लाड़ली बहना योजना: 25 मार्च से आपके गाँव और वार्ड में लगेंगे शिविर

By SHUBHAM SHARMA

Updated on:

Follow Us
ladli-behna-yojana

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

लाड़ली बहना योजना (Ladli Behna Yojana): मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा है कि मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना (MP Ladli Behna Yojana), बहनों के सशक्तिकरण के लिए बनाई गई है। सशक्तिकरण में सबसे अधिक जरूरी आर्थिक सशक्तिकरण है।

बहनों के पास पैसा हो, तो उनमें आत्म-विश्वास भी होता है और स्वाभिमान का भाव भी जागृत होता है। इसलिए हमने मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना (Ladli Behna Yojana) में हर पात्र बहन के खाते में हर महीने 1000 रूपए डालने का निर्णय लिया है।

योजना में वे बहने पात्र होंगी, जिनकी आयु 23 से 60 वर्ष के बीच हो, विवाहित हो, परिवार की आय ढाई लाख रूपए वार्षिक से कम हो और ऐसे परिवार जिनके पास 5 एकड़ से कम जमीन हो।

परिवार का मतलब पति, पत्नी और उनके बच्चे हैं। ऐसी पात्र बहनों के खाते में हर महीने एक हजार रूपए आएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोशल और इलेक्ट्रानिक मीडिया पर जारी संदेश में यह बात कही।

बहनों को लोक सेवा केन्द्र या अन्य कहीं जाने की जरूरत नहीं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मेरी बहनों को कोई दिक्कत न हो, यह मेरा कर्त्तव्य है। इसलिए योजना (Ladli Behna Yojana) में आवेदन प्रक्रिया को बहुत सरल बनाया गया है। योजना के फॉर्म आपके गाँव और शहर के वार्डों में भरवाए जाएंगे।

बहनों को लोक सेवा केंद्र या कही और जाने की जरूरत नहीं है। सभी गाँव में हमारे कर्मचारी आएंगे और फॉर्म भरवाएंगे। इसके लिए 25 मार्च से शिविर लगना शुरू होंगे। जब तक सभी बहनों के आवेदन नहीं भर जाते तब तक शिविर लगेंगे।

समग्र आई.डी. और आधार नंबर है तो कोई दिक्कत नहीं होगी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि आवेदन में अपना नाम, पति का नाम, मोबाइल नंबर आदि दर्ज कराने के अलावा तीन जरूरी जानकारी बहनों के पास होनी चाहिए। पहला- आपकी या आपके परिवार की समग्र आईडी, दूसरा- आपका आधार नंबर और तीसरा- समग्र में दर्ज आपका मोबाइल नंबर।

यह जानकारी यदि बहनों के पास है तो उनको कोई दिक्कत नहीं होगी। आवेदन भरा जाएगा और उसके बाद ई-केवाईसी करवाई जाएगी। इसके लिए बहनों को कहीं जाने की जरूरत नहीं है।

गाँव और शहर के वार्ड में ही ई-केवाईसी प्रक्रिया पूर्ण की जायेगी। जहाँ कनेक्टिविटी नहीं है, वहाँ दूसरे गाँव या कॉमन सर्विस सेंटर में बहनों को ले जाने की आवश्यकता पड़ती है तो उनके लिए वाहन की व्यवस्था शासन द्वारा की जाएगी।

यदि कोई पैसा मांगता है तो सीएम हेल्पलाइन 181 नंबर पर करें शिकायत

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ई-केवाईसी के लिए कोई शुल्क नहीं लगेगा। शासन द्वारा एक ई-केवाईसी के लिए 15 रूपए का भुगतान संबंधित कॉमन सर्विस सेंटर्स को किया जाएगा। यदि किसी बहन से कोई ई-केवाईसी के लिए पैसा मांगता है तो सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 पर फोन कर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

ऐसे लोगों को जेल भिजवाया जाएगा। बहनों को एक भी पैसा देने की जरूरत नहीं है। यदि मेरी बहनों को परेशानी होती है, तो मेरे भाई होने का मतलब ही क्या है। इसलिए निश्चिंत रहिए-परेशान मत होइए।

अपने गाँव, शहर में ही रहें। हमारी टीम आपसे संपर्क करेगी, शिविर में लाएगी और सारी औपचारिकता पूरी करवाएगी। ई-केवाईसी इसलिए कराई जा रही है, जिससे बहनों के खाते में ही पैसा जाए। बहने निश्चिंत रहें, उनकी सारी चिंताएँ हमारी हैं।

लाडली बहना योजना के लिए दस्तावेज

  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • स्वयं का समग्र आईडी
  • परिवार का समग्र आईडी
  • बैंक खाता जो आधार से लिंक हो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर

लाडली बहना योजना के लिए पात्रता

  • लाडली बहना योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाली महिला विवाहित होना चाहिए तभी आवेदन कर पाएंगी।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक की आयु 23 से 60 वर्ष के मध्य होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाली महिला के परिवार की वार्षिक आय 2,50,000 से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाले के पास 5 एकड़ से अधिक भूमि नहीं होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत विधवा , तलाकशुदा , परित्यक्त महिलाऐं भी पात्र होंगी।
  • लाडली योजना में अनुसूचित जाति , अनुसूचित जनजाति , पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग के पात्र होंगे।

लाडली बहना योजना में कितना पैसा मिलेगा ?

इस योजना के माध्यम से मध्यप्रदेश की महिलाओं को हर महीने 1000 यानि प्रतिवर्ष 12000 की आर्थिक सहायता प्रदान किया जायेगा।

लाडली बहना योजना का फॉर्म कहाँ भरें ?

लाडली बहना योजना के लिए हर गांव शहर में कैंप लगाया जायेगा। वहां जाकर आप फॉर्म भर सकते हैं।

लाडली बहना योजना की पात्रता क्या है ?

इस योजना का लाभ लेने के लिए महिला विवाहित होना चाहिए और उनकी आयु 23 से 60 वर्ष के माध्यम होना चाहिए। उनकी वार्षिक आय 2,50,000 अधिक न हो।

SHUBHAM SHARMA

Khabar Satta:- Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Leave a Comment