Home सिवनी कमलनाथ ने माना कि कांग्रेस में है गुटबाजी

कमलनाथ ने माना कि कांग्रेस में है गुटबाजी

भोपाल- प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में राजनैतिक परिवर्तन के चलते आम जनता अब भाजपा के साथ नहीं है। यह बात भाजपा को भी महसूस हो रही है और इसलिए अब वह धन-बल की शक्ति के भरोसे चुनाव लड़ना चाहती है। श्री नाथ आज यहां प्रदेश कांगे्रस मुख्यालय में पूर्व मंत्रियों, सांसदों और विधायकों के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

- Advertisement -

कमलनाथ ने कहा कि आप सभी अनुभवी हैं और स्थानीय राजनैतिक समीकरणों को अच्छी तरह समझते हैं। आपने चुनाव करीब से देखा है। अगले चार महीने सब कुछ भूल जायें और बिना किसी निर्देश का इंतजार किये कांग्रेस को जिताने के लिए जुट जायें। यह कड़वे घूंट पीने का समय है। एक-दूसरे की गलतियों को माफ कर नया रास्ता खोजना आपका काम है। यदि यह काम आपने कर लिया तो निश्चित ही अगले विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में कांग्रेस का झंडा लहरायेगा।



कमलनाथ ने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में निराश होने की नहीं, सबक सीखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि बदले हुए राजनैतिक माहौल को जीत में बदलने के लिए आप सभी के सहयोग की सबसे ज्यादा जरूरत है। उन्होंने कहा कि अभी लक्ष्य केवल चुनाव है। मेरा आप सभी से लंबा संपर्क रहा है, आपने कांगे्रस की नींव बनायी है। चुनाव रणनीति में आज के माहौल में क्या परिवर्तन लाना है, यह आपको स्वयं तय करना है, क्योंकि राजनीति स्थानीय हो गई है। श्री नाथ ने उपस्थिति प्रतिनिधियों से घोषणा पत्र में शामिल किये जाने वाले मुद्दों पर सुझाव भी मांगे।

पूर्व विधायक जसवंत सिंह, संपत जाजू, हरिवल्लभ शुक्ला, हामिद काजी और राजनारायणसिंह ने अपने सुझाव रखे। इन्होंने कहा कि एक-एक पूर्व जनप्रतिनिधि यदि चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दे तो प्रत्याशी को बीस से पच्चीस हजार तक वोट दिलवा सकते हैं। पूर्व विधायक की जबावदारी सुनिश्चित करें कि वह स्थानीय परिस्थिति के अनुरूप रणनीति बनाये। भाजपा को उन्हीं की भाषा से जबाव देना होगा। वोट के बंटवारे को रोकें और कांग्रेसजन जनता को मतदान केंद्र तक ले जायें।

- Advertisement -

सम्मेलन में पूर्व मंत्री सुरेश पचैरी, सांसद राजमणि पटेल, मीनाक्षी नटराजन, गोविंद सिंह राजपूत, चंद्रप्रभाष शेखर, मानक अग्रवाल सहित प्रदेश से आये बड़ी संख्या में पूर्व मंत्री, पूर्व सांसद और पूर्व विधायक उपस्थित थे।

यह भी पढ़े :  सिवनी: संक्रांति पर पतंग प्रतियोगिता का आयोजन, पूर्व CM कमलनाथ विजेताओं को करेंगे पुरस्कृत
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

12,566FansLike
7,044FollowersFollow
781FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

उत्तराखंड में बुनकर और हथकरघा को इस बार मिलेगा आर्थिक संबल

देहरादून। कोरोनाकाल में लगभग बंद हो चुके उत्तराखंड के बुनकर और हथकरघा से जुड़े हजारों ग्रामीणों के लिए नया साल...
यह भी पढ़े :  सिवनी/ केवलारी: टीटी ऑपरेशन के दौरान महिला की मौत, पांजरा गांव में पसरा मातम

उत्तराखंड में साहसिक पर्यटन पर फोकस, इन आठ ट्रैकिंग रूट के सुदृढ़ीकरण और सौंदर्यीकरण की मुहिम शुरू

x