Tuesday, April 23, 2024
Homeमध्य प्रदेशनक्सलियों को नेस्तनाबूद करने वाले जवानों की वीरता का सम्मान करने बालाघाट...

नक्सलियों को नेस्तनाबूद करने वाले जवानों की वीरता का सम्मान करने बालाघाट आया हूँ – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

I have come to Balaghat to honor the bravery of soldiers who destroyed Naxalites - Chief Minister Shivraj Singh Chouhan

बालाघाट: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हाक फोर्स एवं पुलिस के जवानों ने कठिन एवं विपरीत परिस्थियों में नक्सलियों को नस्तनाबूद कर उनके नेटवर्क को समाप्त कर दिया है। वर्ष 2022 में 01 करोड़ 18 लाख रुपये के 6 ईनामी नक्सलियों को मार गिराने में हमारे जवानों को सफलता मिली है।

ऐसे वीर जवानों की वीरता का सम्मान करने आज मैं बालाघाट आया हूँ। अपने वीर जवानों के सम्मान के लिए मैं अपनी सारी व्यस्तताएँ कुर्बान कर दूँगा, लेकिन जवानों के सम्मान में कोई कमी नहीं आने दूँगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि वीरता का सम्मान नहीं किया जायेगा तो वह बांझ हो जायेगी। राज्य सरकार नक्सल उन्मूलन में जान की बाजी लगाने वाले हमारे जांबाज वीर जवानों को क्रम से पूर्व (आऊट आफ टर्न) प्रमोशन देकर उनका सम्मान कर रही है और उन्हें सेल्यूट कर रही है।

हम पुलिस एवं सुरक्षा बलों के जवानों के जज्बे को सलाम करते है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज पुलिस लाईन बालाघाट में 55 जवानों को आऊट आफ टर्न प्रमोशन देकर सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आज पुलिस जवानों को आउट आफ टर्न प्रमोशन देने का अद्भूत अवसर है। इन जवानों के विपरीत परिस्थितियों में कठिन परिश्रम से हमारे गाँव एवं शहर सुरक्षित है।

जब हम अपने घरों में परिवार के साथ तीज-त्यौहार मना रहे होते हैं, तब हमारे जवान घने जंगलों एवं पहाड़ों पर अपनी जान जोखिम में डाल कर हमारी सुरक्षा में लगे रहते हैं। उन्होंने पुलिस एवं हाक फोर्स के जवानों से कहा कि जब भी वे जंगल में नक्सल उन्मूलन अभियान में जायें तो स्वयं को अकेला न समझें, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान और मध्यप्रदेश की सरकार भी उनके साथ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2022 नक्सलियों के नेटवर्क को नेस्तनाबूद करने का साल रहा है। प्रदेश के इतिहास में पहली बार एक साल में 06 दुर्दांत नक्सलियों को मार गिराने में सफलता मिली। यह सफलता आसानी से नहीं मिली है। हमारे जवानों ने विपरीत परिस्थितियों में जान हथेली पर रख कर और सिर पर कफन बांध कर कठिन संघर्ष के बाद इस सफलता को हासिल किया है।

नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में ईनामी नक्सलियों को मार गिराने के साथ ही हथियार, नक्सली साहित्य और विस्फोटक सामग्री भी बरामद की गई है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हमारी लड़ाई ऐसे देशद्रोही संगठन से है, जिसके सदस्य संविधान को नहीं मानते और छुप कर वार करते हैं। प्रदेश के उत्तरी इलाकों में पहले डकैतों का आतंक रहा है। हमारी सरकार ने दृढ़-इच्छाशक्ति से प्रदेश से डकैतों का सफाया कर दिया है। सिमी के नेटवर्क को समाप्त किया है।

हम प्रदेश में किसी भी तरह के आतंक को बर्दाश्त नहीं करेंगें। उन्होंने कहा कि नक्सल उन्मूलन अभियान में शामिल जवानों को प्रोत्साहन भत्ता देने के साथ ही क्रम से पहले पदोन्नति दी जा रही है। राज्य सरकार के इसी प्रोत्साहन से सरकार नक्सलियों को खत्म करने में सफल हो रही है।

इसमें सबसे बड़ी भूमिका हमारे पुलिस एवं सुरक्षा बल के जवानों के परिवार की माताओं एवं बहनों की होती है। उनके हौसले से ही हमारे जवान जिम्मेदारी के साथ अपने दायित्वों को निभाते हैं। इसके लिए प्रदेश की साढ़े 8 करोड़ जनता आपकी आभारी है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की सरकार प्रदेश में शांति एवं कानून-व्यवस्था बनाये रखने वाले जवानों के साथ खड़ी है। उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होने देंगें। हमारी सरकार जवानों के बच्चों की शिक्षा और बीमारी के उपचार पर भी ध्यान दे रही है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि पुलिस एवं सुरक्षा बलों के जवानों ने मध्यप्रदेश को शांति का टापू बना कर रखा है। हम शांति के पक्षधर हैं और खून-खराबा नहीं चाहते है। उन्होंने नक्सलियों को इंगित करते हुए कहा कि शांति की बात करने वालों के लिए हमारे दरवाजे हमेशा खुले हैं। प्रगति एवं विकास के लिए हमारे साथ कदम मिला कर चलें। हिंसा से कुछ हासिल नहीं होगा।

पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना ने कहा कि आज का दिन मध्यप्रदेश पुलिस के लिए ऐतिहासिक दिन है। एक साथ 55 जवानों को क्रम से पहले पदोन्नति दी जा रही है। पहले कभी एक साथ इतनी बड़ी संख्या में पदोन्नति नहीं दी गई। नक्सली मुठभेड़ में वीरता का परिचय देने वाले वाले इन 55 जवानों को सारी औपचारिकताएँ शीघ्रता से पूर्ण कर पदोन्नति दी गई है। उन्होंने कहा कि 32 वर्षों के इतिहास में पहली बार एक साल में ही 6 नक्सलियों को मार गिराया गया है।

पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ ने बताया कि 30 नवंबर 2022 को बालाघाट जिले के गढ़ी थाना क्षेत्र में नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में हाक फोर्स के जवानों ने 2 ईनामी नक्सलियों को मार गिराया था।

इसी प्रकार 18 दिसंबर 2022 को पाथरी चौकी के अंतर्गत हर्राटोला के जंगल में हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बल के जवानों ने 1 ईनामी को मार गिराया था। इन दोनों मुठभेड़ में शामिल सभी 55 जवानों को आऊट आफ टर्न प्रमोशन दिया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 30 नवंबर 2022 को गढ़ी थाना क्षेत्र के अंतर्गत जामसहेरा वन चौकी में पुलिस नक्सल मुठभेड़ में 49 लाख रुपये के ईनामी 02 दुर्दान्त नक्सलियों को मार गिराने वाले बल में शामिल सहायक उप निरीक्षक श्री महेन्द्र सिंह गौर एवं श्री मंगरू उईके को उप निरीक्षक के पद पर, प्रधान आरक्षक सर्वश्री अतुल कुमार शुक्ला, मनोज कापसे, लोकेन्द्र सिंह जादौन, अनूप सिंह भदौरिया, रामसुरेश कोल, अनूप सिंह धुर्वे, अरूण मिश्रा, रामलखन प्रजापति एवं दिलीप उईके को सहायक उप निरीक्षक के पद पर तथा आरक्षक सर्वश्री शिवकुमार परते, दुर्गेश यादव, चंदन कुमार, अजीज अली, अनूप सिंह, रविन्द्र कुमार, अखिलेख चौधरी, दिलीप सिंह कनेश, विनोद बेलवंशी, ब्रजमोहन गुर्जर, तिरनसिंह नवरेती, मुनेन्द्र सिंह भदौरिया, चैनसिंह वरकड़े, रोशन परते, अभिषेक राजौरिया एवं चंद्रेश जादौन को प्रधान आरक्षक के पद पर पदोन्नति प्रदान की गई है।

इसी प्रकार 18 दिसंबर 2022 को मलाजखंड थाना क्षेत्र अंतर्गत हर्राटोला जंगल में हुई मुठभेड़ में 14 लाख रुपये के ईनामी 01 नक्सली को मार गिराने वाले बल में शामिल उप निरीक्षक श्री आशीष शर्मा और श्री विनय गोस्वामी को निरीक्षक के पद पर, सहायक उप निरीक्षक श्री मोहनलाल मरावी को उप निरीक्षक के पद पर, प्रधान आरक्षक सर्वश्री हनुमंत टेकाम, बुद्धमान धुर्वे, गोविंद सिंह, सुमेरी मरावी, काशीराम उईके और राजेश धुर्वे को सहायक उप निरीक्षक के पद पर, आरक्षक सर्वश्री सूरत सिंह उर्वेती, चंदन टेंभरे, श्रेयस कुमार उईके, लक्ष्मीचंद कड़पेती, भूपेन्द्र परते, अमरसिंह हरपाल, विजय उईके, राजेश पट्टा, उमेश पटेल, संदीप इड़पाचे, ब्रिजेश चिचाम, विमलेश कुमार दुबे, परमेश इड़पाचे, गोविंद सल्लाम, शिवराज परते, मिथलेश मरावी, अनवर अंसारी एवं नरेन्द्र धुर्वे को प्रधान आरक्षक के पद पर तथा आरक्षक चालक श्री योगेश आर्मो को प्रधान आरक्षक चालक के पद पर पदोन्नति दी गई है।

अध्यक्ष म.प्र. पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग एवं विधायक श्री गौरीशंकर बिसेन, अध्यक्ष म.प्र. खनिज विकास निगम श्री प्रदीप जायसवाल सहित अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक गुप्त वार्ता श्री आदर्श कटियार, बालाघाट जोन के पुलिस महानिरीक्षक श्री संजय कुमार, उप महानरीक्षक श्री अनुराग शर्मा, कलेक्टर डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। कार्यक्रम में आऊट आफ टर्न प्रमोशन पाने वाले जवानों को मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं अतिथियों ने बैच लगा कर सम्मानित किया और जवानों के परिजन से मुलाकात कर उनके बच्चों की पढ़ाई आदि विषयों पर चर्चा की।

शहीद स्मारक में पुष्प-चक्र अर्पित कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी

मुख्यमंत्री श्री चौहान सहित जन-प्रतिनिधियों, प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने पुलिस लाईन स्थित शहीद स्मारक पर पुष्प-चक्र अर्पित कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी।

SHUBHAM SHARMA
SHUBHAM SHARMAhttps://shubham.khabarsatta.com
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News