Place Your Ad Here

मन की बात में बोले पीएम मोदी- जब भी कुछ नया करने का प्रयास हुआ, मानवता के लिए नए दरवाजे खुले

By Ranjana Pandey

Published on:

Follow Us

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह 11 बजे अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया। यह कार्यक्रम का 79वां संस्करण थाा। इसे आकाशवाणी और दूरदर्शन के पूरे नेटवर्क और आकाशवाणी समाचार और मोबाइल एप पर भी प्रसारित किया गया। पीएम मोदी ने टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले भारतीय दल के जिक्र से बात शुरू की। उन्होंने कहा- दो दिन पहले कुछ अद्भुत तस्वीरें सामने आईं। टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों को तिरंगा लिए चलते देखकर मैं ही नहीं पूरा देश रोमांचित हो उठा।


बता दें कि मन की बात के 78वें संस्करण के दौरान, मोदी ने 27 जून को कहा था कि टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों ने अपने स्थान पर पहुंचने के लिए संघर्ष किया है और नागरिकों को सलाह दी कि वे खिलाड़ियों पर जाने या अनजाने में दबाव न डालें। उन्होंने कहा था कि नागरिकों को खुले दिमाग से खिलाड़ियों का समर्थन करना चाहिए और उन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए। इस दौरान उन्होंने महान धावक मिल्खा सिंह को भी श्रद्धांजलि दी थी, जिन्होंने 19 जून को कोरोना के कारण दम तोड़ दिया था।

तब पीएम मोदी ने 27 जून को वैक्सीन को लेकर लोगों में हो रही हिचकिचाहट के मुद्दे को लेकर भी संबोधित किया था। मोदी ने कहा कि भारत ने एक ही दिन में मिलियन लोगों को टीका लगाने की उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने अपनी मां के साथ अपने उदाहरण का हवाला देते हुए कहा कि दोनों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है।


मन की बात’ में आप कई तरह के Ideas भेजते हैं। हम सभी पर तो नहीं चर्चा कर पाते हैं, लेकिन उनमें से बहुत से विचारों को मैं सम्बंधित विभागों को जरुर भेजता हूँ ताकि उन पर आगे काम किया जा सके।
आइए, हम ‘अमृत महोत्सव’ के दिन ये अमृत संकल्प लें, कि देश ही हमारी सबसे बड़ी आस्था, सबसे बड़ी प्राथमिकता बना रहेगा। “Nation First, Always First” के मंत्र के साथ ही हमें आगे बढ़ना है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि जब भी कहीं हटकर कुछ नया करने का प्रयास हुआ है, मानवता के लिए नए द्वार खुले हैं, एक नए युग का आरंभ हुआ है। जब हम कुछ नया सीखते हैं, तो हमारे लिए प्रगति के नए-नए रास्ते खुद-ब-खुद खुल जाते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि राजकोट में लाइट हाउस, फ्रेंच टेक्नोलॉजी से बनाए जा रहे हैं, जिनमें टनल के जरिए मोनोलिथिक कंक्रीट कंस्ट्रशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो रहा है। इस टेक्नोलॉजी से बने घर आपदाओं का सामना करने में कहीं अधिक सक्षम होंगे।
पीएम मोदी ने कहा- खादी खरीदना एक तरह से जन-सेवा और देश-सेवा भी है। मेरा आपसे आग्रह है कि आप सभी मेरे प्यारे भाइयो-बहनों ग्रामीण इलाकों में बन रहे हथकरघा उत्पाद जरूर खरीदें और उसे #MyHandloomMyPride के साथ शेयर करें।
पीएम मोदी ने कहा आपने देखा होगा कि साल 2014 के बाद से ही ‘मन की बात’ में हम अक्सर खादी की बात करते हैं. ये आपका ही प्रयास है कि आज देश में खादी की बिक्री कई गुना बढ़ गई है।
7 अगस्त को आने वाला नेशनल हैंडलूम डे, यह एक ऐसा अवसर है जब हम प्रयास पूर्वक भी ये काम कर सकते हैं। इस दिन के साथ बहुत ऐतिहासिक पृष्ठभूमि जुड़ी हुई है। इसी दिन 1905 में स्वदेशी आंदोलन की शुरुआत हुई थी।
हमें देश के लिए जीना है, देश के लिए काम करना है और इसमें छोटे-छोटे प्रयास भी बड़े नतीजे ला देते हैं। रोज के कामकाज करते हुए भी हम राष्ट्र निर्माण कर सकते हैं. जैसे- वोकल फॉर लोकल।
इस बार 15 अगस्त को एक आयोजन होने जा रहा है ये ‘राष्ट्रगान’ से जुड़ा एक प्रयास है. सांस्कृतिक मंत्रालय की कोशिश है कि इस दिन ज्यादा-से-ज्यादा भारतवासी मिलकर राष्ट्रगान गाएँ, इसके लिए एक वेबसाइट भी बनाई गई है- राष्ट्रगानडॉटइन
आपको याद होगा आज़ादी के 75 साल मनाने के लिए 12 मार्च को बापू के साबरमती आश्रम से ‘अमृत महोत्सव’ की शुरुआत हुई थी। इसी दिन बापू की दांडी यात्रा को भी पुनर्जीवित किया गया था
26 जुलाई को ‘कारगिल विजय दिवस’ है. कारगिल का युद्ध भारत की सेनाओं के शौर्य और संयम का ऐसा प्रतीक है, जिसे पूरी दुनिया ने देखा है। इस बार ये गौरवशाली दिवस भी ‘अमृत महोत्सव’ के बीच मनाया जाएगा।
पीएम मोदी ने कहा दो दिन पहले कुछ अद्भुत तस्वीरें सामने आईं। टोक्यो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों को तिरंगा लिए चलते देखकर मैं ही नहीं पूरा देश रोमांचित हो उठा।

Also read- https://khabarsatta.com/sports/wrestling-priya-malik-named-gold-medal-in-world-cadet-wrestling-championship-sports-minister-congratulated/

Place Your Ad Here

Leave a Comment