khabar-satta-app
Home सिवनी ऐसे कार्यवाही होती रही तो, कभी नहीं होगा अतिक्रमण : सख्त तेवर से हटा अतिक्रमण

ऐसे कार्यवाही होती रही तो, कभी नहीं होगा अतिक्रमण : सख्त तेवर से हटा अतिक्रमण

atikraman

घंसौर – नगर घंसौर में शासकीय भूमि पर फैले अतिक्रमण को हटाने आखिरकार प्रशासन ने सख्त तेवर दिखाते हुए विगत 9 जनवरी बुधवार को भारी पुलिस बल के बीच अतिक्रमण हटाना शुरू किया जहां एसडीएम सुश्री रजनी वर्मा और तहसीलदार अमृतलाल धुर्वे राजस्व अमले के साथ मौके पर पहुंचे सबसे पहले दोपहर लगभग 12:00 बजे तहसील कार्यालय के आसपास वर्षों से जमे अतिक्रमणकारियों द्वारा बनाए गए कच्चे एवं पक्के निर्माण कार्य ध्वस्त किए गए। अपना आशियाना टूटते देख कई अतिक्रमणकारियों ने भारी हंगामा मचाया। इस बीच पुलिस शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने वाली कुछ लोगों को उठाकर पुलिस थाना भी लेकर आई।

प्रशासन के सख्त रवैया के आगे अतिक्रमणकारी बेवस नजर आए घंसौर के इतिहास में शायद पहली बार प्रशासन ने इतनी सख्ती से अतिक्रमण हटाया इस बीच कुछ लोगों ने अतिक्रमण कारियों को हाथ में लेकर सुर्खियां बटोरने का काम जरूर किया वहीं घंसौर के स्थानीय जनप्रतिनिधि और राजनीतिक दलों के प्रमुख पदाधिकारियों ने प्रशासन की इस मुहिम से दूरी बनाकर रखी। घंसौर का कोई भी बड़ा नेता या जनप्रतिनिधी अतिक्रमणकारियों की पैरवी करते नजर नहीं आया।

- Advertisement -

अतिक्रमण विरोधी मुहिम से आहत फूट-फूट कर रो रहे कुछ लोगों ने प्रशासन पर भेदभाव के आरोप भी लगाये। बताया जा रहा है कि विगत दिनों कोयतूर गोंडवाना महासभा घंसौर द्वारा तहसीलदार को ज्ञापन सौंपकर अतिक्रमण हटाने की मांग शासन प्रशासन के समक्ष रखते हुए आंदोलन की चेतावनी दी थी वहीं जानकारी के अनुसार जिला कलेक्टर ने घंसौर में फैले अतिक्रमण के मामले में विशेष रूचि लेते हुए निर्देश भी जारी किये जिनके सतत मार्गदर्शन में स्थानीय अमले द्वारा सिलसिलेवार अतिक्रमण हटाया गया अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही दिनभर चलती रही।

तहसील कार्यालय के आसपास से अतिक्रमण हटाने के बाद आर आई कार्यालय के बाजू में मुख्य सड़क पर भी निर्माण कार्य सहित चाय पान के ठेला हटाए गये प्रशासन की इस कार्रवाई को जहां कुछ लोग अलग ही रंग दे रहे हैं.

- Advertisement -

वही लोग इसे नगर विकास की दृष्टि से जोड़कर भी देख रहे हैं घंसौर में दिनोंदिन बसाहट बढ़ती जा रही है ऐसे में बाहर से आकर दुकानदारी सहित अन्य रोजगार में संलग्न है लोग यहां स्थाई ठिकाना बनाना चाहते हैं जिसके चलते रिक्त पड़ी शासकीय भूमि पर किसी न किसी बहाने कब्जा कर स्थाई रूप से पक्के निर्माण कार्य करा लेते हैं प्रशासन द्वारा चलाई जा रही अतिक्रमण विरोधी मुहिम से एक तरफ अतिक्रमणकारियों की नींद उड़ चुकी है वहीं इस कार्रवाई से बेघर हुए कुछ लोग अपना ठिकाना ढूंढ रहे हैं प्रशासन की यह कार्रवाई तीन दिनों तक संचालित हो सकती है।

Related Video
- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
792FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

मायावती ने कहा-सपा को हराने के लिए बीजेपी को देंगे वोट, प्रियंका बोलीं-इसके बाद भी कुछ बाकी है?

लखनऊ: राज्यसभा चुनाव से पहले बसपा के 7 विधायक बगावत करके सपा में चले गए। पार्टी में सेंधमारी से नाराज...

खुलासा: तौसीफ के मामा के इशारे पर हासिल किया था हथियार, हत्या में परिजन भी हो सकते शामिल

सोहना: निकिता तोमर हत्याकांड के बाद जहां आरोपी तौसीफ के परिवाार के राजनैतिक कनेक्शन सामने आ रहेे थे वहीं अब आरोपी तौसीफ के रिश्तेदारों के क्रिमिनल...

PoK में पाकिस्तानी सीक्रेट एजेंट ने की कश्मीरी युवाओं के अपहरण की कोशिश, जमकर हुई धुनाई

पेशावरः पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में पाकिस्तान के सीक्रेट एजेंट द्वारा कश्मीरी युवाओं के अपहरण का मामला सामने आने पर हंगामा मच गया ।...

केशुभाई पटेल के निधन पर PM मोदी ने जताया शोक, बोले- पूर्व सीएम ने हमेशा किया मार्गदर्शन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते हुए गुुरुवार को कहा कि उनका जीवन...

मोदी सरकार पर भड़के पवार, बोले- केंद्र की नीतियों ने प्याज का स्वाद कर दिया कड़वा

पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने प्याज के आयात-निर्यात की नीति को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)...