अब इन गांवों को जल्द मिलेगा अच्छा नेटवर्क, जिओ और एयरटेल लगा रही 4G टॉवर, मोदी सरकार ने दिए इतने करोड़

Now these villages will soon get good network, Jio and Airtel are installing 4G towers, Modi government has given so many crores

Must read

Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
- Advertisement -

इस समय रिलायंस जियो और भारती एयरटेल कंपनी अपना नेटवर्क बढ़ाने में लगी है। ऐसे कई गांव है, जहां पर 4G नेटवर्क की सेवाएं नहीं मिल पा रही है।

यहां आलम यह है कि नेटवर्क नहीं मिलने की वजह से लोग काफी परेशान हो रहे हैं। ऐसे में अब केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा इन गांवों में 4G नेटवर्क की सुविधा मिले इसके लिए रिलायंस जियो और एयरटेल कंपनी को 3683 करोड रुपए की परियोजना आवंटित की है। जिससे दूरदराज के गांवों में 4G मोबाइल सेवाएं प्रदान की जाएगी।

जिओ और एयरटेल लगायेगी इतने 4G टॉवर

- Advertisement -

जानकारी के अनुसार एयरटेल झारखंड और महाराष्ट्र में 4जी सेवाओं से वंचित गांव में 847.95 करोड रुपए की लागत से 1083 मोबाइल टावर लगाने जा रही है।

इसके अलावा टेलीकॉम कंपनी जिओ की बात करें तो 2836 करोड़ रुपए की लागत से 3696 मोबाइल टावर लगाएगी। जिससे यहां के गांव के लोगों को 4G नेटवर्क की सुविधा मिल सकेगी ।

- Advertisement -

जानकारी मिली है कि पांच राज्यों के अक्षांश जिलों के वंचित गांवों को 4G नेटवर्क की सुविधा मिलेगी। इसके लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल मंजूरी भी दे दी थी।

18 महीने में टॉवर लगाने का दिया लक्ष्य

बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल के द्वारा इस पर मिली मंजूरी के बाद मोदी सरकार के द्वारा इन गांवों में 4G नेटवर्क की सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए यह काम जियो और एयरटेल कंपनी को दिया गया था।

- Advertisement -

जिसमें इन कंपनियों के द्वारा टावर लगाने का काम किया जा रहा है। इन कंपनियों के द्वारा दिए गए 18 महीनों में इन गांव में 4जी सेवाएं उपलब्ध करवा दी जाएगी जिसके बाद इन गांवों में 4G नेटवर्क की समस्या उत्पन्न नहीं होगी।

इन राज्यों में 2023 तक काम होगा पूरा

इस परियोजना में जिन राज्यों में 4G नेटवर्क की सुविधा दी गई है। उनमें झारखंड, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा ,शामिल है। इसमें 44 जिलों के 7287 गांव में 4G नेटवर्क की सुविधा के लिए टावर लगाए जाएंगे ।

जिसमें कुल 6466 करोड रुपए का खर्च आएगा। इस काम को नवंबर 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य दिया गया है और उम्मीद भी है कि इसे इस डेड लाइन के अंदर ही पूरा कर लिया जाएगा।

- Advertisement -

Latest article