Homeमध्य प्रदेशश्रीदेवी को श्रद्धांजलि नहीं देगी MP विधानसभा क्योंकि मौत के पहले पी...

श्रीदेवी को श्रद्धांजलि नहीं देगी MP विधानसभा क्योंकि मौत के पहले पी रखी थी शराब!

- Advertisement -

भोपाल//  मशहूर अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत के बाद सामने आए तथ्यों की वजह से मध्य प्रदेश की विधानसभा ने उन्हें श्रद्धांजलि देने का फैसला बदल दिया है। यही नहीं श्रीदेवी के साथ-साथ वरिष्ठ अभिनेता शशि कपूर का नाम भी श्रद्धांजलि सूची से हटा दिया गया है।
दिन दिवंगत हस्तियों को श्रद्धांजलि दी जाती है। सोमवार को बजट सत्र का पहला दिन था। उस दिन राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का अभिभाषण होना था, इसलिए सदन में निधन उल्लेख नहीं किया गया।

लिस्ट से श्रीदेवी का नाम निकलवा दिया
मंगलवार के लिए जो कार्य सूची बनी, उसमें पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्रीनिवास तिवारी के अलावा 11 अन्य नाम थे। इनमें फिल्म अभिनेता शशि कपूर और अभिनेत्री श्रीदेवी का भी नाम था लेकिन दोपहर बाद जब यह खबर आई कि श्रीदेवी की मौत बाथटब में डूबने की वजह से हुई है। उनकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह भी पता चला कि मरते वक्त उन्होंने शराब पी रखी थी। ऐसे में बीजेपी के नेताओं ने कार्य सूची में से उनका नाम हटाने का फैसला किया।
जानकारी के मुताबिक, संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र के कहने पर विधानसभा अध्यक्ष डॉक्टर सीताशरण शर्मा ने श्रीदेवी का नाम निधन उल्लेख सूची से निकलवा दिया। उनके साथ शशि कपूर का भी नाम निकाल दिया गया। हालांकि, यह नहीं बताया गया कि शशि कपूर का नाम क्यों हटाया गया, लेकिन श्रीदेवी के नाम का नाम हटाने की वजह स्पष्ट बता दी गई।
अंतिम क्षणों में बदलाव
यह पहला मौका है जब निधन उल्लेख सूची में अंतिम क्षणों में बदलाव किया गया है। बाकायदा दूसरी सूची प्रिंट कराई गई और उसे जारी किया गया। सूत्रों का कहना है कि बीजेपी नेता किसी भी विवाद से बचना चाहते हैं। क्योंकि जिस तरह श्रीदेवी की मौत की खबर आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं ने श्रद्धांजलि दी और खेद जताया, मौत की असली वजह सामने आने के बाद उस पर सवालिया निशान लगा। इस वजह से उनका नाम ही हटा दिया गया।
- Advertisement -
Shubham Sharma
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

WhatsApp Join WhatsApp Group