चलते हुई मौत कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी दो बार पश्चिम बंगाल में निपाह वायरस का अटैक हो चुका है. 2001 में सिलीगुड़ी में निपाह वायरस का खतरा मंडराया था. वहीं, 2007 में नादिया में निपाह वायरस का अटैक हुआ था. इस बार यह देश के दक्षिण राज्य में पहुंचा है. जहां कोझीकोड़ में एक ही परिवार के लोगों में यह पाया गया.

- Advertisement -

टॉप 5 फल जो होते हैं एक्सपोर्ट
काजू: 856.85 मिलियन डॉलर यानी 5700 करोड़ रुपए
अंगूर: 230.7 मिलियन डॉलर यानी 1534.78 करोड़ रुपए
आम: 163.22 मिलियन डॉलर यानी 1085.86 करोड़ रुपए
नारियल: 78.54 मिलियन डॉलर यानी 522.50 करोड़ रुपए
अनार: 76.36 मिलियन डॉलर यानी 508 करोड़ रुपए
कुल फल एक्सपोर्ट: 1610 मिलियन डॉलर यानी 10710 करोड़ रुपए

- Advertisement -



- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Short Stories

Leave a Reply

यह भी पढ़े :  SEONI : सिवनी कोतवाली में पदस्थ आरक्षक ने 5 वर्षीय बालक को मिलाया परिवार से

बन्दर को उम्रकैद : शराबी बन्दर को उम्रकैद, हरकतें जानकर आप भी होंगे हैरान

आपने अक्सर लोगों को उम्रकैद की सजा मिलने की खबर सुनी होगी,...

क्या 21 जून 2020 को खत्म हो जाएगी दुनिया? माया कैलेंडर पर चौंकाने वाला खुलासा

क्या 21 जून 2020 को खत्म हो जाएगी दुनिया? माया कैलेंडर पर चौंकाने वाला खुलासा अब दुनिया...

Corona Mata : महिलाओं-किन्नरों के सपने में आईं कोरोना माता, बोली – मेरी पूजा करो

कोरोना माता (Corona Mata) महिलाओं-किन्नरों के सपने में आईं कोरोना माता, बोली - मेरी पूजा करो

एक साथ 25 सरकारी स्कूलों में पढ़ा रही थी, साल भर में कमाए एक करोड़, फूर गया भांडा

आपको बता दें कि हर जिले के एक ब्लॉक में एक कस्तूरबा गांधी स्कूल होता है। यह...

मुसलमानों के लिए शराब पीने में कोई बुराई नहीं – मौलवी

पाकिस्तान के इस मौलवी ने दारू पीने वालों के लिहाज से ये कमाल की बात कह दी...

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

5,564FansLike
7,044FollowersFollow
483FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

चायनीज CCTV रखते हैं दिल्ली पर नजर, कई देशों में सुरक्षा कारणों से ब्लैकलिस्टेड है यह कम्पनी

CCTV कंपनी हिकविजन चीनी सेना के नियंत्रण में है। अमेरिका में ट्रम्प प्रशासन ने राष्ट्रीय सुरक्षा कारणों...

अमेरिकी चुनाव : भारत का बोलबाला, हर कोई भारत से रिश्ते बनाना चाहता है मजबूत

अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि अगर नवम्बर में वह चुनाव जीत जाते हैं, तो अमेरिका के ‘स्वाभाविक...

झटके पे झटका : इस केंद्रीय मंत्रालय ने किया चीनी उत्पादों को बैन

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने कहा कि उनके विभाग में अब कोई भी...

शिवराज कैबिनेट : नए चेहरे आए सामने , देखें किसे मिला मौका और किसका नाम छूटा?

भाजपा के कुल 16 नेताओं में 7 शिवराज की पिछली कैबिनेट में मंत्री रह चुके हैं, वहीं 9 नए चेहरे हैं जो...

चीनी ऐप बैन : भारत के सपोर्ट में खुलकर उतरा अमेरिका, कही ये अहम बात

वाशिंगटन: अमेरिका ने भारत के चीनी ऐप (Chiense App) पर प्रतिबंध फैसले का स्वागत किया है. विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ...