Homeदेशभूकंप के दौरान सतर्कता से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, जरूर पढ़े और...

भूकंप के दौरान सतर्कता से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, जरूर पढ़े और सबके साथ शेयर जरूर करें

Some important things related to vigilance during earthquake, must read and share with everyone

- Advertisement -

भूकंप के दौरान सतर्कता से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, जरूर पढ़े और सबके साथ शेयर जरूर करें

-अगर आप किसी इमारत के अंदर हैं तो फर्श पर बैठ जाएं और किसी मजबूत फर्नीचर के नीचे चले जाएं. यदि कोई मेज या ऐसा फर्नीचर न हो तो अपने चेहरे और सर को हाथों से ढंक लें और कमरे के किसी कोने में दुबककर बैठ जाएं.
-अगर आप इमारत से बाहर हैं तो इमारत, पेड़, खंभे और तारों से दूर हट जाएं.
-अगर आप किसी वाहन में सफर कर रहे हैं तो जितनी जल्दी हो सके वाहन रोक दें और वाहन के अंदर ही बैठे रहें.
-अगर आप मलबे के ढेर में दब गए हैं तो माचिस कभी न जलाएं, न तो हिलें और न ही किसी चीज को धक्का दें.
-मलबे में दबे होने की स्थिति में किसी पाइप या दीवार पर हल्के-हल्के थपथपाएं, जिससे कि बचावकर्मी आपकी स्थिति समझ सकें. अगर आपके पास कोई सीटी हो तो उसे बजाएं.
-कोई चारा न होने की स्थिति में ही शोर मचाएं. शोर मचाने से आपकी सांसों में दमघोंटू धूल और गर्द जा सकती है.
-अपने घर में हमेशा आपदा राहत किट तैयार रखें.

यह भी पढ़े :  वैक्सीन को लेकर बड़ी खुशखबरी! अमेरिकी Novavax कोरोना के वैरिएंट पर 93 फीसदी असरदार- स्टडी

भूकंप आता कैसे है?

पृथ्वी की बाहरी सतह सात प्रमुख और कई छोटी पट्टियों में बंटी होती है. 50 से 100 किलोमीटर तक की मोटाई की ये परतें लगातार घूमती रहती हैं. इसके नीचे तरल पदार्थ लावा होता है और ये परतें (प्लेटें) इसी लावे पर तैरती रहती हैं और इनके टकराने से ऊर्जा निकलती है, जिसे भूकंप कहते हैं.

- Advertisement -
यह भी पढ़े :  Coronavirus Third Wave: अक्टूबर में तीसरी लहर❗ , एक्सपर्ट्स ने दी चेतावनी

भारतीय उपमहाद्वीप को भूकंप के खतरे के लिहाज से सीसमिक जोन 2,3,4,5 जोन में बांटा गया है. पांचवा जोन सबसे ज्यादा खतरे वाला माना जाता है. पश्चिमी और केंद्रीय हिमालय क्षेत्र से जुड़े कश्मीर, पूर्वोत्तर और कच्छ का रण इस क्षेत्र में आते हैं.

कितनी देर तक आया भूकंप है खतरनाक?

सिवनी में भी पृथ्वी की गति में परिवर्तन के कारण ही भूकंप के झटके महसूस किए गए. हालांकि सिवनी 3.3 रिक्टर स्केल का भूकंप दर्ज किया गया. जो कि मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार ज्यादा खतरनाक नहीं होता है. वैज्ञानिकों ने भूकंप मापने के दो पैमाने बताए है, एक है भूकंप की तीव्रता यानी किस गति से भूकंप आया, और दूसरा है समय अंतराल अर्थात कितनी देर तक भूकंप आया. 

कितने समय अंतराल का भूकंप कितना हानिकारक?

- Advertisement -

1. वैज्ञानिकों के अनुसार अक्सर भूकंप 30 से 40 सेकंड का आता है. जो सामान्य और कम नुकसानदायक है
2. अगर यही भूकंप दो मिनट से ज्यादा तक आ गया, तो ये क्षेत्र को भयंकर नुकसान पहुंचा सकता है. 

यह भी पढ़े :  CBSE 12वीं बोर्ड, इस तारीख को नतीजे होंगे घोषित…

कितने रिक्टर स्केल का भूकंप है कम खतरनाक? 

