कमलनाथ का अमित शाह पर पलटवार : जनता नेता की उम्र नहीं, उनका काम देखती है

0
74

गृहमंत्री अमित शाह ने जबलपुर में नागरिकता कानून के समर्थन में रैली के दौरान कमलनाथ की उम्र का उपहास किया था. इसके जवाब में सीएम कमलनाथ ने कहा है कि जनता ने उनके काम को देखते हुए 5 साल के लिए चुना है

भोपाल. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है। कमलनाथ ने कहा कि जनता नेता की उम्र नहीं बल्कि उनका काम देखती है। अमित शाह ने रविवार को जबलपुर में एक रैली में कमलनाथ की ज्यादा उम्र को लेकर उपहास किया था। शाह ने कहा था कि इस उम्र में कमलनाथ को ज्यादा जोर से नहीं बोलना चाहिए, वरना उनकी सेहत खराब हो जाएगी।

कमलनाथ ने कहा, ‘हमने केवल एक साल में दिखाया है कि सरकार कैसे काम करती है। 265 दिनों में 365 वादों को पूरा करके लोगों का विश्वास जीत लिया है। हम खाली वादे करने में विश्वास नहीं करते हैं। जनता मेरे काम को देखती है, मेरी उम्र नहीं। लोगों ने मेरी उम्र के बावजूद मुझे 5 साल के लिए चुना है।

हार से गृहमंत्री निराश: कमलनाथ 

कमलनाथ ने आगे कहा, ‘हम समझ सकते हैं, राज्यों में मिल रही लगातार हार ने गृहमंत्री जी को निराशा की ओर धकेल दिया है। गृहमंत्री जितना कठिन परिश्रम विपक्षियों की आलोचना करने में कर रहे हैं, उतना परिश्रम, गिरती हुई अर्थव्यवस्था को सुधारने और रोजगार के अवसर सृजित करने में करते तो देश का ज्यादा भला होता।’

यह भी पढ़े :  महत्वपूर्ण जानकारी : मध्यप्रदेश में अब पुलिस के अलावा फायर ब्रिगेड के लिये भी होगा ये नंबर, सेव कर लें

कमलनाथ ने उम्र को लेकर चर्चिल का किस्सा सुनाया

कमलनाथ ने कहा- गृहमंत्री अमित शाह ने मेरी उम्र को लेकर जो कुछ कहा था, उस पर मुझे एक किस्सा याद आता है। एक बार ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल के 80वें जन्मदिन की पार्टी में एक फोटोग्राफर उनसे मिला। फोटोग्राफर ने चर्चिल को शुभकामना देते हुए कहा कि वह आशा करता है कि सौवें जन्मदिन पर भी उसे चर्चिल की फोटोग्राफ उतारने का मौका मिलेगा। चर्चिल ने तुरंत उसकी बात का जवाब देते हुए कहा कि- नौजवान तुम तो अभी युवा हो और घबराओ मत, 20 साल में तुम्हें कुछ नहीं होगा।’

अमित शाह ने उम्र पर की थी टिप्पणी 
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में गृहमंत्री अमित शाह ने जबलपुर में रविवार को एक रैली की थी। इसमें कमलनाथ की उम्र को लेकर टिप्पणी कर दी थी। शाह ने कहा था-कमलनाथ जी कहते हैं कि मध्य प्रदेश में सीएए को लागू नहीं होने देंगे। कमलनाथ जी, ज्यादा जोर से बोलने की आपकी उम्र नहीं है। इस उम्र में अगर ज्यादा तेज बोलेंगे तो सेहत बिगड़ जाएगी। आप बस अपने राज्य की समस्याओं को ठीक करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.