khabar-satta-app
Home देश मंदिर हो या मस्जिद 15 जनवरी से बंद हो जाएंगें लाउडस्पीकर

मंदिर हो या मस्जिद 15 जनवरी से बंद हो जाएंगें लाउडस्पीकर

धार्मिक स्‍थलों विशेषकर मंदिरों और मस्जिदों में बहुतायत में लाउडस्‍पीकर का इस्‍तेमाल किया जाता है। लेकिन अब यह लाउडस्‍पीकर पूरी तरह खामोश होने वाले हैं।

क्‍योंकि इलाहाबाद हाईकोर्ट के द्धारा सख्‍ती दिखाने के बाद, उत्‍तर प्रदेशसरकार अब धर्मस्‍थलों से लाउडस्‍पीकर बजाने और अजान आदि देने पर पूरी तरह रोक लगाने जा रही है।

- Advertisement -

लाउडस्‍पीकर पर यह रोक इसी 15 जनवरी 2018 से लागू हो जाएगी। 15 जनवरी के बाद प्रदेश के सभी धार्मिक स्‍थलों से लाउडस्‍पीकर पूरी तरह हटा दिए जाएंगे।

हाईकोर्ट की सख्‍ती के बाद योगी सरकार आई एक्‍शन में :      

- Advertisement -

हाईकोर्ट की सख्‍ती के बाद योगी सरकार एक्‍शन में दिखाई पड़ रही है। सरकार ने साफ कर दिया है कि 15 जनवरी से कोई भी धार्मिक स्‍थल लाउडस्‍पीकर का प्रयोग नहीं करेगा। साथ ही लाउडस्‍पीकर का प्रयोग करने से पहले अनुमति लेना अनिवार्य होगा।

जो धार्मिक स्‍थल लाउडस्‍पीकर का इस्‍तेमाल करने से पहले अनुमति नहीं लेंगे। उनके खिलाफ सख्‍त से सख्‍त कार्रवाही की जाएगी।

- Advertisement -

हाईकोर्ट की मंशा के अनुरूप कार्रवाही करते हुए सरकार की पहल पर प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और पुलिस कप्‍तानों को निर्देश जारी कर दिए हैं।

प्रमुख सचिव ने 4 जनवरी को सभी DM व कप्‍तानों से कहा था कि वह 10 जनवरी तक ऐसे धार्मिक स्‍थानों व सार्वजनिक स्‍थलों का पता लगाने को कहा था। जहां बिना अनुमति लाउडस्‍पीकर का इस्‍तेमाल हो रहा है।

निर्देशों में साफकहा गया है कि जिन स्‍थानों पर लाउडस्‍पीकर बज रहे हैं, उन्‍हें 15 जनवरी से पहले निर्धारित प्रारूप पर अनुमति लेना आवश्‍यक होगा। यदि अनुमति के बगैर लाउडस्‍पीकर बजाए तो ऐसे सभी लाउडस्‍पीकर उतरवा लिए जाएंगें।

लापरवाही बरतने वाले अफसरों पर होगी सख्‍त कार्रवाही :

प्रदेश का जो भी अफसर लाउडस्‍पीकर के इस्‍तेमाल करने पर नए दिशा निर्देशों का पालन नहीं करेगा। उनके खिलाफ सख्‍त कार्रवाही की जाएगी।

चूंकि हाईकोर्ट ने 7 बिंदुओं पर सरकार से जवाब मांगा है। इसलिए सरकार को भी अदालत को बताना होगा कि उसने क्‍या कार्रवाही की है।

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
792FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

मायावती ने कहा-सपा को हराने के लिए बीजेपी को देंगे वोट, प्रियंका बोलीं-इसके बाद भी कुछ बाकी है?

लखनऊ: राज्यसभा चुनाव से पहले बसपा के 7 विधायक बगावत करके सपा में चले गए। पार्टी में सेंधमारी से नाराज...

खुलासा: तौसीफ के मामा के इशारे पर हासिल किया था हथियार, हत्या में परिजन भी हो सकते शामिल

सोहना: निकिता तोमर हत्याकांड के बाद जहां आरोपी तौसीफ के परिवाार के राजनैतिक कनेक्शन सामने आ रहेे थे वहीं अब आरोपी तौसीफ के रिश्तेदारों के क्रिमिनल...

PoK में पाकिस्तानी सीक्रेट एजेंट ने की कश्मीरी युवाओं के अपहरण की कोशिश, जमकर हुई धुनाई

पेशावरः पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में पाकिस्तान के सीक्रेट एजेंट द्वारा कश्मीरी युवाओं के अपहरण का मामला सामने आने पर हंगामा मच गया ।...

केशुभाई पटेल के निधन पर PM मोदी ने जताया शोक, बोले- पूर्व सीएम ने हमेशा किया मार्गदर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए गुुरुवार को कहा कि उनका जीवन...

मोदी सरकार पर भड़के पवार, बोले- केंद्र की नीतियों ने प्याज का स्वाद कर दिया कड़वा

पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने प्याज के आयात-निर्यात की नीति को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)...