03 स्वर्ण सहित सिवनी ने जीते 19 पदक | SEONI NEWS

0
92

सिवनी । शिक्षा विभाग द्वारा रानीताल स्टेडियम जबलपुर में 65वीं राज्य स्तरीय शालेय किक बॉक्सिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें जिले के 14, 17 व 19 आयु वर्ग के कुल 24 बालक – बालिकाओं ने भाग लेकर 03 स्वर्ण, 06 रजत व 10 कांस्य सहित कुल 19 पदक जीते।

प्रतियोगिता में 17 वर्ष बालक वर्ग में 40 किलो ग्राम भार वर्ग में प्रदयुम उईके ने रीवा संभाग के खिलाड़ी को हराते हुए स्वर्ण पदक जीता। वहीं क्रमशः 19 वर्ष बालक व बालिका 56 किलो ग्राम भार वर्ग में राहुल इनवाती और 48 किलो ग्राम भार वर्ग में रानू भारद्वाज ने अपने – अपने फाईनल मुकाबले में भोपाल संभाग के खिलाड़ी को पीछे छोड़, स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। ये तीनों खिलाड़ी अब राष्ट्रीय शालेय किक बॉक्सिंग प्रतियोगिता में शामिल होंगे।

विभिन्न आयु व भार वर्ग में जिले के 14 वर्ष बालिक आयु वर्ग में 24 किलो ग्राम भार वर्ग में साधना गौर ने रजत पदक, 42 किलो ग्राम में दीपिका सराठे ने कांस्य पदक, 50 किलो ग्राम में पूर्णिमा ब्रम्हवंशी ने कांस्य पदक जीता। 14 वर्ष बालक आयु वर्ग में क्रमशः 24 किलो ग्राम भार वर्ग में आयुष नाविक ने कांस्य पदक, 28 किलो ग्राम भार वर्ग में पवन बरमैया ने कांस्य पदक, 37 किलो ग्राम भार वर्ग में अविनाश कमलेश ने कांस्य पदक, 47 किलो ग्राम में सत्यक रजक ने रजत पदक, 63 किलो ग्राम में विनायक बघेल ने कांस्य पदक जीता।

यह भी पढ़े :  07 जुआरियों बने पुलिस के मेहमान | SEONI NEWS

17 वर्ष बालिका आयु वर्ग में 40 किलो ग्राम भार वर्ग में रूपाली पराते ने रजत पदक, 45 किलो ग्राम भार वर्ग में कृतिका उईके ने कांस्य पदक, 55 किलो ग्राम भार वर्ग में मुस्कान तुमराम ने रजत पदक जीता। 17 वर्ष बालक आयु वर्ग में 35 किलो ग्राम भार वर्ग में आदित्य धुर्वे ने रजत पदक, 45 किलो ग्राम भार वर्ग में मोहित उईके ने रजत पदक, 55 किलो ग्राम भार वर्ग में आर्यन देशमुख ने कांस्य पदक जीता।

19 वर्ष बालिका आयु वर्ग में 45 किलो ग्राम भार वर्ग में सुहानी सनोडिया ने रजत और 19 वर्ष बालक आयु वर्ग में 52 किलो ग्राम भार वर्ग में दुर्गेश कुमरे ने कांस्य पदक जीता। वहीं आरिफ खान, आरिस खान, अभय यादव, पवन चौधरी ने भी अपने – अपने बेहतरीन कला कौशल का प्रदर्शन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.