Thursday, May 26, 2022

NSUI महासचिव की गोली मारकर की गयी हत्या

Must read

Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
- Advertisement -

मंडला :शुक्रवार देर रात अपने छोटे भाई (चाचा के बेटे) का जन्मदिन मनाकर लौट रहे NSUI महासचिव सोनू परोचिया (28 वर्ष ) की गोली मरकर हत्या कर दी गयी जानकारी के अनुसार दस दिन पहले हुए विवाद के बाद बदला लेने के इरादे से आरोपितों ने एनएसयूआई महासचिव सोनू परोचिया की हत्या सीने में गोली मारकर कर दी। यह घटना शुक्रवार देर रात को हुई।

इस सनसनीखेज घटना की जानकारी जैसे ही लोगों को लगी। सकते में आ गए। वहीं कांग्रेसियों में इस घटना को लेकर जबर्दस्त आक्रोश था। एनएसयूआई कार्यकर्ता घटना के बाद अपना गुस्सा काबू में नहीं रख पा रहे थे। तो वहीं पुलिस एवं जिला प्रशासन इस बात को देखते हुए सतर्कता बढ़ा दी थी। जिला अस्पताल में मृतक को घटना के बाद ले जाया गया था। जहां सोनू परोचिया को मृत घोषित कर दिया गया था। शनिवार सुबह से कांग्रेस कार्यकर्ता जिला अस्पताल में बड़ी संख्या में जुटने लगे थे। जिस कारण पुलिस बल को भी पूरी सतर्कता के साथ तैनात कर दिया गया था। बज्र वाहन भी बुला लिया गया था।

- Advertisement -

सोनू परोचिया (28) स्वामी सीताराम वार्ड निवासी है वह अपने साथियों के साथ मटरू ढाबा पोड़ी अपने छोटे भाई चाचा के बेटे की जन्मदिन पार्टी मनाने गया था। वहीं आरोपित हैप्पी उर्फ मयूर यादव भी मटरू ढाबा खाना गया हुआ था। जब सोनू परोचिया अपने स्कूटी वाहन से रात में अपने दो साथियों के साथ जा रहा था। उसी समय आरोपित जीप में सवार होकर अपने साथियों के साथ गुरूद्वारा के पास पहुंचा और उसके स्कूटी को पीछे से जोरदार टक्कर मारी।

यह भी पढ़े :  Bhopal Jama Masjid: भोपाल की जामा मस्जिद विवाद के बीच चर्चा में आया काजी का पत्र, काजी ने आवाम से कही ये बड़ी बात - MP NEWS

जिससे स्कूटी सवार नीचे गिर गए: जिसमें सोनू और उसका साथी दीपक कछवाहा बेहोश हो गए। उसी समय बोलेरो से हैप्पी उतरा और अपनी पिस्टल निकालकर सोनू के सीने में गोली मार दी। जिससे उसकी मौके पर ही मोत हो गई। घटना के बाद आरोपित जीप में सवार होकर वे फरार हो गए। जिस दौरान जीप को रिवर्स करने समय मृतक के पैर चपेट में आ गया।

- Advertisement -

साथी दिगंबर बैरागी ने बताई घटनाः मृतक के साथ और स्कूटी चला रहा साथी दिगंबर बैरागी ने बताया कि टक्कर लगने के बाद पीछे बैठे सोनू और दीपक नीचे गिर गए और बेहोश होकर चित पड़े थे। आरोपित हैप्पी ने सबसे पहले उसके ऊपर गोली चलाई। लेकिन वह दौड़ लगाकर खेतों की ओर भागा। उसके बाद हैप्पी को गोली मारी गई।

