khabar-satta-app
Home सिवनी मुस्लिम परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, तो गांव वालों ने दिया सहारा... बेटी की निकाह की खातिर इकट्ठा...

मुस्लिम परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, तो गांव वालों ने दिया सहारा… बेटी की निकाह की खातिर इकट्ठा हो रहा ‘चंदा’

ग्रामीण न सिर्फ खुद मदद कर रहे हैं बल्कि अन्य गांव से भी मदद के लिए खुद गांव-गांव जाकर मुस्लिम परिवार के लिए चंदा इकठ्ठा कर रहे हैं.

रतलाम : हिंदुस्तान हमेशा भाईचारे की मिसाल रहा है और इस मिसाल को हमेशा हर भारतीय ने कायम रखा है. हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की ऐसी ही एक मिसाल मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के हतनारा गांव से सामने आई है. जानकारी के मुताबिक गांव के एक मुस्लिम परिवार के घर में कुछ दिनों पहले लगी आग में सबकुछ स्वाहा हो गया था. कुछ दिनों बाद उनकी बेटी का निकाह है. परिवार ने हिम्मत हार ली थी लेकिन ग्रामीणों ने हिम्मत नहीं हारी. पूरा गांव अब इस मुस्लिम परिवार की मदद के लिए जुट गया है.

- Advertisement -

हतनारा गांव के ग्रामीणों ने पेश की एकता की मिसाल
ग्रामीण न सिर्फ खुद मदद कर रहे हैं बल्कि अन्य गांव से भी मदद के लिए खुद गांव-गांव जाकर मुस्लिम परिवार के लिए चंदा इकठ्ठा कर रहे हैं. इसके पीछे एक ही मकसद है कि किसी तरह उनकी बेटी का निकाह भी हो जाए, और परिवार को भी हिम्मत मिल जाए. इस तरह रतलाम जिले के हतनारा गांव के ग्रामीणों ने आपसी एकता की मिसाल पेश की है.

- Advertisement -

आग ने सबकुछ जला कर किया खाक
जानकारी के मुताबिक गांव में ही शहजाद मंसूरी का परिवार रहता है जो घर पर रजाई गादी बनाने का काम कर गुजारा करते हैं. बीती 15 फरवरी को शहजाद मंसूरी के घर आग लग गई. उस वक्त शहजाद मंसूरी गांव में नहीं थे. उनका परिवार घर पर ही था. गांव वालों ने फायर ब्रिगेड की गाड़ी आने से पहले अपने घरों से पानी लेकर आग पर काबू पाने की कोशिश की और परिवार को सुरक्षित बाहर निकाला. लेकिन, घर का सारा सामान जलकर खाक हो गया. आग में शहजाद मंसूरी की गादी रजाई बनाने की मशीन भी जल गई. ऐसे में शहजाद मंसूरी के पास खाने तक का सामान नहीं बचा.

बेटी की निकाह की तैयारी में जूटा पूरा गांव
गांव वालों ने 3 दिन तक पहले तो शहजाद के घर को व्यवस्थित किया और 3 दिन तक अलग-अलग घरों से खाने की व्यवस्था शहजाद मंसूरी के परिवार के लिए की गई. लेकिन, बड़ी समस्या यह थी कि शहजाद मंसूरी की एक बेटी का निकाह तय हो चुका था और अगले महीने 4 अप्रैल को निकाह होना था. ऐसे में शहजाद मंसूरी पूरी तरह टूट गए. लेकिन, गांव हतनारा के ग्रामीणों ने एक बार फिर हिंदुस्तान में भाईचारे की मिसाल को कायम किया. ग्रामीणों ने शहजाद मंसूरी के परिवार को न सिर्फ संभलने तक सहारा देने का संकल्प लिया. बल्कि शहजाद मंसूरी की बेटी के निकाह की तैयारी में जुट गए.

- Advertisement -

पूरा गांव मिलकर करवाएगा बेटी का निकाह
ग्रामीणों ने संकल्प लिया है कि शाहजाद मंसूरी का परिवार हमारे गांव का परिवार है और इनकी बेटी की शादी तय तारीख पर ही बड़े धूम धाम से होगी. और शाहजाद मंसूरी की बेटी का निकाह पूरा गांव मिलकर करवाएगा. गांव के सरपंच ने भी शासकीय सहायता के लिए शासन को जानकारी देकर पटवारी को बुलवाया और पटवारी ने जांच रिपोर्ट तैयार कर मुआवजा जल्द दिलवाने का आश्वासन भी दिया है.

पूरे देश में हो यही भावना
लेकिन, शासन की सहायता का इंतजार न करते हुए ग्रामीणों ने शहजाद मंसूरी के परिवार का जिम्मा उठा लिया है. ग्रामीण कहते हैं कि हमारे गांव में शहजाद मंसूरी को कभी अलग धर्म के नजरिए से नहीं देखा गया और न ही शहजाद मंसूरी कभी हमसे अलग रहे. शहजाद मंसूरी हर त्योहार पर हमारे साथ शामिल होते और हम शहजाद मंसूरी के परिवार की खुशियों में सरीख हुए हैं. आज इनके परिवार की मुसीबत को हम हमारी समझकर इनके साथ हैं. गांव वालों का कहना है कि पूरे देश में भी यही भावना होनी चाहिए.

गांव वालों के साथ ने दी फिर से हिम्मत
शहजाद मंसूरी बताते हैं कि गांव ने इस बड़ी आफत के बाद भी हमें अपने परिवार की तरह अपने साथ रखा है. आज जब खेती मजदूरी का व्यस्ततम समय ग्रमीणों का है तब भी सब कुछ छोड़ कर सभी गांव वाले मेरे परिवार की मदद में लगे हैं. मैंने अपनी बेटी के निकाह की आस छोड़ दी थी. लेकिन, गांव वालों ने मुझे साथ देकर फिर से हिम्मत दी है.

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
793FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

भूकंप के दौरान सतर्कता से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, जरूर पढ़े और सबके साथ शेयर जरूर करें

भूकंप के दौरान सतर्कता से जुड़ी कुछ जरूरी बातें, जरूर पढ़े और सबके साथ शेयर जरूर करें...

Seoni Bhukamp News: सिवनी में एक दिन में 2 बार आए भूकंप की तीव्रता 3.1 और 3.5 हुई दर्ज

सिवनी। सिवनी जिले में शनिवार को दोपहर 12:49 मिनिट 17 सेकंड में भूकंप का जोरदार झटका महसूस किया गया था जिसके बाद...

Seoni Bhukamp News: भूकंप का दूसरा झटका हुआ महसूस

सिवनी। सिवनी जिले में शनिवार को दोपहर 12:49 में भूकंप का जोरदार झटका महसूस किया गया था जिसके बाद शाम होते होते...

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कह दी बड़ी बात, चुनाव हार जाना मंजूर है लेकिन गलत आश्वासन नहीं देंगे

वैशाली। बिहार विधानसभा चुनाव- 2020 में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा खूब पसीना बहा रहे हैं। चुनाव प्रचार के लिए बिहार में कैंप...

इंग्लैंड में लॉकडाउन, बोरिस जॉनसन कर रहे नए नियमों पर विचार

लंदन। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर वैज्ञानिकों द्वारा दी गई चेतावनी को गंभीरता से लेते हुए  इंग्लैंड में अगले सप्ताह से लॉकडाउन लागू...