Homeबॉलीवुडशरद केलकर भी अपने करियर में 'पैसे नहीं है' वाले दौर से...

शरद केलकर भी अपने करियर में ‘पैसे नहीं है’ वाले दौर से गुजर चिके है, उन्होंने खुलासा करते हुए बताया कि एक घर में 12-13 से ज्यादा लोगों के साथ रहना पड़ता था

केलकर ने न केवल अपने अभिनय करियर में, बल्कि एक वॉयस-ओवर कलाकार के रूप में भी एक लंबा सफर तय किया है, जो उन्होंने हकलाने की चुनौती पर काबू पाने के बाद हासिल किया है।

- Advertisement -

भारतीय टेलीविजन और फिल्म अभिनेता शरद केलकर का कहना है कि संघर्ष एक अभिनेता को उनकी सफलता को अधिक महत्व देता है, उनके साथ भी ऐसा ही था। केलकर ने न केवल अपने अभिनय करियर में, बल्कि एक वॉयस-ओवर कलाकार के रूप में भी एक लंबा सफर तय किया है, जो उन्होंने हकलाने की चुनौती पर काबू पाने के बाद हासिल किया है, वे कहते हैं।

टीवी शो ‘सात फेरे’ से घर-घर में मशहूर हुए केलकर ने आईएएनएसलाइफ से खास बातचीत में बात की। नीचे उन्होंने जो कुछ कहा, उसे जानने के लिए पढ़ें।

- Advertisement -

फिल्म उद्योग में अपनी यात्रा के बारे में बात करते हुए, शरद केलकर ने कहा, “मैंने फिल्म उद्योग में दस साल पूरे कर लिए हैं, हालांकि मैंने अपना फिल्मी करियर 2004 में शुरू किया था जब मैंने एक मराठी फिल्म की थी। लेकिन इससे हटकर 2012 में ‘गोलियों की रासलीला राम-लीला’ के साथ हुआ। 

यह एक शानदार यात्रा रही है, मैंने अच्छे दोस्त बनाए हैं। दर्शकों ने मुझे एक अभिनेता के रूप में स्वीकार किया है। यह एक बड़ी उपलब्धि है। कोई भी अभिनेता आपके मूल्य के लिए स्वीकार किए जाने और उसकी सराहना करने का प्रयास करता है। मेरा काम पसंद करने वाले दर्शकों को श्रेय जाता है और किस्मत को भी। मैं भाग्य में विश्वास करता हूं।”

- Advertisement -

अपने शुरुआती संघर्षों पर प्रकाश डालते हुए, शरद केलकर ने कहा, “सभी ने संघर्षों का सामना किया है। मेरे शुरुआती दिन संघर्षों से भरे थे, काम नहीं मिल रहा था, ‘पैसे नहीं है’ (पैसा नहीं है), एक घर में 12-13 से ज्यादा लोगों के साथ रहना। 

सब कुछ किया गया है, लेकिन कोई भी अपनी सफलता को तब अधिक महत्व देता है जब उन्होंने इसके लिए संघर्ष किया हो। मेरे लिए, मुझे लगता है कि संघर्ष बहुत महत्वपूर्ण था। दूसरी चुनौती थी हकलाना, और किसी तरह मैं उस पर काम करने में कामयाब रहा। मैं अभी भी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने और बिना किसी सीमा के सीखने की कोशिश कर रहा हूं।”

- Advertisement -

उन्होंने आगे कहा, “एक वॉयस-ओवर कलाकार के रूप में मेरा करियर एक मुश्किल है, क्योंकि मैं इसे वह एकाग्रता देने में असमर्थ हूं जिसके वह हकदार हैं; मैं अपने अभिनय करियर पर ज्यादा ध्यान दे रही हूं। 

यदि कोई विमान में मास्क लगाकर यात्रा कर रहा है, और आप अपने दोस्तों को फोन करते हैं, तो लोग आपको आपकी आवाज से पहचान लेते हैं। जब आपकी आवाज़ को चेहरे की आवश्यकता नहीं होती है तो यह बहुत अच्छा एहसास होता है। मैं बहुत अधिक वॉयस-ओवर नहीं कर रहा हूं, लेकिन मुझे अच्छा लगेगा।”

अपनी हालिया फिल्म भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया के बारे में बात करते हुए , शरद केलकर ने कहा, “लोग इसे जो प्रतिक्रिया दे रहे हैं, उससे मैं काफी अभिभूत हूं। मैं इतने सालों से अलग-अलग तरह की भूमिकाएं निभाने की कोशिश कर रहा हूं और अब लोग मुझे पहचान रहे हैं। यह एक अद्भुत अहसास है।”

