Sunday, April 11, 2021

कोवैक्सीन को लेकर थरूर ने खड़े किए सवाल, कहा- फेज 3 ट्रायल के बिना मंजूरी देना खतरनाक

Must read

Khabar Satta Deskhttps://khabarsatta.com
खबर सत्ता डेस्क, कार्यालय संवाददाता
- Advertisement -

ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) द्वारा देश में दो कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड और भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल को मंजूरी दी है। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को मंजूरी देने के लेकर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय मानकों को किनारे रखकर इस वैक्सीन को मंजूरी दी गई है जोकि खतरनाक हो सकता है।

फेज 3 ट्रायल के बिना कैसे दे दी मंजूरी: शशि थरूर
कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ‘कोवैक्सीन का अभी तक चरण तीसरे चरण का परीक्षण नहीं हुआ है। समय से पहले मंजूरी देना खतरनाक हो सकता है। डॉ. हर्षवर्धन, आपको इसको स्पष्ट करना चाहिए। परीक्षण पूरा होने होने तक इसके उपयोग से बचा जाना चाहिए। भारत में इस बीच एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का इस्तेमाल किया जा सकता है।’

- Advertisement -

वहीं भारत बायोटेक की वैक्सीन को लेकर उठ रहे सवालों पर डीसीजीआई स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि जब तक इस वैक्सीन का इस्तेमाल करने वाला लाभार्थी वैक्सीन की जानकारी होने के बाद सहमति पर हस्ताक्षर नहीं करेगा तब तक भारत बायोटेक के टीके को मंजूरी नहीं दी जाएगी। जब तक वैक्सीन अपना ट्रायल पूरा नहीं करती तब तक इसे पूरी तरह मंजूरी नहीं दी जाएगी।

यह भी पढ़े :  भारत चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की 11वें दौर की बैठक, पूर्वी लद्दाख में बाकी इलाकों से जवानों की वापसी पर चर्चा

दोनों वैक्सीन 100 प्रतिशत सुरक्षित
वहीं, DCGI के डायरेक्टर वीजी सोमानी ने कहा, ‘हम ऐसी किसी चीज को मंजूरी नहीं देंगे, जिसमें सुरक्षा को लेकर थोड़ी भी चिंता हो। दोनों वैक्सीन 100 प्रतिशत सेफ हैं। किसी भी वैक्सीन के थोड़े साइड इफेक्ट होते हैं, जैसे दर्द, बुखार, एलर्जी होना।’ इसके साथ ही उन्होंने वैक्सीन के इस्तेमाल से नपुंसक होने के सवाल पर कहा कि यह पूरी तरह से बकवास है।

- Advertisement -

- Advertisement -

IPL 2021

- Advertisement -

More articles

Latest News