10 पहले हुए विवाद में सोनू ने आरोपित को जड़ दिया था थप्पड़ः सोनू के दोस्त ने बताया कि करीब 10 दिन पहले भी डिंडौरी मार्ग के पास एक ढाबे में विवाद हुआ था। उस समय सोनू अकेला ही ढाबा गया था। आरोपित अपने अन्य साथियों के साथ था। ढाबे में उससे जबर्दस्ती गाली गलौच की जा रही थी। पहले तो उसने अनदेखा किया था। बाद में फिर विवाद होने पर सोनू ने आरोपित हैप्पी को थप्पड़ जड़ दिया था। शायद यही कारण रहा हो कि उसने इसका बदला लिया हो। उसके दोस्त के मुताबिक उसका और कोई ऐसा विवाद नहीं था। सोनू तो मकान निर्माण का ठेका लेता था और सेंर्टिंग का काम करता था।

यह भी पढ़े :  पंखे से लटककर नहीं कर पाएगा कोई खुदकुशी, इंदौर के प्रोफेसर ने बनाया एंटी सुसाइड फैन, जानिए कीमत और खासियत
- Advertisement -

जिला अस्पताल में पुलिस बल रहा तैनातः शनिवार को जिला अस्पताल में मृतक का पीएम किया जा रहा था। कांग्रेस कार्यकर्ताओं में आक्रोश के चलते प्रशासन पूरी तरह अलर्ट पर था। जिला कांग्रेस अध्यक्ष संजय सिंह परिहार, ब्लाक अध्यक्ष अमित शुक्ला, मंडला लोकसभा अध्यक्ष अभिनव चौरसिया, एनएसयूआई के पदाधिकारी और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता जुट गए थे।

यहां पर कोई हंगामा न हो : जिस कारण पुलिस बल भी बुला लिया गया था। इसके साथ ही सभी पुलिस एवं प्रशासन के आला अधिकारी पहुंच गए थे। पुलिस व जिला प्रशासन के आला अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम कुशवाह, अपर कलेक्टर मीना मसराम, एसडीएम व्हीके कर्ण, एसडीओपी एवी सिंह,तहसीलदार अनिल जैन, सहित महाराजपुर थाना प्रभारी सुशील पटेल, मंडला थाना प्रभारी नीलेश दोहरे सहित आला अधिकारी पूरे समय पीएम होने तक मौजूद रहे।

उदय चौक में किया गया धरना प्रदर्शनः पीएम के उपरांत शव परिजनों को सौंप दिया गया। लेकिन शव वाहन से जैसे ही अस्पताल के निकट उदय चौक वाहन पहुंचा। वाहन को एनएसयूआई व कांग्रेस कार्यकर्ता वहां धरना प्रदर्शन करने लगे। वाहन को रोक लिया गया। कलेक्टर व एसपी को मौके पर बुलाने व जल्द आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की जाने लगी।

खूब नारेबाजी भी की गई इस दौरान कांग्रेस के बिछिया विधायक नारायण पटटा भी पहुंच गए थे। सभी इस प्रदर्शन में शामिल हो गए थे। जिसके बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मृतक के चाचा के द्वारा कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया गया और जल्द गिरफ्तारी की मांग की गई। वरना उग्र आंदोलन की बात कही गई है।

यह भी पढ़े :  MP ELECTION: मध्यप्रदेश के राजगढ़ में भाजपा ने किया नगरीय निकाय चुनाव का शंखनाद

आरोपित हैप्पी यादव आपराधिक प्रवृत्ति का है और बजरंग दल का कार्यकर्ता हैः जिला कांग्रेस अध्यक्ष संजय सिंह का आरोप था कि आरोपित हैप्पी यादव आपराधिक प्रवृत्ति का था। जो जबलपुर का रहने वाला था और बजरंग दल का कार्यकर्ता था और मंडला में रह रहा था। जिस पर 110 की कार्यवाही लंबित थी। लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

10 हजार का इनाम किया था घोषित : पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार शुक्ला ने मुख्य आरोपित हैप्पी यादव की गिरफ्तारी के लिए इनाम की घोषणा की थी। उन्होंने कहा है कि जो भी आरोपी को पकड़वाएगा या जानकारी देगा। उसे 10 हजार रुपए इनाम की राशि दी जाएगी।

- Advertisement -
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article