1. 6.0 से कम तीव्रता के भूकंप देश में 100 से ज्यादा बार दर्ज किए जाते है, जो 150 किलोमीटर के क्षेत्र को हानी पहुंचा सकता है. 
2. 6.0 से 6.9 की तीव्रता वाला भूकंप 160 किलोमीटर के दायरे में खतरनाक होता है. 
3. 7.0 से 7.9 की ताव्रता वाला भूकंप साल में औसतन 15 से 20 बार दर्ज किया जाता है. जो एक बड़े क्षेत्र को नुकसान पहुंचा सकता है. 
4. 8.0 से 8.9 की तीव्रता वाला भूकंप कई सौ किलोमीटर वाले क्षेत्र में भयंकर तबाही मचा सकता है. जो साल में मुश्किल से एक बार दर्ज किया जाता है. 
5. 9.0 से 9.9 हजारों किलोमीटर वाले क्षेत्र को बर्बाद करने के लिए काफी है. जो 15 से 20 सालों में एक बार देखने को मिलता है. 
6. दुनिया में आज तक 10 से ज्यादा तीव्रता वाला भूकंप आज तक दर्ज नहीं किया गया है. वैज्ञानिकों के अनुसार इस तीव्रता का भूकंप किसी छोटे देश को पूरी तरह तबाह कर सकता है. 

- Advertisement -
यह भी पढ़े :  वैक्सीन को लेकर बड़ी खुशखबरी! अमेरिकी Novavax कोरोना के वैरिएंट पर 93 फीसदी असरदार- स्टडी

Web Title : Some important things related to vigilance during earthquake, must read and share with everyone

- Advertisement -
spot_img
spot_img
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Popular (Last 7 Days)

Whatsapp New Feature

WhatsApp Add to Cart Feature: व्हाट्सएप यूजर्स को Shopping के लिए Whatsapp पर मिलेगी...

नई दिल्ली: WhatsApp Add to Cart Feature: व्हाट्सएप यूजर्स को Shopping के लिए Whatsapp पर मिलेगी 'Add to Cart' बटन व्हाट्सएप ने इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म...
corona kids mp news

Coronavirus Third Wave: अक्टूबर में तीसरी लहर❗ , एक्सपर्ट्स ने दी चेतावनी

Coronavirus Third Wave: भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus) की तीसरी लहर (Third Wave) अक्टूबर (October) में आ सकती है. स्वास्थ्य जगत से जुड़े 40 विशेषज्ञों...

AHMEDABAD: साबरमती नदी के पानी में मिला CORONAVIRUS

अहमदाबाद । देश में कोरोना की दूसरी लहर में गुजरात के अहमदाबाद शहर में सबसे ज्यादा मामले सामने आए। अब तक देश के कई...

प्रधानमंत्री अग्रिम मोर्चे के कोरोना योद्धाओं के लिए विशेष रूप से तैयार क्रैश कोर्स...

कोविड-19 फ्रंटलाइन वर्करों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक क्रैश कोर्स लॉन्च किया। इसके साथ ही उन्होंने महामारी कोविड-19 को लेकर देश को तैयार रहने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि आज शुरू किए जा रहे क्रैश कोर्स के जरिए
milkha singh dies

Milkha Singh Death: मिल्खा सिंह की Covid-19 से म्रत्यु, पांच दिन पहले पत्नी का...

Milkha Singh Death: मिल्खा सिंह की Covid-19 से म्रत्यु, पांच दिन पहले पत्नी का निधन :महान भारतीय एथलीट मिल्खा सिंह का शुक्रवार रात चंडीगढ़...
ganga ji uttrakhand

उत्तराखंड: गंगा नदी का रौद्र रूप, जलस्तर बढ़ा; ऋषिकेश में कई घाट डूबे

उत्तराखंड में मानसून (Monsoon) शुरुआत से ही खौफनाक रूप दिखा रहा है। लगातार कई घंटों से हो रही मूसलाधार बारिश से कई नदियां उफान...
cm-shivraj

MP को कोरोना से मुक्ति में होगी युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका: CM SHIVRAJ

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि 'युवा शक्ति कोरोना मुक्ति अभियान' के माध्यम से प्रदेश के महाविद्यालयों के लगभग 10...
baba-ka-dhaba

BABA KA DHABA: नहीं चल रहा बाबा का ढाबा, कांता प्रसाद ने की खुदकुशी...

नई दिल्ली । दक्षिण जिले के मालवीय नगर इलाके में बाबा का ढाबा चलाने वाले 81 वर्षीय कांता प्रसाद ने बीती रात नींद की...
UP Board 12th Exam Cancelled

MP Board 10-12 Result 2021: जुलाई में घोषित होगा दसवीं-बारहवीं का रिजल्ट

MP Board 10-12 Result 2021: जुलाई में घोषित होगा दसवीं-बारहवीं का रिजल्ट: माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं और 12वीं दोनों बोर्ड परीक्षाएं इस बार...

CGPSC Mains Result : छत्तीसगढ़ सिविल जज भर्ती मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी, डायरेक्ट...

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग (CGPSC) ने सिविल जज मुख्य परीक्षा 2020 का रिजल्ट जारी कर दिया है. अभ्यर्थी अपने नतीजे सीजीपीएससी की वेबसाइट psc.cg.gov.in पर जाकर चेक कर सकते हैं.
- Advertisment -