Home देश शराब नहीं मिलने पर पी गया सैनिटाइजर, मौत

शराब नहीं मिलने पर पी गया सैनिटाइजर, मौत

तमिलनाडू में कोयंबतूर के सुलूर में एक गैस सिलेंडर डिलीवरी मैन ने शनिवार को शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर का सेवन कर लिया। जिसकी कीमत उसे अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। हैंड सैनिटाइजर पीने से शख्स की मौत हो गई। शनिवार सुबह करीब 3 बजे शख्स को घर पर बेहोश पाया गया।

तुरंत उसे नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बाद में, मेडिकल जांच में पता चला कि उसने अपनी मौत से पहले हैंड सैनिटाइज़र का सेवन किया था।

- Advertisement -

रिपोर्ट्स के अनुसार सिलेंडर की डिलीवरी करने वाला शख्स शराब का लती था और उसे एजेंसी की ओर से हाथ साफ करने के लिए हैंड सैनिटाइजर दिया गया था। मृतक की पहचान कोयंबटूर के पास सुलूर में करायारियप्पा देवर स्ट्रीट में रहने वाले ई बर्नार्ड (35) के रूप में हुई है।

एक पुलिस सूत्र के अनुसार, बर्नार्ड लॉकडाउन के कारण पिछले एक सप्ताह से शराब नहीं मिलने की वजह से परेशानी का सामना कर रहा था। पुलिस के अनुसार ऐसा संदेह है कि किसी ने उसे बताया कि सैनिटाइजर भी शराब का काम कर सकता है।

- Advertisement -

इसके अलावा, शख्स ने कहीं यह भी सुन रखा था कि शराब पीने से उन्हें कोरोनो वायरस से लड़ने में मदद मिल सकती है। इसलिए, उसने शराब के विकल्प के रूप में सैनिटाइज़र का इस्तेमाल किया।

शव को पोस्टमॉर्टम के लिए कोयंबटूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है। सुलूर पुलिस ने आगे की पूछताछ के लिए मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़े :  सूचना युग में निजता की धारणा, जानिए- क्‍या होगा वाट्सएप की शर्तें मानने का परिणाम
- Advertisement -

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

12,566FansLike
7,044FollowersFollow
781FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

उत्तराखंड में बुनकर और हथकरघा को इस बार मिलेगा आर्थिक संबल

देहरादून। कोरोनाकाल में लगभग बंद हो चुके उत्तराखंड के बुनकर और हथकरघा से जुड़े हजारों ग्रामीणों के लिए नया साल...
यह भी पढ़े :  पाकिस्तान की एक और आतंकी साजिश नाकाम, BSF को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर मिली सुरंग

उत्तराखंड में साहसिक पर्यटन पर फोकस, इन आठ ट्रैकिंग रूट के सुदृढ़ीकरण और सौंदर्यीकरण की मुहिम शुरू

x