HOME

WhatsApp

Google News

Shorts

Facebook

Home » देश » टॉयकैथन-2021 में बोले PM मोदी- तकनीक भारत की सबसे बड़ी ताकत

टॉयकैथन-2021 में बोले PM मोदी- तकनीक भारत की सबसे बड़ी ताकत

By Ranjana Pandey

Published on:

Follow Us

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

डेस्क।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए टॉयकैथॉन-2021 के प्रतिभागियों से बात की। इस अवसर पर मोदी ने कहा कि पहले टॉयकैथॅन में 1,500 से अधिक दलों का भाग लेना उज्ज्वल भविष्य, ‘आत्मनिर्भर भारत’ कार्यक्रम को मजबूत करने का संकेत है।

उन्होंने कहा कि बीते 5-6 वर्षों में हैकाथॉन को देश की समस्याओं के समाधान का एक बड़ा प्लेटफॉर्म बनाया गया है। इसके पीछे की सोच है- देश के सामर्थ्य को संगठित करना, उसे एक माध्यम देना। कोशिश ये है कि देश की चुनौतियों और समाधान से हमारे नौजवान का सीधा कनेक्ट हो।


मोदी ने आगे कहा कि मैंने खिलौनों और डिजिटल गेमिंग की दुनिया में आत्मनिर्भरता और लोकल सोल्यूशन्स के लिए अपील की थी। उसका पोजिटिव रिस्पोंस दिख रहा है। ये टॉय, गेम्स हमारी मानसिक शक्ति, हमारी क्रिएटिविटी और हमारी अर्थव्यवस्था जैसे अनेक पहलुओं को प्रभावित करती है।

Global Toy Market करीब 100 बिलियन डॉलर का है। इसमें भारत की हिस्सेदारी सिर्फ डेढ़ बिलियन डॉलर के आसपास ही है। आज हम अपनी आवश्यकता के भी लगभग 80 प्रतिशत खिलौने आयात करते हैं। यानि इन पर देश के करोड़ों रुपये बाहर जा रहे हैं। इस स्थिति को बदलना ज़रूरी है।


मोदी ने कहा कि खिलौने और खेल हमारी मानसिक शक्ति, सृजनात्मकता, अर्थव्यवस्था और ऐसे अनेक पहलुओं को प्रभावित करते हैं, इसलिए इन विषयों की बात भी उतनी ही आवश्यक है। सौ अरब डॉलर के वैश्विक खिलौना बाजार में भारत की केवल 1.5 अरब डॉलर की हिस्सेदारी है, हम 80 प्रतिशत खिलौनों का आयात करते हैं।

इसमें बदलाव की आवश्यकता है। हमारा फोकस ऐसे Toys और Games का निर्माण करने पर भी हो, जो हमारी युवा पीढ़ी को भारतीयता के हर पहलू को रोचक तरीके से बताए। हमारे Toys और Games, entertain भी करें Engage भ करें और Educate भी करें, ये हमें सुनिश्चित करना है।

Also read- https://khabarsatta.com/bollywood/hrithik-roshan-announces-krrish-4-shares-video/

Leave a Comment