Home मध्य प्रदेश मुरैना: आखिर 24 मौतों का जिम्मेदार कौन? जहरीली शराब ने किसी का भाई, पति और किसी का छीना पिता-...

मुरैना: आखिर 24 मौतों का जिम्मेदार कौन? जहरीली शराब ने किसी का भाई, पति और किसी का छीना पिता- MP NEWS

मुरैना: मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में जहरीली शराब पीने से मरने वालों का संख्या बढ़कर 24 हो गई है। बुधवार रात में छैरा गांव में तीन और मौतें हो गई। लगातार बढ़ रहे मौतों के आंकड़े ने मुरैना जिले को हिला कर रख दिया है। बड़ा सवाल यह है कि आखिर इस घटना के लिए कौन जिम्मेदार है। वो जो जिन्होंने शराब पी या वो जो हर साल शराब नई शराब नीति लेकर आते हैं लेकिन बिकती वहीं जहरीली शराब और टैक्स के नाम पर सरकार का खजाना भरता है। हालांकि इस मामले को लेकर शिवराज सरकार ने सख्त रुख अपनाया हुआ है। बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए मुरैना के कलेक्टर और एसपी को हटाने के निर्देश दिए थे। वहीं शाम होते होते शिवराज सिंह मुरैना बागचीनी थाने के अंतर्गत जिस बीट में जहरीली शराब का निर्माण हो रहा था उस बीट के सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया।

मुरैना में मौत का तांडव रविवार देर रात शुरु हुआ जब छैरा-मानपुर में 52 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई। सोमवार को परिजन ने हार्टअटैक समझकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया, लेकिन उसके बाद एक-एक कर गांव के 28 से अधिक लोगों को उल्टियां शुरू हुई तो गांववाले उन्हें जिला अस्पताल ले गए। इनमें दो लोगों की इलाज से पहले, सात की जिला अस्पताल में और तीन की ग्वालियर में मौत हो गई और अब यह आंकड़ा बढ़कर 24 हो गया है। अभी भी कई लोग अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हैं।

- Advertisement -

पहले दिन एक साथ 12 लोगों की मौत ने मुरैना जिले को हिला कर रख दिया। जहरीली शराब पीने से किसी का सुहाग उजाड़ गया तो किसी के सिर से बाप का साया उठ गया। किसी बहन से उसका भाई छीन लिया। जहरीली शराब ने जिंदगियां क्या छीनी लोगों के दिल दहल गए और गुस्सा सातवां आसमान छूने लगा। 12 लोगों के शव देखकर यह गुस्सा प्रशासन के खिलाफ फूट पड़ा। ग्रामीणों की मांग थी कि मृतकों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये ओर एक एक नौकरी व दोषियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज हो।

स्थानीय लोगों की माने तो लंबे समय से अवैध शराब की फैक्ट्री पुलिस की सांठ-गांठ से चल रही है। पुलिस वालों से लेकर ऊपर अधिकारियों तक कई बार शिकायत की गई पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसका नतीजा आज इन लोगों की मौत के रूप में सामने आया हैं। जो अब धीरे धीरे बढ़कर 24 हो गई है। गांव में 3-4 दिनों से इलाके में मातम पसरा हुआ है।

यह भी पढ़े :  मुंबई बम ब्लास्ट और गुलशन हत्याकांड के आरोपियों ने लॉकडाउन में सप्लाई किया करोड़ों का ड्रग्स
- Advertisement -

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Discount Code : ks10

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

12,586FansLike
7,044FollowersFollow
781FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

क्या आपका PNB खाताधारक है ? चेतावनी ! 31 मार्च से पहले करले ये काम नही तो पैसे ट्रान्सफर नहीं होंगे

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) खाताधारकों के लिए अलर्ट है  यह अलर्ट IFSC-MICR कोड के बारे में है। पंजाब नेशनल बैंक...
यह भी पढ़े :  हाथ देखने और ग्रह दोष दूर करने के बहाने ज्योतिष ने महिला से किया रेप, बंधक बनाकर खींचे अश्लील फोटो

भारत में भी होगी डिजिटल करेंसी, RBI कर रहा विचार – जाने कुछ ख़ास बातें