Home सिवनी Seoni Medical College : सिवनी, सतना व छतरपुर मेडिकल कॉलेज की कवायद नए सिरे से

Seoni Medical College : सिवनी, सतना व छतरपुर मेडिकल कॉलेज की कवायद नए सिरे से

मेडिकल कॉलेज की मंजूरी के एक साल बाद भी जमीन पर आगे नहीं बढ़ा काम। लोक निर्माण विभाग अब नए सिरे से बना रहा एस्टीमेट।

SEONI MEDICAL COLLEGE
Seoni Medical College : मध्यप्रदेश में सिवनी (SEONI),सतना (SATNA) और छतरपुर (CHHATARPUR) में मेडिकल कॉलेज (Medical College) भवन निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग ने नए सिरे से कवायद शुरू कर दी है।

भोपाल। मध्यप्रदेश में सिवनी (SEONI),सतना (SATNA) और छतरपुर (CHHATARPUR) में मेडिकल कॉलेज (Medical College) भवन निर्माण के लिए लोक निर्माण विभाग ने नए सिरे से कवायद शुरू कर दी है। तीनों मेडिकल कालेज को राज्य मंत्रिपरिषद की मंजूरी के एक साल बाद भी जमीन पर प्रगति नहीं हो पाई। अब विभाग फिर से एस्टीमेट बनाने में जुटा है, टेंडरों में गड़बड़ी सामने आने के बाद ही यह प्रक्रिया फिर शुरू की गई है।

- Advertisement -

छतरपुर मेडिकल कॉलेज की चिन्हित जमीन को लेकर भी विवाद की स्थिति सामने आई है, मामले में प्रतिवादी पार्टी कोर्ट से स्थगन ले आई है। अगस्त 2018 में तत्कालीन भाजपा सरकार की मंत्रिपरिषद ने छतरपुर, सिवनी और सतना में मेडिकल कॉलेज खोलने का एलान किया था। एक साल बाद भी इन तीनों कॉलेज भवन निर्माण को लेकर बात आगे नहीं बढ़ पाई। लोक निर्माण विभाग की परियोजना क्रियान्वयन इकाई (पीआईयू) अब नए सिरे से टेंडर की प्रक्रिया शुरू करने की कवायद में जुटी है।

तीनों मेडिकल कॉलेज प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत खुलना थे, जिसमें निर्माण व उपकरण का 60 फीसदी केंद्र और 40 फीसदी राज्य सरकार को देना था। शासन ने एक कॉलेज को तैयार करने के लिए 300 करोड़ रुपए का बजट तय किया था।

- Advertisement -

इस तरह करीब 900 करोड़ रुपए से तीनों कॉलेज तैयार होते, इसमें 40 फीसदी राशि राज्य सरकार को मिलानी थी। विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में सरकार बदलते ही मामला वहीं थम गया। तीनों कॉलेज के भवनों के निर्माण का जिम्मा पीआईयू का था।

यह भी पढ़े :  सिवनी बस स्टैंड में मोबाइल की दुकान पर लगी भीषण आग: वीडियो

भवन निर्माण के लिए दो साल का समय रखा गया था, लेकिन एक साल यूं ही निकल गया। मौजूदा सरकार ने तीनों मेडिकल कॉलेज के टेंडर में गड़बड़ी पाए जाने के बाद उन्हें निरस्त कर दिया है। बताया जाता है कि कीमतें ज्यादा आने के चलते यह कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़े :  सिवनी जिला कोरोना अपडेट 04 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, अब 18 एक्टिव केस
- Advertisement -

सिवनी के लिए फिर से एस्टीमेट बनाया जा रहा है। सतना, सिवनी और छतरपुर में भवन के लिए जमीनें चिन्हित हो चुकी हैं। विभागीय सूत्रों का कहना है कि जल्दी ही दोबारा टेंडर लगाने की कार्रवाई की जाएगी।

छतरपुर विधायक ललिता यादव ने मेडिकल कॉलेज के प्रोजेक्ट में विलंब करने के लिए कमलनाथ सरकार की मंशा पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने इन तीनों कॉलेजों को मंजूरी दी थी, लेकिन मौजूदा सरकार जानबूझकर इन्हें लेट कर रही है। यही वजह है कि कॉलेज भवन के लिए बजट में आवंटन भी नहीं किया गया। ऽ

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,262FansLike
7,044FollowersFollow
787FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

ठंड में कोरोना से बचाव के लिए सामान्य निर्देशों की एडवाईजरी जारी

ठंड सर्दियों में कोरोना (Corona Virus) से बचाव के लिए सामान्य निर्देशों की एडवाईजरी जारी जैसे जैसे समय आगे...
यह भी पढ़े :  Earthquake In Seoni : सिवनी में भूकंप का दूसरा झटका, तीव्रता 2.7 दर्ज

श्रीनगर आतंकी हमले में सेना के 2 जवान शहीद; मारूति कार में सवार थे 3 आतंकी, सर्च ऑपरेशन जारी

श्रीनगर। मध्य कश्मीर के जिला श्रीनगर के बाहरी इलाके अबन शाह एचएमटी चौक में आतंकवादियों ने सेना की क्यूक रिएक्शन टीम (QRT) पर घात लगाकर...

अमेरिका में 24 घंटे में कोरोना से दो हजार से ज्यादा मौतें, लगभग सभी राज्यों में बढ़े मामले

वाशिंगटन। दुनिया में कोरोना महामारी का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। अमेरिका में पिछले 24 घंटों में कोरोना से दो हजार से...

ईरान पर और प्रतिबंध लगा सकते हैं ट्रंप, बाइडन को भी इसी राह पर चलने की सलाह

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने कार्यकाल के अंतिम महीनों में ईरान पर और प्रतिबंध लगा सकते हैं। इसके संकेत ईरान में अमेरिका के...

OTT कंटेंट की सेंसरशिप के ख़िलाफ़ शत्रुघ्न सिन्हा, बोले- ‘हर्ट सेंटिमेंट्स के नाम पर सेंसरशिप मज़ाक’

नई दिल्ली। वेटरन एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा ने ओटीटी कंटेंट और प्लेटफॉर्म्स पर सेंसरशिप का विरोध करते हुए इसे फलती-फूलती इंडस्ट्री के लिए घातक बताया है।...
x