Tuesday, May 17, 2022

आम बजट: खरीफ की फसलों का न्यूनतम मूल्य होगा डेढ़ गुना

Must read

Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
- Advertisement -

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट भाषण को शुरू करते हुए कहा, “बाजार में कैश का प्रचलन कम हुआ है. हमारी अर्थव्यवस्था पटरी पर है. भारत दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगी.” इससे उनका इशारा एक भार फिर नोटबंदी को सफल बताने की ओर था. आइए जानते हैं वित्त मंत्री जेटली जो बजट पेश कर रहे हैं उसकी बड़ी बातें-
जेटली ने कहा- सरकार जीएसटी को आसान बनाने की कोशिश कर रही है. जीएसटी से देश का टैक्स बढ़ा है.
जेटली ने कहा- सरकार का फोकस गांवों के विकास पर होगा. मध्य वर्ग की जिंदगी में सरकारी दखल कम करने की कोशिश जारी है.
वित्त मंत्री ने कहा- हमारी सरकार के पिछले 3 सालों में औसत विकास दर 7.5 प्रतिशत पहुंची, भारतीय अर्थव्यवस्था 2.5 ट्रिलियन डॉलर की हुई है.
वित्त मंत्री ने कहा-
2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे. न्यूनतन समर्थन मूल्य 1.5 गुना बढ़ाने का एलान. खरीफ का समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना होगा. नया ग्रामीण बाजार ई-नैम बनाने का एलान, किसानों को पूरा एमएसपी देने का लक्ष्य. जिलेवार खेती का मॉडल तैयार किया जाएगा.
वित्त मंत्री ने कहा- 42 मेगा फूड पार्क बनाए जाएंगे. आलू, टमाटर और प्याज के लिए सरकार 500 करोड़ रुपए देगी. अब पशुपालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड मिलेगा. 1290 करोड़ रुपए से बांस मिशन चलाया जाएगा. खेती के कर्ज के लिए 11 लाख करोड़ मिलेंगे.
वित्त मंत्री ने कहा- 4 करोड़ गरीब परिवारों को बिजली कनेक्शन देंगे. 2 करोड़ शौचालय और बनाए जाएंगे. 6 करोड़ शौचालय बनाए जाने से महिला गरीमा बढ़ी.
वित्त मंत्री ने कहा- आदिवासी बच्चों के लिए एकलव्य स्कूल खोलेंगे. प्री-नर्सरी से 12वीं तक पढ़ाई के लिए एक नीति होगी.
वित्त मंत्री ने कहा- 50 करोड़ लोगों को हेल्थ बीमा मुहैया कराया जाएगा. हर साल पांच लाख रुपए दिए जाएंगे. इसके सहारे देश की 40 फीसदी आबादी को मिलेगा हेल्थ बीमा का लाभ.
वित्त मंत्री ने कहा- 24 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे. टीबी मरीजों के लिए 600 करोड़ रुपए की स्कीम. टीबी मरीज को हर महीने 500 रुपए देंगे.
वित्त मंत्री ने कहा- व्यापार शुरु करने के लिए मुद्रा योजना में 3 लाख करोड़ का फंड. छोटे उघोगों के लिए 3,794 करोड़ रुपए खर्च होंगे.
वित्त मंत्री ने कहा- उज्जवला स्कीम के तहत 8 करोड़ महिलाओं को गैस कनेक्शन, वहीं 2 करोड़ शौचालय बनवाने का लक्ष्य और 2022 तक सबको घर देने का भी लक्ष्य है।

यह भी पढ़े :  सिवनी में आदिवासी युवको की मौत: जाँच के लिए SIT पहुँची सिवनी
- Advertisement -
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article