khabar-satta-app
Home देश Tablighi Jamaat :2200 विदेशी जमातियों पर होगी कार्रवाई, 10 साल तक भारत में एंट्री बैन

Tablighi Jamaat :2200 विदेशी जमातियों पर होगी कार्रवाई, 10 साल तक भारत में एंट्री बैन

भारत सरकार ने 2200 विदेशी जमातियों पर 10 साल की पाबंदी लगाने की तैयारी कर रही है. अब ये अगले 10 साल तक भारत नहीं आ सकेंगे. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 47 देशों के इन विदेशी जमातियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया था. ये तबलीगी जमात के मरकज में हुए कार्यक्रम में शामिल थे.

तबलीगी जमात के धार्मिक जलसे में शामिल होने वाले 2200 विदेशी जमातियों पर मोदी सरकार बड़ी कार्रवाई की तैयारी में है. सरकार इन 2200 जमातियों पर 10 साल की पाबंदी लगाने जा रही है. अब ये अगले 10 साल तक भारत नहीं आ सकेंगे. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 47 देशों के इन विदेशी जमातियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया था. ये तबलीगी जमात के मरकज में हुए कार्यक्रम में शामिल थे.

- Advertisement -

बता दें कि सरकार तबलीगी जमात के सदस्यों पर वीजा के मानदंडों का उल्लंघन करने पर नाखुश है. देश में कोरोना वायरस के मामले में बढ़ने के लिए तबलीगी जमात के मरकज को भी जिम्मेदार ठहराया जा रहा है. तबलीगी जमात के विदेशी सदस्यों में इंडोनेशिया के लोग शामिल हैं. इसके अलावा बांग्लादेश, मलेशिया, म्यांमार, सूडान, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका, सऊदी अरब, फिलीपींस, रूस और श्रीलंका जैसे देश के लोग भी हैं

इससे पहले तबलीगी के कार्यक्रम में शामिल होने वाले 960 विदेशी नागरिकों को गृह मंत्रालय ने ब्लैक लिस्ट कर दिया था. इसके साथ ही इन सभी विदेशी नागरिकों के वीजा भी रद्द कर दिए गए थे. क्योंकि सभी टूरिस्ट वीजा पर भारत आए हुए थे. अब इन सभी 2200 विदेशी नागरिकों को ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है.

- Advertisement -

सीबीआई कर रही है जांच

उधर, कोरोना वायरस के चलते सुर्खियों में रहने वाले निजामुद्दीन इलाके में स्थित मरकज की जांच सीबीआई कर रही है. सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय जांच एजेंसी ने दिल्ली की क्राइम ब्रांच से मरकज से संबंधित जानकारी मांगी थी, जो अब उसे मिल गई है. दिल्ली पुलिस की ओर से देश में कोरोना वायरस फैलाने के लिए पहले से ही मरकज के खिलाफ जांच की जा रही है

- Advertisement -

दरअसल, तबलीगी जमात के मरकज का केस मार्च महीने में सामने आया था. यहां पर विदेश से आए लोगों का पता चला था. तेलंगाना से लेकर यूपी तक तमाम राज्यों में कई मस्जिदों से कई विदेशी पकड़े गए थे. इनमें से ज्यादातर टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे. कई राज्यों की सरकार कोरोना का केस बढ़ने के लिए तबलीगी जमात के मरकज को ही जिम्मेदार ठहराई थी.

- Advertisement -

Leave a Reply

Discount Code : ks10

NEWS, JOBS, OFFERS यहां सर्च करें

Shubham Sharmahttps://khabarsatta.com
Editor In Chief : Shubham Sharma

सोशल प्लेटफॉर्म्स में हमसे जुड़े

11,007FansLike
7,044FollowersFollow
795FollowersFollow
4,050SubscribersSubscribe

More Articles Like This

- Advertisement -

Latest News

सिवनी कोरोना न्यूज़: 3 नए मरीज मिले, वहीं 6 स्वस्थ हुए, जिले में कुल 44 एक्टिव केस

सिवनी : सिवनी जिले में 3 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले जिसमें सिवनी नगरीय क्षेत्र की 46 वर्षीय...

तुर्की और ग्रीस में भूकंप की सुनामी, 120 से ज्यादा घायल, भूकंप का वीडियो वायरल

नई दिल्लीः टर्की और ग्रीस में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 7 आंकी जा...

CM योगी का बड़ा हमला, कहा-कठमुल्लों के फतवों से नहीं संविधान से चलेगा देश

लखनऊ: बिहार विधानसभा चुनाव चरम पर है। सभी पार्टियों ने अपने स्टार प्रचारकों को मैदान में उतार दिया है। इस कड़ी में बीजेपी के स्टार...

शिवराज बोले- आप तुलसी को विधायक बनाएं, मंत्री तो मैं बना ही दूंगा

इंदौर: मध्यप्रदेश में 3 नवंबर को होने वाले विधानसभा के उपचुनाव को लेकर दोनों ही पार्टियों ने प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी...

मुंबई से यूपी लौट रहा परिवार सड़क हादसे का शिकार, एक ही परिवार के 12 सदस्य गंभीर घायल

इंदौर: इंदौर के तेजाजी नगर बाईपास पर देर रात एक बड़ा हादसा हो गया। जहां चार पहिया वाहन और ट्रक में भीषण टक्कर हो...