उन्होंने आगे कहा, “‘भुज’ एक शानदार अनुभव था क्योंकि इतनी बड़ी युद्ध फिल्म का हिस्सा बनना शानदार है। जब फिल्म की घोषणा की गई थी, मुझे लगता है कि राणा दग्गुबाती को भूमिका निभानी थी, लेकिन शायद वह ठीक नहीं चल रहे थे। इसलिए मेरा नाम सुझाया गया। यह मेरी पहली देशभक्ति युद्ध फिल्म है और मैंने इसका भरपूर आनंद लिया।

अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में बात करते हुए, शरद केलकर ने कहा, “मैं वर्तमान में रहता हूं, इसलिए भविष्य की कोई योजना नहीं है। आप जो भी योजना बनाते हैं, वह किसी तरह टॉस के लिए जाता है। 

2020 की शुरुआत में, मुझे कुछ फिल्में करनी थीं, जो 2020 के अंत में रिलीज होनी थीं। किसने सोचा होगा? भविष्य की योजना बनाने का कोई मतलब नहीं है। वर्तमान में जीने और जो आप कर रहे हैं उसका आनंद लेने के लिए बेहतर है, और स्वयं का विश्लेषण करें, अपनी गलतियों पर काम करें और आगे बढ़ें।”

- Advertisement -
spot_img
spot_img
Shubham Sharma
Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Popular (Last 7 Days)

bihar-viral-fever

बिहार में जानलेवा दिखाई दे रहा वायरल फीवर, अब तक 13 की मौत

0
शुभम शर्मा @shubham-sharma पटना । बिहार में इस समय वायरल बुखार का प्रकोप बच्चों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने...
Whatsapp New Feature

WhatsApp Add to Cart Feature: व्हाट्सएप यूजर्स को Shopping के लिए Whatsapp पर मिलेगी...

0
नई दिल्ली, शुभम शर्मा : WhatsApp Add to Cart Feature: व्हाट्सएप यूजर्स को Shopping के लिए Whatsapp पर मिलेगी 'Add to Cart' बटन व्हाट्सएप ने...
MP Police GK In Hindi 2020

MP Police GK In Hindi 2020 : म0प्र0 पुलिस भर्ती के लिए जरूरी जनरल...

0
MP Police GK In Hindi 2020 : म0प्र0 पुलिस जनरल नॉलेज 2020 MP Police GK In Hindi 2020 Hindi | मध्य प्रदेश पुलिस सामान्य...
General Me Kaun Kaun Si Jaati Aati Hai

जनरल में कौन कौन सी जाति आती हैं | General Me Kaun Kaun Si...

0
जनरल में कौन कौन सी जाति आती हैं। (General Me Kaun Kaun Si Jaati Aati Hai), सामान्य जाति श्रेणिया ,जनरल में कौन कौन सी कास्ट...
vinod-soni

सिवनी: शुक्रवारी में भाजपा नेताओं में विवाद, गणेश चोक में 1 का सिर फूटा,...

0
सिवनी।  मंगलवार की देर शाम शुरु हुआ विवाद रात तक जारी रहा। हद तो तब हो गई जब कोतवाली थाने में हंगामा हो गया।...

Char Dham Yatra 2021 : उत्तराखंड हाईकोर्ट ने हटाई चार धाम यात्रा पर लगी...

0
उत्तराखंड हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा करने की इजाजत दे दी है।
seoni-kisan-satyagrah

सिवनी: 4 साल से नहर में पानी के इन्तेजार के बाद अब सैंकड़ो किसानों...

0
सिवनी : पेंच परियोजना सिवनी जिले के लिए एक वरदान साबित हो सकती थी, किंतु भ्रष्टाचार और घटिया राजनीति के चलते ये योजना भी...
GK-in hindi 2021-Hindi General-Knowledge-2021-in-hindi

GK In Hindi 2021 | सामान्य ज्ञान 2021 – General Knowledge 2021 in हिन्दी

0
GK In Hindi 2021 | सामान्य ज्ञान 2021 – General Knowledge 2021 in हिन्दी GK In Hindi 2021 | सामान्य ज्ञान 2021 – General...
tarun-patel

सिवनी: टीम आरोपण ने सफलतापूर्वक किया 500 वृक्षों का वृक्षारोपण

0
सिवनी: दिनांक 11/09/2021 ऋषि पंचमी के उपलक्ष में ग्राम हिवरा में 100 सागौन के वृक्षों का किया वृक्षारोपण एवम ग्राम हिवरा के निवासी...
- Advertisment -