Home सिवनी नाथ से विकास की मांग कर जले पर नमक छिड़कना है-संजीव

नाथ से विकास की मांग कर जले पर नमक छिड़कना है-संजीव

सिवनी- सिवनी को गोद लेने की बात कहकर अपने ही गोद पुत्र का गला घोटने वाले श्री कमलनाथ ने यदि अपने पितृ धर्म को निभाया होता तो आज एनएसयूआई को सिवनी के विकास की मांग करते हुए श्री कमलनाथ को ज्ञापन सौंपने जैसा हास्यस्पद कदम नहीं उठाना पड़ता । इस आशय की प्रतिक्रिया भाजपा फीडबैक प्रकल्प के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य श्री संजीव मिश्रा द्वारा श्री कमलनाथ को सौंपे गए ज्ञापन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहीँ श्री संजीव मिश्रा द्वारा कहा गया कि ज्ञापन सौंपने की यह नौटंकी महज

- Advertisement -

श्री कमलनाथ का महिमामंडन और उन्हें विकास पुरुष साबित करने के असफल प्रयास मात्र हैं। श्रीनाथ ना तो प्रदेश ओर ना ही केंद्र सरकार का प्रतिनिधित्व करते हैं । वह ऐसी विपक्षी पार्टी के सांसद हैं जिसे लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष का दर्जा भी हासिल नहीं है । ऐसे में उन के माध्यम से ब्राडगेज के कार्य की गति बढ़ाने की मांग करना एनएसयूआई की नौटंकी और श्री नाथ चालीसा पढ़कर अपने नेता को प्रसन्न करने की कवायद मात्र है ।

श्री मिश्रा द्वारा कहा गया कि श्री नाथ से सिवनी के विकास की मांग करना जिले वासियों के जले पर नमक छिड़कने जैसा दुष्कर्म है । क्योंकि यह सर्वविदित है कि श्रीनाथ ने अपने संसदीय क्षेत्र के विकास के लिए सिवनी के हकों को छीनने का अपराध किया है। चाहे वह फोर लाइन का मामला हो जो

- Advertisement -

जिले वासियों के सामने है । परिसीमन में छिंदवाड़ा को बचा कर सिवनी को विलोपित करवाने का षड्यंत्र भी श्री नाथ के पापों की फेहरिस्त में शामिल है।

यह भी पढ़े :  मध्यप्रदेश के SEONI में रात 01:45 पर 4.3 तीव्रता का भूकंप CCTV में हुआ कैद

श्री मिश्रा ने कहा कि धनकुबेर श्री नाथ का इस प्रदेश से कोई वास्ता नहीं रहा है वह सिर्फ मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र को अपने सांसद बनने की सीढी के रूप में उपयोग करते रहे हैं । ना तो वे आम जनों की भावनाओं और तकलीफों को समझते हैं और ना ही उन्हें गांव , गरीब , किसान से मतलब है। इसलिए छिंदवाड़ा के शहरी क्षेत्र का विकास करके अपने ही जिले के ग्रामीण अंचलों को अपने पिछडेपन की खाई में धकेलने का कार्य उन्होंने किया है और वह मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनने का सपना देख रहे है जो कभी कामयाब नहीं होगा ।

यह भी पढ़े :  Earthquake in Seoni: सिवनी में रात 01:45 पर भूकंप का जोरदार झटका, तीव्रता 4.3 दर्ज
- Advertisement -

श्री मिश्रा द्वारा कहा गया कि 1990 से सिवनी विधानसभा में लगातार हार का सामना कर रहे कांग्रेसी कमलनाथ को ज्ञापन सौंपकर अपनी खींज मिटाने का प्रयास कर रहे हैं। वास्तविकता तो यह है कि बड़ी रेल लाइन के निर्माण कार्य को गति देने का प्रयास जिले के दोनों सांसदों द्वारा किया जा रहा है ।

परिणाम स्वरुप पिछले दिनों इस कार्य में तेजी भी आइ है जिसे देख कर कांग्रेसी अब श्री कमलनाथ को इसका श्रेय देने की कोशिश कर रहे हैं। जिसे जिले की जनता भली-भांति समझती है.

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,250FansLike
7,044FollowersFollow
787FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

धूमधाम से मनाया गया साई जन्मउत्सव

केवलारी/खैरा पलारी(रवि चक्रवती): ग्राम के माता दिवाला मंदिर में श्री सत्य साईं बाबा का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया।...
यह भी पढ़े :  Earthquake In Seoni : सिवनी में भूकंप का दूसरा झटका, तीव्रता 2.7 दर्ज

कोरोना का असरः कर्नाटक में दिसंबर में नहीं खुलेंगे स्कूल

बेंगलुरुः कर्नाटक सरकार ने कोविड-19 की स्थिति के मद्देनजर दिसंबर में स्कूलों को नहीं खोलने का सोमवार को फैसला किया। स्कूलों को फिर से खोले...

कानपुर में ढही तीन मंजिला इमारत, कई लोगों के दबे होने की आशंका

कानपुर में सोमवार को तीन मंजिला इमारत ढहने से हड़कंप मच गया। बिल्डिंग के नीचे कई लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा...

पटरी पर लौट सकते हैं भारत-नेपाल के रिश्ते, काठमांडू जाएंगे विदेश सचिव

नई दिल्लीः भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला नेपाल की दो दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर बृहस्पतिवार को काठमांडो पहुंचेंगे। इस यात्रा के दौरान वह अपने...

धुंध ने रोकी दिल्ली की रफ्तार, जहरीली हवा से लोगों को सांस लेने में हो रही दिक्कत

देश की राष्ट्रीय राजधानी में आए दिन हालात बिगड़ रहे हैं। जहां एक और धुंध ने दिल्ली की रफ्तार रोक दी है तो वहीं...
x