Home सिवनी फुलारा टोल नाके में नही दी जाती जानकारी

फुलारा टोल नाके में नही दी जाती जानकारी

सिवनी- सिवनी से छिंदवाड़ा के मध्य फुलारा में बना टोल टैक्स नाका अब आम नागरिकों सहित उन वीआइपी श्रेणी में शामिल लोगों के लिये भी परेसानी का सबब बन गया हे, जिनको भारत सरकार के द्वारा राजपत्र में राष्ट्र मार्गो के लिये विशेष छूट प्रदान की गई है। टोल नाके में पदस्थ कर्मी राजपत्र की सत्य प्रतिलिपियाँ उपलब्ध नही करवाते जिससे उन नागरिको को मानसिक परेसानी हो रही है,जिन्हें विशेष छूट राज पत्र में मिली हुए है, कर्मचारी वाहन चालकों से अभद्र व्यवहार करने में कोई कसर नही छोड़ रहे। नियत गणवेश नही होने से कर्मचारियों की जानकारी नही मिल पाती, जबकि सभी कर्मचारियों के नाम ,पता, नियत गणवेश में पट्टिका लगाकर प्रददर्शित होनी चाहिये।जिला मुख्यालय सिवनी से जबलपुर की ओर जाने वाले मार्ग में लगभग 20 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम अलोनिया व छिंदवाड़ा मार्ग में लगभग 15 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम फुलारा में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के संचालित टोल प्लाजा में फस्टैग से भुगतान नहीं लिया जा रहा है जिससे चौपहिया वाहनों में गुजरने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

ज्ञात हो कि अपनी सुविधा के लिए तथा टोल प्लाजा में कैशलेस भुगतान हेतु फास्टैग कार्ड वाहन मालिकों ने बनवाये है। इतना ही नहीं भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण में इस सुविधा को प्राथमिकता देते हुये टोल प्लाजा में लागू भी कर रखा है। इतना ही नहीं फास्टैग सुविधा के सुचारू संचालन के लिए इंटरनेट सुविधा भी उपलब्ध है, लेकिन टोल प्लाजा के ठेकेदार फास्टैग सुविधा से भुगतान लेना पसंद नहीं करते है, क्योंकि यह भुगतान सुविधा एनएचएआई के खाते में जाता है और भुगतान से यात्रियों को छूट ही मिलती है साथ ही साथ वाहन मालिकों के टोल प्लाजा से निकलते समय की बचत होती है। सिवनी जिले के अलोनिया व फुलारा टोल टैक्स प्लाजा में फास्टैग सुविधा से भुगतान ना लिये जाने के कारण वाहन मालिकों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

- Advertisement -

नेटवर्क ना मिलने का हवाला

जब टोल टैक्स प्लाजा से चौपहिया वाहन गुजरते है तो भुगतान के दौरान अलोनिया व फुलारा टोल टैक्स प्लाजा में तैनात अमला नेटवर्क का ना होने का हवाला देकर नगदी भुगतान लेते है। ज्ञात हो कि अलोनिया व फुलारा टोल प्लाजा के नजदीक ही एयरटेल कंपनी का टावर लगा है और टोल टैक्स प्लाजा स्थल में एयरटेल का पूरा नेटवर्क मिलता है। वहीं जब नेटवर्क ना होने का हवाला तैनात कर्मचारी देते है तो यहां से गुजरने वाले यात्री उन्हें एयरटेल का अपने मोबाइल से नेटवर्क भी बताते है। फिर भी अलोनिया व फुलारा टोल टैक्स प्लाजा में नगदी भुगतान लिया जाता है।

- Advertisement -

एनएचएआई का संरक्षण

अलोनिया व फुलारा में संचालित भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण टोल टैक्स प्लाजा में फास्टैग सुविधा उपलब्ध कराई गई है। विभाग की इस सुविधा से लोग लाभान्वित होना चाहते है, लेकिन ठेकेदार ने आम लोगों को मिलने वाली इस सुविधा से वंचित कर रखा है जिसकी शिकायत एनएचएआई के अधिकारियों को की गई, लेकिन कार्यवाही करने की बजाय टोल प्लाजा ठेकेदारों को अधिकारियों ने संरक्षण दिया है जिसके चलते कै शलेस भुगतान दोनों टोल प्लाजा में नही हो रहा है। शिकायतकर्ता का कहना है कि जब अलोनिया व फुलारा टोल प्लाजा में फास्टैग सुविधा हेतु नेटवर्क नहीं है तो एनएचएआईं द्वारा फास्टैग क्यों जारी हुए है।

- Advertisement -

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

Leave a Reply

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
794FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

संकल्प पत्र पर बोली कांग्रेस- सिंधिया को कांग्रेस का दुल्हा बताने वाली BJP खुद बाराती भी नहीं बना रही है

भोपाल: विधानसभा उपचुनाव के लिए बीजेपी ने चुनावी रणनीति के तहत 28 अक्टूबर को एक साथ पूरे 28 विधानसभा...

दिग्विजय का सिंधिया से सवाल- राज्यसभा सांसद तो कांग्रेस भी बनाती थी फिर दुश्मन के सामने क्यों झुके

अशोकनगर: विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह दो दिवसीय दौरे पर अशोकनगर के मुंगावली पहुंचे। वहां नुक्कड़ सभा में सीएम शिवराज सिंह चौहान...

निकिता हत्याकांड पर फूटा कंगना का गुस्सा, कहा- इस्लाम स्वीकार नहीं किया तो लड़की को उतार दिया मौत के

हरियाणा के फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ शहर में कॉलेज से पेपर देकर बाहर निकली एक छात्रा निकिता तोमर(21) की मुस्लिम समुदाय के एक युवक...

स्वास्थ्य मंत्रालय बोला-भारत प्रति 10 लाख की आबादी पर सबसे कम केस वाले देशों में शामिल

भारत प्रति दस लाख की आबादी पर कोरोना वायरस संक्रमण और इससे होने वाली मौतों के सबसे कम मामलों वाले देशों की सूची में...

लद्दाख को चीन के भूभाग के तौर पर दिखाना : ट्विटर का जवाब पर्याप्त नहीं : मीनाक्षी लेखी

नयी दिल्ली: लद्दाख को चीन के भूभाग के तौर पर दिखाने के संबंध में संसदीय समिति के सामने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर का स्पष्टीकरण पर्याप्त नहीं...
x