Monday, August 15, 2022
Homeदेशसिवनी से छिन जाएगा इंडस्ट्रियल कॉरिडोर: सिवनी की जगह भोपाल से गुजरेगा...

सिवनी से छिन जाएगा इंडस्ट्रियल कॉरिडोर: सिवनी की जगह भोपाल से गुजरेगा “दिल्ली-नागपुर इंडस्ट्रियल कॉरिडोर”; शिवराज सरकार ने रूट बदलने का प्रस्ताव दिया

Industrial Corridor will be snatched from Seoni: "Delhi-Nagpur Industrial Corridor" will pass through Bhopal instead of Seoni; Shivraj government proposed to change the route

- Advertisement -

सिवनी: दिल्ली-नागपुर इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (Delhi Nagpur Industrial Corridor) अब सागर के बाद नरसिंहपुर-सिवनी (Narsingpur to Seoni) होते हुए नागपुर (Nagpur) जाने वाला था, पर अब इस रूट को बदलने की तैयारी मध्यप्रदेश सरकार ने कर ली है, मप्र की शिवराज सरकार ने केंद्र सरकार को इसका रूट (VIA SEONI) बदलने का प्रस्ताव दिया है।

शिवराज सरकार ने केंद्र सरकार से कहा कि कॉरिडोर (Delhi Nagpur Industrial Corridor) का मेन रूट तो दिल्ली से सागर (Delhi to Sagar) तक पहले की तरह ही रखा जाए, लेकिन सागर के बाद इसे बीना, विदिशा, भोपाल, रायसेन, सीहोर, नर्मदापुरम, बैतूल के रास्ते नागपुर (Nagpur) तक बनाया जाए।

- Advertisement -

बीते दिन हुई पीएम गति शक्ति मिशन (PM GATI SHAKTI MISSION) की बैठक में मप्र की शिवराज सरकार ने कहा इस कॉरिडोर (Delhi Nagpur Industrial Corridor) के पहले तय किए गए रूट में कान्हा, पेंच नेशनल पार्क (Kanha & Pench National Park) के साथ ही दुर्गम पहाड़ियों और नदियों के लंबे प्रवाह सामने आ रहे है।

इस क्षेत्र में कोई भी इंडस्ट्रियल एरिया विकसित नहीं किया जा सकता – शिवराज सरकार

इस वजह से यहां जमीन अधिग्रहण करना बेहद मुश्किल होगा, और इसके साथ ही बड़े पैमाने पर प्राकृतिक संसाधन बर्बाद होंगे, इस क्षेत्र में कोई भी इंडस्ट्रियल एरिया विकसित नहीं किया जा सकता।

- Advertisement -

जबकि नया रूट राष्ट्रीय राजमार्ग-44 और 46 से होकर गुजरता है। यहां सरकार 20 हजार हेक्टेयर जमीन चिन्हित कर चुकी है। अधिग्रहण की प्रक्रिया अलग-अलग चरणों में जारी है। बीना में 2,500 हेक्टेयर में प्रस्तावित बीपीसीएल का पेट्रोकेमिकल पार्क, भोपाल से लगे मंडीदीप और तामोट जैसे प्रमुख इंडस्ट्रियल एरिया इस कॉरिडोर में आएंगे।

देश में बन रहे 11 नेशनल कॉरिडोर में सबसे अहम है Delhi Nagpur Industrial Corridor Project

  1. केंद्र नेशनल इंडस्ट्रियल कॉरिडोर डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत देश में 11 नेशनल कॉरिडोर बना रहा है। इसमें दिल्ली-नागपुर कॉरिडोर मप्र के लिए अहम है। 1100 किमी लंबे कॉरिडोर का 70% हिस्सा मप्र से गुजरेगा।
  2. नए प्रस्तावित रूट में मप्र के 23 जिलों के 32 इंडस्ट्रियल क्षेत्र आएंगे। इन 23 में से 18 जिलों से यह कॉरिडोर गुजरेगा, जबकि शेष पांच जिलों से इसकी आंशिक कनेक्टिविटी रहेगी। ये क्षेत्र उसके 150 किमी के दायरे में होंगे।
  3. सभी कॉरिडोर का काम 2025 तक पूरा होना है। इसके लिए एशियन डेवलपमेंट बैंक ने 2000 करोड़ रु. कर्ज दिया है। इस योजना में सरकार अलग-अलग इंडस्ट्रियल क्षेत्रों को जोड़ने के लिए सड़क, रेल और जलमार्ग के जरिए एक गलियारा बनाएगी।

कॉरिडोर (Delhi-Nagpur Industrial Corridor) के नए रूट की बात करें तो इस कोरिडोर के लिए 150 कि.मी. के दायरे में मध्यप्रदेश के 13 नगरीय, 32 औद्योगिक क्षेत्र आएंगे। ये दिल्ली से शुरू होकर मथुरा, ग्वालियर, झांसी, ललितपुर, बीना, गंजबासौदा, विदिशा, भोपाल, नर्मदापुरम, इटारसी, बैतूल, मुलताई, पांढुरना, कोटल से होकर नागपुर पहुंचेगा।

- Advertisement -

Web Title: Industrial Corridor will be snatched from Seoni: “Delhi-Nagpur Industrial Corridor” will pass through Bhopal instead of Seoni; Shivraj government proposed to change the route

- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

WhatsApp Join WhatsApp Group