Saturday, April 17, 2021

सिवनी: उचित जानकारी न देने पर दो प्राचार्यों को कारण बताओं नोटिस जारी

Must read

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma
- Advertisement -

सिवनी । सिवनी कलेक्टर डॉ. राहुल हरिदास फटिंग ने गुरूवार 4 मार्च 2021 को जिले के हाई एव हायर सेकेण्डरी स्कूल के प्राचार्य एवं शिक्षा विभाग के जिलास्तरीय अधिकारियों की ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगामी होने वाली वार्षिक परीक्षाओं एवं छात्रों के अध्यापन कार्य के संबंध में समीक्षा करते हुए दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने जिले के हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों के वार्षिक परीक्षा परिणाम में सुधार लाने हेतु प्राचार्य एवं विषयवार, विषय शिक्षकों को निर्धारित कार्ययोजना बनाकर लक्ष्य निर्धारित कर प्राचार्य स्वयं एवं नियमित रूप से स्कूल समय में उपस्थित रह कर अध्यापन कार्य कराने, शाला स्टॉफ खासकर दसवीं एवं बारहवीं कक्षाओं में अध्यापन कार्य कराने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं को अनावश्यक अवकाश पर न रहने के निर्देश दिए।

सिवनी कलेक्टर डॉ फटिंग द्वारा कक्षा दसवीं एवं बारहवीं के विद्यार्थियों को समूह बनाकर पढ़ाई कराने, प्रयोगशालायें विधिवत संचालित करने एवं प्रायोगिक कार्य पाठयक्रम अनुसार कराये जाने, विगत तिमाही, छ:माही परीक्षा परिणाम का विश्लेषण कर छात्रवार रणनीति बनाकर शैक्षणिक गतिविधियों पर सतत निगरानी रखने के निर्देश भी शिक्षकों को दिए।

- Advertisement -

उन्होंने आगामी समय में आयोजित होने वाले इंस्पायर अवार्ड प्रतियोगिता के लिए छात्र छात्राओं को प्रेरित करने अवार्ड के लिए आइडिया का चिन्हांकन करने, समेकित छात्रवृत्ति सत्र 2020-21 की शत-प्रतिशत मैंपिंग, प्रोफाईल अपडेशन एवं स्वीकृति कार्य समय-सीमा में पूर्ण कराऐ जाने के निर्देश दिए।

डॉ फटिंग ने सभी प्राचार्यों से विद्यार्थियों के बैंक अकाउंट पर विशेष निगरानी रखने तथा गलत बैंक अकांउट के कारण छात्रवृत्ति की राशि लंबित या गलत खाते में ट्रांसफर न होने की बात को भी ध्यान में रखने के निर्देश दिए।

- Advertisement -

सिवनी कलेक्टर डॉ फटिंग ने आनलाईन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में हाईस्कूल झीलपिपरिया एवं हाईस्कूल बगदरी के प्राचार्य द्वारा उचित जानकारी न देने पर नाराजागी व्यक्त करते हुये जिला शिक्षा अधिकारी को उक्त दोनों प्राचार्यों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए साथ ही उन्होंने सभी जिलास्तर के अधिकारियों शालाओं में अध्यापन कार्य की सतत मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए।

- Advertisement -
- Advertisement -

More articles

- Advertisement -

Latest article

_ _