सफेद रेत का काला कारोबार करते ग्रामीणों ने पकड़ा…

0
217
सफेद रेत का काला कारोबार करते ग्रामीणों ने पकड़ा... SEONI NEWS
सफेद रेत का काला कारोबार करते ग्रामीणों ने पकड़ा… SEONI NEWS

सिवनी : क्षेत्र में रेत का काला कारोबार जोरों पर जारी है। जिसका परिणाम है कि क्षेत्र की अधिकांश सड़कें खराब हो चुकी है। बार बार कार्रवाई की औपचारिकता मात्र निभाने के कारण रेत माफिया के हौसले बुलंद है। इसका एक नजारा मंगलवार को खरसारू में देखने को मिला जहां ग्रामीणों ने रेत से भरे एक डंपर को रुकवा कर पुलिस के हवाले कर दिया।

त्रस्त हो चुके हैं ग्रामीण
क्षेत्र में सफेद रेत का काला कारोबार लगातार जारी है। सरकारें बदलने के बावजूद रेत माफिया के हौसले बुंलद हैं। इसका परिणाम यह है कि क्षेत्र में ओवरलोड डंपर दिन रात ग्रामीण सड़कों का सीना छलनी करते दौड़ते रहते हैं। मंगलवार को खरसारू के ग्रामीणों ने रेत से भरे ओवरलोड डंपर को रुकवा कर पुलिस को सूचना दी।ग्रामीणों ने बताया कि रेत से भरे यह ओऴरलोड डंपर क्रमांक एमपी 50 एच 1572 क्षेत्र से होकर गुजर रहा था। शासन की रोक के बावजूद इस डंपर में रेत का परिवहन किया जा रहा था। जबकि प्रदेश शासन ने खनन संबंधी नई नीति की घोषणा कर रेत खनन पर फिलहाल रोक लगा रखी है। ग्रामीणों ने डंपर को रोककर केवलारी पुलिस को सूचना दी।

कुछ नहीं बिगाड़ सकता कोई
ग्रामीणों ने बताया कि जब उन्होंने इस डंपर को रुकवाया तो वाहन में सवार चालक औऱ परिचालक ग्रामीणों से ही अभद्रता करने लगे। उनका कहना था कि सारा सिस्टम ऊपर से चल रहा है। जिसके चलते इन डंपरों को रोकना नामुमकिन है। वाहन में सवार लोगों का कहना था कि वे एक घंटे में ही छूट जाएंगे।

यह भी पढ़े :  सिवनी जिले में शांति समिति की बैठक सम्पन्न

रास्ते हो गए छलनी
ग्रामीणों ने बताया कि क्षेत्र में डंपरों को धमाचौकड़ी लगातार जारी है। जिसके कारण क्षेत्र की सड़कें छलनी में तब्दील हो चुकी है। बारिश के दिनों में सड़कों पर पैदल गुजरना भी दुश्वार सा हो गया है। बार बार प्रशासन को शिकायत के बावजूद किसी तरह की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जिससे ग्रामीण आक्रोशित हैं। ग्रामीणों ने कहा कि ये डंपर दिन रात दौड़ते रहते हैं जिससे प्रदूषण फैल रहा है।

बालाघाट का निवासी है डंपर मालिक
जिले में प्राकृतिक संपदा की लूट में पड़ोसी जिले से भी लोग सक्रिय हैं। बताया जा रहा है कि यह डंपर बालाघाट निवासी एजाज खान का है। जिले में विभिन्न रेत खदानों में उसके विभिन्न डंपर दौड़ते भागते रहते हैं। कई जगहों पर रेत खनन की अनुमति न होने के बावजूद रेत का खनन किया जा रहा है। जिससे नदी की धारा मुड़ने का खतरा भी पैदा हो गया है। इससे नदी के किनारे की खेती की जमीन भी बर्बाद हो रही है। ग्रामीणों ने नियमानुसार खनन कराए जाने की मांग की है।

इनका कहना है: केवलारी पुलिस द्वारा मुझे मामले की जानकारी लगी है। इस संबंध में स्टाफ को केवलारी भेजा गया है। अवैध रूप से उत्खनन करने वालों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। क्षेत्र में हो रहे उत्खनन की वैधता की जांच की जाएगी।
आशालता वैद्य, जिला खनिज अधिकारी, सिवनी

यह भी पढ़े :  मारपीट के दो आरोपीयो को हुई सजा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.