Homeदेशएक्सिस बैंक के ग्राहक ध्यान दें! एक मई से खाते में 'इतना...

एक्सिस बैंक के ग्राहक ध्यान दें! एक मई से खाते में ‘इतना ’पैसा नहीं होने पर जुर्माना लगेगा

जुलाई 2021 से, ग्राहकों को एसएमएस सेवाओं के लिए अधिक भुगतान करना होगा। इसमें बैंकों और ओटीपी संदेशों के प्रचार संदेश शामिल नहीं होंगे।

- Advertisement -

नई दिल्ली: एक्सिस बैंक के लाखों ग्राहकों के अगले महीने से हिट होने की संभावना है। बैंक ने औसत मासिक बैलेंस आवश्यकता में बदलाव की घोषणा की है, जिसमें एसएमएस शुल्क भी शामिल है । बैंक ने इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की है और निजी क्षेत्र के बैंक ने भी नकद निकासी शुल्क में वृद्धि की है। जुलाई 2021 से, ग्राहकों को एसएमएस सेवाओं के लिए अधिक भुगतान करना होगा। इसमें बैंक से प्रचार संदेश और ओटीपी संदेश शामिल नहीं होंगे। (एक्सिस बैंक ने पहली बार 2021 तक लागू औसत संतुलन को संशोधित किया)

1 मई 2021 से न्यूनतम औसत बैलेंस सीमा बढ़ाई

इसके अलावा, एक्सिस बैंक ने अगले महीने यानी 1 मई 2021 से न्यूनतम औसत बैलेंस सीमा बढ़ा दी है। मेट्रो शहरों में एक्सिस बैंक के आसान बचत खाते के लिए न्यूनतम बैलेंस 10,000 रुपये से बढ़ाकर 15,000 रुपये कर दिया गया है। यह सभी घरेलू और एनआरआई ग्राहकों पर लागू होगा।

मेट्रो शहरों के लिए

- Advertisement -

एक्सिस बैंक ने प्राइम वेरिएंट खाते के लिए न्यूनतम शेष राशि को 25,000 रुपये या कम से कम 1 लाख रुपये के सावधि जमा में बदल दिया है। प्राइम वेरिएंट बैंक खातों में डिजिटल प्राइम, सेविंग डोमेस्टिक और नॉन-रेजिडेंट प्राइम और लिबर्टी स्कीम अकाउंट शामिल होंगे। इसे 1 मई, 2021 से लागू किया जाएगा।

अर्ध-शहरी क्षेत्रों के लिए

जिन ग्राहकों के पास पहले अर्ध-शहरी क्षेत्र में मुख्य खाता था, उन्हें 15,000 रुपये या 1 लाख रुपये की न्यूनतम जमा राशि रखने की आवश्यकता थी। अब सावधि जमा को बढ़ाकर 25,000 रुपये या 1 लाख रुपये कर दिया गया है। वहीं, लिबर्टी स्कीम खातों वाले ग्राहकों को प्रति माह 15,000 रुपये जमा करने होते हैं या हर महीने 25,000 रुपये खर्च करने होते हैं। अब इस सीमा को बढ़ाकर 25,000 रुपये प्रति माह या इतनी ही राशि प्रति माह खर्च करनी होगी।

ग्रामीण क्षेत्रों के लिए

- Advertisement -

ग्रामीण क्षेत्रों में, मुख्य खाताधारकों के लिए 15,000 रुपये या 1 लाख रुपये की मासिक जमा अनिवार्य थी। अब यह सीमा बढ़ाकर 25,000 रुपये प्रति माह कर दी गई है। लिबर्टी खाताधारकों को अब 15,000 रुपये के बजाय 25,000 रुपये या 25,000 रुपये प्रति माह खर्च करने होंगे।

आपको कितना जुर्माना देना होगा?

बैंक ने न्यूनतम खाता शेष न रखने वाले ग्राहकों के लिए न्यूनतम जुर्माना 150 रुपये से घटाकर 50 रुपये कर दिया है। यह सभी स्थान खातों पर लागू होगा।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

WhatsApp Join WhatsApp Group