Home » देश » भगवान कृष्ण और हनुमान सबसे बड़े कूटनीतिज्ञ: विदेश मंत्री जयशंकर ने रामायण से सुनाई ‘बुद्धि’ की कहानी

भगवान कृष्ण और हनुमान सबसे बड़े कूटनीतिज्ञ: विदेश मंत्री जयशंकर ने रामायण से सुनाई ‘बुद्धि’ की कहानी

By SHUBHAM SHARMA

Published on:

Follow Us
s-jaishankar
Lord Krishna और Hanuman सबसे बड़े कूटनीतिज्ञ: विदेश मंत्री जयशंकर ने रामायण से सुनाई 'बुद्धि' की कहानी

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को कूटनीति को परिभाषित करते हुए महाभारत और रामायण जैसे भारतीय महाकाव्यों के महत्व पर प्रकाश डाला. जयशंकर पुणे में आयोजित अपनी पुस्तक ‘द इंडिया वे: स्ट्रैटेजीज फॉर एन अनसर्टेन वर्ल्ड’ के विमोचन कार्यक्रम में बोल रहे थे.

जयशंकर ने कहा, ‘भगवान कृष्ण और हनुमान दुनिया के सबसे महान राजनयिक हैं. हनुमान कूटनीति से भी आगे निकल गए। वह लंका गए, जहां उन्होंने सीता से संपर्क किया, लंका में भी आग लगा दी।”

एस. जयशंकर की किताब का मराठी में अनुवाद किया गया है। इस अनुवादित मराठी पुस्तक का नाम ‘भारत मार्ग’ है।विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि श्री कृष्ण ने हमें सिखाया कि कैसे साहसी बनना है। कृष्ण ने शिशुपाल के 100 अपराध क्षमा किए। लेकिन फिर उसकी हत्या कर दी।

हनुमान ने बुद्धि के बल पर कार्य पूरा किया

विदेश मंत्री ने इस मौके पर कुराक्षेत्र का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘महाभारत का युद्ध कौरवों और पांडवों के बीच लड़ा गया था। लोग कहते हैं कि इतिहास और धार्मिक ग्रंथ हमें एक नया नजरिया देते हैं। 

श्रीकृष्ण और हनुमान को कूटनीति के नजरिए से देखें तो उनकी महानता जगजाहिर है। वे किस स्थिति में थे, उन्हें कौन सा मिशन दिया गया था, हनुमान ने उस मिशन को कैसे पूरा किया। 

अपनी बुद्धिमत्ता का परिचय देते हुए वह इतना आगे बढ़ गया कि उसने न केवल मिशन को पूरा किया, बल्कि आगे जाकर लंका को जला दिया।

SHUBHAM SHARMA

Khabar Satta:- Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Leave a Comment

HOME

WhatsApp

Google News

Shorts

Facebook