Home » देश » 30 जून को PM MODI करेंगे ‘मन की बात’: पहले की तरह एक बार फिर हर महीने रेडियो पर सुनाई देगी पीएम मोदी के मन की बात

30 जून को PM MODI करेंगे ‘मन की बात’: पहले की तरह एक बार फिर हर महीने रेडियो पर सुनाई देगी पीएम मोदी के मन की बात

By SHUBHAM SHARMA

Published on:

Follow Us
Mann-Ki-Baat
30 जून को PM MODI करेंगे 'मन की बात': पहले की तरह एक बार फिर हर महीने रेडियो पर सुनाई देगी पीएम मोदी के मन की बात

Join WhatsApp

Join Now

Join Telegram

Join Now

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक महत्वपूर्ण घोषणा की कि उनका लोकप्रिय मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ 30 जून को फिर से शुरू होगा। कुछ महीनों के अंतराल के बाद, लोकसभा चुनावों के कारण यह कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया था। पीएम मोदी ने इस अवसर पर जनता से उनके विचार और इनपुट साझा करने का आह्वान किया है।

मन की बात का महत्व

प्रधानमंत्री का यह मासिक रेडियो कार्यक्रम भारतीय समाज के विभिन्न वर्गों से जुड़ने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। इसमें प्रधानमंत्री महत्वपूर्ण राष्ट्रीय विषयों और मुद्दों पर चर्चा करते हैं, जो सीधे आम जनता के जीवन से जुड़े होते हैं। यह कार्यक्रम 3 अक्टूबर 2014 को शुरू किया गया था और तब से यह देशभर में लोकप्रियता प्राप्त कर चुका है।

जनता से इनपुट की अपील

पीएम मोदी ने जनता से MyGov ओपन फोरम, NaMo ऐप, या 1800 11 7800 पर रिकॉर्ड संदेश के माध्यम से अपने विचार और सुझाव साझा करने का अनुरोध किया है। उनका कहना है, “यह साझा करते हुए खुशी हो रही है कि चुनावों के कारण कुछ महीनों के अंतराल के बाद, #MannKiBaat वापस आ गया है! इस महीने का कार्यक्रम रविवार, 30 जून को होगा। मैं आप सभी से इसके लिए अपने विचार और इनपुट साझा करने का आह्वान करता हूं।”

लोकसभा चुनावों के कारण स्थगन

‘मन की बात’ का आखिरी प्रसारण 25 फरवरी को हुआ था। इसके बाद, आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर इसे तीन महीने के लिए रोक दिया गया था। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के 110वें संस्करण में कहा था, “आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर अगले तीन महीनों तक मन की बात का प्रसारण नहीं किया जाएगा।”

2024 के लोकसभा चुनाव

2024 के लोकसभा चुनाव 19 अप्रैल से 1 जून तक सात चरणों में हुए थे। वोटों की गिनती 4 जून को की गई और परिणाम घोषित किए गए, जिसके बाद 18वीं लोकसभा का गठन हुआ।

मन की बात का व्यापक प्रसारण

‘मन की बात’ का प्रसारण 22 भारतीय भाषाओं और 29 बोलियों के अलावा, 11 विदेशी भाषाओं में भी किया जाता है, जिनमें फ्रेंच, चीनी, इंडोनेशियाई, तिब्बती, बर्मी, बलूची, अरबी, पश्तो, फ़ारसी, दारी और स्वाहिली शामिल हैं। यह कार्यक्रम आकाशवाणी के 500 से अधिक प्रसारण केंद्रों द्वारा प्रसारित किया जाता है।

मन की बात का समाज पर प्रभाव

‘मन की बात’ कार्यक्रम के सकारात्मक प्रभाव का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 100 करोड़ से अधिक लोग कम से कम एक बार इस कार्यक्रम से जुड़े हैं। यह कार्यक्रम सीधे लोगों से बात करता है, जमीनी स्तर के परिवर्तनकर्ताओं और लोगों की उपलब्धियों का जश्न मनाता है, और लोगों को सकारात्मक कार्यों के लिए प्रेरित करता है।

प्रधानमंत्री की अपील

पीएम मोदी ने ‘एक्स’ पर पोस्ट कर कहा, “इस महीने का कार्यक्रम रविवार, 30 जून को होगा। मैं आप सभी से इसके लिए अपने विचार और इनपुट साझा करने का आह्वान करता हूं। MyGov ओपन फोरम, NaMo ऐप पर लिखें या 1800 11 7800 पर अपना संदेश रिकॉर्ड करें।”

मन की बात: एक जन आंदोलन

‘मन की बात’ केवल एक रेडियो कार्यक्रम नहीं है, बल्कि यह एक जन आंदोलन बन चुका है। इसके माध्यम से पीएम मोदी ने कई सामाजिक और राष्ट्रीय मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया है और लोगों को जागरूक किया है। इस कार्यक्रम ने समाज के हर वर्ग को शामिल करते हुए एक संवाद का मंच प्रदान किया है।

कार्यक्रम के अद्वितीय पहलू

इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री लोगों की कहानियों और उनकी उपलब्धियों को साझा करते हैं, जो प्रेरणादायक होती हैं। यह कार्यक्रम देश की विविधता और संस्कृति को भी उजागर करता है, जिसमें महिलाओं, बुजुर्गों और युवाओं की भागीदारी शामिल होती है।

आगामी संस्करण के लिए उत्साह

जनता में इस कार्यक्रम को लेकर भारी उत्साह है। आगामी संस्करण के लिए लोगों के विचार और सुझाव प्राप्त करना इस कार्यक्रम को और अधिक प्रभावी बनाएगा।

SHUBHAM SHARMA

Khabar Satta:- Shubham Sharma is an Indian Journalist and Media personality. He is the Director of the Khabar Arena Media & Network Private Limited , an Indian media conglomerate, and founded Khabar Satta News Website in 2017.

Leave a Comment

HOME

WhatsApp

Google News

Shorts

Facebook