Place Your Ad Here

चारधाम यात्रियों के लिए खुशखबरी: यात्रा से पहले बद्रीनाथ और केदारनाथ में खुलेंगे अस्पताल

By SHUBHAM SHARMA

Published on:

Follow Us
Hospital In Kedarnath and badrinath

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

DEHRADUN: चारधाम यात्रा (Chardham Yatra 2024) से पहले बद्रीनाथ (Badrinath) और केदारनाथ (Kedarnath) में अस्पताल (Hospital) खोले जाएंगे और इसके लिए उपकरण खरीदने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Pushkar Singh Dhami) की अध्यक्षता में कैबिनेट से मंजूरी मिल गई है, स्वास्थ्य सचिव डॉ. आर. राजेश (Dr R. Rajesh) ने कहा। इसके अलावा, चारधाम यात्रा मार्ग (Chardham Yatra Marg) पर उच्च हिमालय में काम करने के लिए अनुभवी और प्रशिक्षित चिकित्सा टीमों को तैनात किया जा रहा है ताकि तीर्थयात्रियों (TeerthYatri) को तत्काल स्वास्थ्य सेवाएं मिल सकें।

स्वास्थ्य सचिव ने तीर्थयात्रियों से चारधाम यात्रा से पहले अपने स्वास्थ्य का परीक्षण कराने की भी अपील की। चारधाम यात्रा को लेकर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में अहम बैठक हुई और मुख्य सचिव की ओर से अहम निर्देश मिले. जिसके चलते चारधाम यात्रा की सभी तैयारियां तेजी से चल रही हैं।

सभी विभागों से समन्वय बनाया जा रहा है. सभी लोग एक टीम के रूप में काम करेंगे. उन्होंने बताया कि इस बार तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए चारधाम में करीब 150 लोगों की मेडिकल टीम तैनात की जायेगी. इस टीम को ऊंचाई पर काम करने की ट्रेनिंग दी जाएगी. 15-15 दिन के लिए डॉक्टरों की तैनाती की जाएगी।

स्वास्थ्य सचिव के मुताबिक इस बार विभाग रुद्रप्रयाग, चमोली और उत्तरकाशी में तैनात डॉक्टरों को चारधाम में तैनाती नहीं देगा। इसके स्थान पर कुमाऊं और अन्य जिलों से डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ तैनात किया जाएगा। डॉ. राजेश कुमार के मुताबिक चारधाम यात्रा के दौरान मार्ग में जगह-जगह तीर्थयात्रियों के लिए स्वास्थ्य जांच की व्यवस्था की जा रही है.

इस बार शुरुआती चरण से ही तीर्थयात्रियों की स्क्रीनिंग पर विशेष फोकस रखा जाएगा. चारधाम यात्रा मार्ग पर हेल्थ प्वाइंट पर मरीजों के स्वास्थ्य की गहन जांच की जाएगी। इसके बाद उन्हें आगे बढ़ने की इजाजत दी जाएगी. उन्होंने यात्रियों से अपील की कि देवभूमि में उनका स्वागत है, लेकिन यात्रा से पहले अपने स्वास्थ्य की जांच अवश्य करा लें।

उन्होंने कहा कि हृदय एवं रक्तचाप के रोगियों तथा गर्भवती महिलाओं को अपने स्वास्थ्य की जांच कराने के बाद ही यात्रा करनी चाहिए। विभाग यात्रियों का स्वास्थ्य रिकॉर्ड रखेगा। यदि तीर्थयात्री को कहीं भी कोई असुविधा होती है तो उसे अपनी जांच करानी चाहिए। 

मौसम अनुकूल होने पर ही यात्रा करें। स्वास्थ्य सचिव आर राजेश कुमार ने कहा कि चारधाम यात्रा के दौरान देश भर के साथ-साथ विदेशों से भी श्रद्धालु आते हैं, लेकिन अक्सर देखा जाता है कि स्थानीय भाषा में स्वास्थ्य संबंधी दिशानिर्देश न होने के कारण कई बार श्रद्धालुओं को समझने में दिक्कत आती है. दिशानिर्देश. होती है।

इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने पिछले साल बड़ी पहल की और हिंदी और अंग्रेजी के अलावा 9 अन्य भाषाओं में एसओपी जारी की. इस बार भी ऐसा ही होगा, एसओपी कुल 11 भाषाओं में जारी की जाएगी. जिससे दूसरे राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को अपनी भाषा में स्वास्थ्य संबंधी दिशानिर्देश और जानकारी मिल सकेगी. इससे उन्हें दिशानिर्देशों को पूरी तरह से समझने में मदद मिलेगी।

SHUBHAM SHARMA

Khabar Satta:- Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Place Your Ad Here

Leave a Comment