कमलनाथ ने माना कि कांग्रेस में है गुटबाजी

भोपाल- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में राजनैतिक परिवर्तन के चलते आम जनता अब भाजपा के साथ नहीं है। यह बात भाजपा को भी महसूस हो रही है और इसलिए अब वह धन-बल की शक्ति के भरोसे चुनाव लड़ना चाहती है। श्री नाथ आज यहां प्रदेश कांगे्रस मुख्यालय में पूर्व मंत्रियों, सांसदों और विधायकों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

- Advertisement -

कमलनाथ ने कहा कि आप सभी अनुभवी हैं और स्थानीय राजनैतिक समीकरणों को अच्छी तरह समझते हैं। आपने चुनाव करीब से देखा है। अगले चार महीने सब कुछ भूल जायें और बिना किसी निर्देश का इंतजार किये कांग्रेस को जिताने के लिए जुट जायें। यह कड़वे घूंट पीने का समय है। एक-दूसरे की गलतियों को माफ कर नया रास्ता खोजना आपका काम है। यदि यह काम आपने कर लिया तो निश्चित ही अगले विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में कांग्रेस का झंडा लहरायेगा।



कमलनाथ ने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में निराश होने की नहीं, सबक सीखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बदले हुए राजनैतिक माहौल को जीत में बदलने के लिए आप सभी के सहयोग की सबसे ज्यादा जरूरत है। उन्होंने कहा कि अभी लक्ष्य केवल चुनाव है। मेरा आप सभी से लंबा संपर्क रहा है, आपने कांगे्रस की नींव बनायी है। चुनाव रणनीति में आज के माहौल में क्या परिवर्तन लाना है, यह आपको स्वयं तय करना है, क्योंकि राजनीति स्थानीय हो गई है। श्री नाथ ने उपस्थिति प्रतिनिधियों से घोषणा पत्र में शामिल किये जाने वाले मुद्दों पर सुझाव भी मांगे।

पूर्व विधायक जसवंत सिंह, संपत जाजू, हरिवल्लभ शुक्ला, हामिद काजी और राजनारायणसिंह ने अपने सुझाव रखे। इन्होंने कहा कि एक-एक पूर्व जनप्रतिनिधि यदि चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दे तो प्रत्याशी को बीस से पच्चीस हजार तक वोट दिलवा सकते हैं। पूर्व विधायक की जबावदारी सुनिश्चित करें कि वह स्थानीय परिस्थिति के अनुरूप रणनीति बनाये। भाजपा को उन्हीं की भाषा से जबाव देना होगा। वोट के बंटवारे को रोकें और कांग्रेसजन जनता को मतदान केंद्र तक ले जायें।

यह भी पढ़े :  सिवनी चाकू और तलवार से जानलेवा हमले के आरोपित पुलिस गिरफ्त में, 2 देशी पिस्टल जब्त
- Advertisement -
यह भी पढ़े :  सिवनी : अरबिया अंजुम सहित जिले की 1905 बेटियों को मिला ''लाड़ली लक्ष्मी योजना'' का स्वीकृति पत्र

सम्मेलन में पूर्व मंत्री सुरेश पचैरी, सांसद राजमणि पटेल, मीनाक्षी नटराजन, गोविंद सिंह राजपूत, चंद्रप्रभाष शेखर, मानक अग्रवाल सहित प्रदेश से आये बड़ी संख्या में पूर्व मंत्री, पूर्व सांसद और पूर्व विधायक उपस्थित थे।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Leave a Reply

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

10,776FansLike
7,044FollowersFollow
568FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

फिल्म जगत को एक और झटका, मशहूर गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन

 फिल्म जगत से एक और दुख भरी खबर सामने आई है। वैश्विक महामारी कोविड -19 से पांच अगस्त से...

MP उपचुनाव: रूठे पूर्व मंत्री को मनाने पहुंचे शिवराज तो सभा में लगे रुस्तम सिंह जरुरी है… के नारे

मुरैना: उपचुनावों के औपचारिक ऐलान से पहले ही पूरी तरह चुनावी मूड में आ चुकी बीजेपी कांग्रेस पर लगातार हमला कर रहे है।  गुरुवार...
यह भी पढ़े :  सिवनी 3 आदतन अपराधी 1 एक वर्ष के लिए जिला बदर, चौथा 06 माह के लिए

3 किसानों के आत्महत्या के प्रयास के मामले में घिरे कृषिमंत्री, कांग्रेस ने पूछे 4 सवाल

भोपाल: एक तरफ कृषि बिल को लेकर देशभर में विरोध हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ मध्य प्रदेश में हरदा जिले में 3 किसानों द्वारा...

CM Shivraj के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए हेलीपैड पर जलाई आग फैली, फिर गाड़ियों की लाइट से उतारा

मुरैना: सीएम शिवराज सिंह चौहान के मुरैना दौरे के दौरान एक बड़ी लापरवाही देखने को मिली। जहां मुरैना में लैंडिंग के दौरान बहुत ज्यादा...

नहीं हुआ MP विधानसभा उपचुनाव की तारीखों का ऐलान, 25 को होगी घोषणा

भोपाल: चुनाव आयोग ने आज दिल्ली में हुई प्रेस कान्फ्रेंस में बिहार चुनाव की घोषणा तो कर दी गई लेकिन फिलहाल मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव...
x